NDTV Khabar

कप्‍तान विराट कोहली के इन गुणों के कायल हुए 'चाइनामैन' गेंदबाज कुलदीप यादव

कुलदीप यादव ने कहा,‘विराट आपको वह सब देते हैं जो आप मैदान पर चाहते हैं. जब मैं गेंदबाजी करता हूं तो वह आकर मुझसे पूछते हैं कि तुम्हे कैसी फील्ड चाहिए. गेंदबाज को यही चाहिए होता है.

104 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कप्‍तान विराट कोहली के इन गुणों के कायल हुए 'चाइनामैन' गेंदबाज कुलदीप यादव

कुलदीप यादव को सीरीज के पहले दो देस्‍ट में खेलने का मौका नहीं मिला था (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, वह आकर मुझसे पूछते हैं, तुम्‍हें कैसी फील्‍ड चाहिए
  2. मैदान पर कोहली की प्रतिभा दूसरों के लिए प्रेरणास्रोत है
  3. जब फील्डिंग भी करते हैं तो पूरे समर्पण भाव से करते हैं
कोलंबो: टीम इंडिया के श्रीलंका दौरे में चाइनामैन कुलदीप यादव को टेस्‍ट सीरीज के पहले दो टेस्‍ट में खेलने का मौका नहीं मिला. खराब व्‍यवहार के कारण लेग स्पिनर रवींद्र जडेजा पर लगे एक मैच के बैन के कारण उन्‍हें तीसरे टेस्‍ट में खेलने का अवसर मिला. इस मौके का यूपी का इस युवा गेंदबाज ने भरपूर लाभ उठाया. वनडे सीरीज के दो मैचों और एकमात्र टी20 मैच में भी कुलदीप अपनी गेंदबाजी से हर किसी को प्रभावित करने में सफल रहे. बेहद कम समय में कुलदीप, कप्‍तान विराट कोहली का भरोसा हासिल करते जा रहे हैं. कुलदीप भी कोहली की कप्‍तानी के कायल हैं. विराट को करिश्माई कप्तान बताते हुए उन्‍होंने कहा है कि वे (कोहली )गेंदबाजों को काफी सहयोग और आजादी देते हैं. भारत ने श्रीलंका को कल एक टी20 मैच में आसानी से हराया. इससे पहले टेस्ट और वनडे सीरीज क्रमश: 3-0 और 5-0 से जीती थी.

यह भी पढ़ें : कुलदीप यादव ने बताया, यह है उनकी गेंदबाजी की खासियत

यादव ने कहा,‘विराट आपको वह सब देते हैं जो आप मैदान पर चाहते हैं. जब मैं गेंदबाजी करता हूं तो वह आकर मुझसे पूछते हैं कि तुम्‍हें कैसी फील्ड चाहिए. गेंदबाज को यही चाहिए होता है. वे गेंदबाज को पूरी आजादी देते हैं.’ उन्होंने कहा,‘उन्होंने टेस्ट वनडे सीरीज और अब टी20 में मेरा पूरा साथ दिया. मैं इस तरह की टीम एकता और कप्तान से बहुत खुश हूं.’ उन्होंने कहा कि मैदान पर कोहली की प्रतिबद्धता दूसरों के लिये प्रेरणास्रोत है.

वीडियो: टीम इंडिया ने टी20 मैच भी जीता

कुलदीप ने कहा,‘वह बल्लेबाजी और फील्डिंग दोनों में मोर्चे से अगुवाई करते हैं. जब फील्डिंग करते हैं तो जान लगा देते हैं. मैदान पर या नेटपर उनको देखने से ही प्रेरणा मिलती है.’ यादव ने कहा,‘उनको देखकर अगर हम अपनी फील्डिंग में एक प्रतिशत भी सुधार कर सके तो बहुत होगा. वह युवा खिलाड़ियों को बताते हैं कि उनसे क्या चाहिए और हम टीम से क्या चाहते हैं.’ यादव को इस दौरे पर कुछ मौके मिले और उन्होंने अपने प्रदर्शन पर संतोष जताया. उन्होंने कहा,‘अभी तक यह मेरे लिए चुनौतीपूर्ण रहा है लेकिन मैं अपने प्रदर्शन से खुश हूं. मुझे आखिरी टेस्ट मैच में मौका मिला और आखिरी दो वनडे भी खेले. टी20 में भी प्रदर्शन अच्छा रहा.’उन्होंने कहा,‘एक खिलाड़ी के तौर पर आपको हर मैच में अच्छा प्रदर्शन करना होता है. हर कोई अपना योगदान देना चाहता है खासकर तब जबकि कप्तान और कोच रोटेशन का फैसला लेते हैं. मैं इस नीति से खुश हूं क्योंकि वर्ल्‍डकप से पहले वे सभी को आजमाना चाहते हैं.’ (इनपुट: भाषा)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement