NDTV Khabar

लॉर्ड्स में कपिल देव और गांगुली साबित हो चुके हैं लकी, इस बार मिताली कर पाएगी 'राज'?

2005 में भी भारत फाइनल में पहुंचा था लेकिन ऑस्ट्रेलिया से हार गया था. लॉर्ड्स के मैदान पर भारतीय महिला टीम का यह तीसरा एकदिवसीय मैच होगा और पहला वर्ल्ड कप मैच.

294 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
लॉर्ड्स में कपिल देव और गांगुली साबित हो चुके हैं लकी, इस बार मिताली कर पाएगी 'राज'?

महिला क्रिकेट टीम.

खास बातें

  1. लार्ड्स के मैदान पर भारतीय महिला टीम का यह तीसरा एकदिवसीय मैच होगा
  2. पहला एकदिवसीय मैच लॉर्ड्स के मैदान पर 2006 में खेला था
  3. भारत और इंग्लैंड महिला टीम के बीच आखिरी मैच 25 अगस्त 2014 को खेला गया था
नई दिल्ली: रविवार को लॉर्ड्स के क्रिकेट मैदान पर भारत और इंग्लैंड की महिला टीमों के बीच वर्ल्ड कप फाइनल खेला जाएगा. मिताली राज के कप्तानी में भारत ने दूसरी बार महिला वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचने का गौरव हासिल किया है. 2005 में भी भारत फाइनल में पहुंचा था लेकिन ऑस्ट्रेलिया से हार गया था. लॉर्ड्स के मैदान पर भारतीय महिला टीम का यह तीसरा एकदिवसीय मैच होगा और पहला वर्ल्ड कप मैच. भारतीय महिला टीम ने अपना पहला एकदिवसीय मैच लॉर्ड्स के मैदान पर 2006 में खेला था और इंग्लैंड के खिलाफ इस मैच को 100 रन से हार गई थी फिर 2012 में इंग्लैंड को 5 विकेट से हराया था. लॉर्ड्स के मैदान पर भारत और इंग्लैंड महिला टीम के बीच आखिरी मैच 25 अगस्त 2014 को खेला गया था लेकिन बारिश की वजह से यह मैच रद्द हो गया था.

कपिल देव की कप्तानी में लॉर्ड्स में भारत जीता था वर्ल्ड कप : लॉर्ड्स के मैदान पर भारतीय महिला टीम ने कोई फाइनल मैच नहीं खेला है, लेकिन पुरुष टीम ने इस मैदान पर दो फाइनल मैच खेला है और दोनों मैच जीतने में कामयाब हुई है. कुल मिलाकर भारतीय पुरुष टीम ने इस मैदान पर सात मैच खेले हैं जिसमें से चार मैच जीतने कामयाब हुई है, दो मैच हारी है और एक मैच टाई हो गया था. इन सात मैचों में से दो मैच फाइनल रहा है और दोनों मैच भारत जीता. कपिल देव की कप्तानी में भारत ने इसी मैदान पर 1983 का वर्ल्ड कप जीता था. 1983 वर्ल्ड कप फाइनल से पहले भारत ने इस मैदान पर सिर्फ एक मैच खेला था और हार गया था. 7 जुलाई 1975 को खेले गए वर्ल्ड कप के लीग मैच में इंग्लैंड ने भारत को 202 रन से हराया था. इंग्लैंड के 334 रन के जवाब में भारत ने 60 ओवर खेलते हुए 3 विकेट पर सिर्फ 132 बनाए थे. भारत की तरफ से सलामी बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने 174 गेंदों का सामना करते हुए सिर्फ 36 रन पर बनाए और नॉट आउट रहे. 

1983 के वर्ल्ड कप के फाइनल से पहले किसी को यह उम्मीद नहीं थी कि भारत, वेस्टइंडीज जैसी दो बार की चैंपियन रही टीम को हराकर वर्ल्ड कप जीतने का गौरव हासिल करेगा लेकिन लॉर्ड्स में भारत ने यह कर दिखाया था.  वेस्टइंडीज को 43 रन से हराकर भारत ने इतिहास रचा था. पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने 54.4 ओवरों में सिर्फ 183 रन पर ऑल आउट हो गया था. जब यह उम्मीद की जा रही थी कि वेस्टइंडीज इस मैच को आराम से जीत जायेगा तब भारत के गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी करते हुए वेस्टइंडीज को सिर्फ 140 पर ऑलआउट कर दिए थे. इस जीत के साथ भारत ने पहली वार वर्ल्ड कप जीतने का गौरव हासिल किया था.

सौरभ गांगुली की कप्तानी में भारत जीता था नेटवेस्ट सीरीज फाइनल : फिर 2002 में नेटवेस्ट सीरीज के तहत भारत को दोबारा लॉर्ड्स के मैदान पर फाइनल मैच खेलने का मौक़ा मिला था. यह मैच इंग्लैंड के खिलाफ था. पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड ने 325 रन बनाए थे. 326 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत के सलामी बल्लेबाज सौरभ गांगुली और वीरेंद्र सहवाग के बीच 106 रन की साझेदारी हुई लेकिन कप्तान गांगुली के आउट हो जाने के बाद भारत ने 146 रन पर पांच विकेट गवां दिए थे.  भारत के लिए युवराज सिंह और मोहम्मद कैफ हीरो साबित हुए थे. दोनों के बीच छठे विकेट के लिए 121 रन की साझेदारी हुई. 49.3 ओवरों में भारत विजय लक्ष्य पर पहुँच गया. युवराज सिंह ने 69 रन बनाये थे जबकि कैफ ने 87 रन की नाबाद पारी खेली थी.

  हरमनप्रीत की तूफानी पारी को सोशल मीडिया पर दिग्गजों का सलाम

अगर भारत वर्ल्ड कप जीत जाता है तो बनेगा यह खास रिकॉर्ड : अब 34 साल के बाद भारत के पास एक मौक़ा है. जो काम 1983 में पुरुष टीम ने किया था अब वह काम महिला टीम को करना है. लॉर्ड्स के मैदान पर दोबारा वर्ल्ड कप जीतना है. अगर भारतीय महिला टीम कल इंग्लैंड हराकर वर्ल्ड कप जीत जाती है तो लॉर्ड्स के मैदान पर एक नया रिकॉर्ड कायम होगा. यह पहली बार होगा जब एक ही देश की पुरुष और महिला टीम इस मैदान वर्ल्ड कप जीतने का गौरव हासिल करेगी जो आज तक नहीं हुआ है. लॉर्ड्स के मैदान पर वेस्टइंडीज की पुरुष टीम ने दो बार वर्ल्ड कप जीता है लेकिन महिला टीम नहीं जीत पाई है. ऑस्ट्रेलिया की पुरुष टीम ने कुल मिलाकर पांच बार वर्ल्ड कप जीता है जिस में से एक बार लॉर्ड्स के मैदान पर भी जीता है. ऑस्ट्रेलिया की महिला टीम ने छह बार तो वर्ल्ड कप जीता है लेकिन लॉर्ड्स के मैदान पर वर्ल्ड कप नहीं जीत पाया है.  

 वीडियो : महिला क्रिकेटमें टीम इंडिया का शानदार प्रदर्शन जारी


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement