NDTV Khabar

जो कमाल कुंबले, हरभजन और सचिन नहीं कर पाए वह कुलदीप और चहल ने कर दिया

दक्षिण अफ्रीका के मैदान पर अनिल कुंबले, हरभजन सिंह और रविचंद्रन अश्विन जैसे महान स्पिन गेंदबाज़ फेल हो चुके हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जो कमाल कुंबले, हरभजन और सचिन नहीं कर पाए वह कुलदीप और चहल ने कर दिया

युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

दक्षिण अफ्रीका की तेज पिच पर स्पिन गेंदबाज़ों को बहुत कम सफलता मिलती है. रिकॉर्ड ही बताता है कि दोनों टीमों के बीच द्वि‍पक्षीय एकदिवसीय सीरीज के तहत भारत के स्पिन गेंदबाज़ों को दक्षिण अफ्रीका के मैदान पर कुछ खास सफलता नहीं मिली है. लेकिन इस बार कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल ने सबको गलत साबित करते हुए छह मैचों में दक्षिण अफ्रीका के कुल मिलाकर गिरे 53 विकेट में से 33 विकेट अपने नाम किया. भारत के एकदिवसीय इतिहास में यह पहली बार हुआ है जब टीम इंडिया के स्पिन गेंदबाज़ों ने दक्षिण अफ्रीका के मैदान पर एक ही सीरीज में इतने विकेट लिए हैं. कुलदीप और चहल की गेंदबाज़ी के सामने दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज बेबस नज़र आ रह थे. अपने ही मैदान पर हताश और निराश होकर पवेलियन लौट रहे थे. इन दोनों की शानदार गेंदबाज़ी के बदौलत टीम इंडिया दक्षिण अफ्रीका को छह में से चार बार ऑल आउट करने में कामयाब हुई.

INDvsSA: बल्‍लेबाजी में विराट कोहली और गेंदबाजी में कुलदीप यादव ने मचाया 'धमाल'


13 स्पिन गेंदबाज़ों कुल मिलाकर जीतने विकेट लिए उससे ज्यादा कुलदीप और चहल ने लिए
1992 से लेकर 2013 के बीच द्विपक्षीय एकदिवसीय सीरीज खेलने के लिए टीम इंडिया ने चार बार दक्षिण अफ्रीका का दौरा किया था. इन चार सीरीज में भारत के स्पिन गेंदबाज़ कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाए थे. सबसे बड़ी बात यह थी कि दक्षिण अफ्रीका के मैदान पर टीम इंडिया एक भी एकदिवसीय सीरीज जीतने में कामयाब नहीं हो पाई थी. लेकिन सबसे हैरानी की बात यह है कि दक्षिण अफ्रीका के मैदान पर 1992 और 2013 के बीच खेले गए चार एकदिवसीय सीरीज में टीम इंडिया के स्पिन गेंदबाज़ों ने कुल-मिलाकर जि‍तने विकेट लिए हैं उसे ज्यादा विकेट कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल ने एक सीरीज ले लिए हैं. द्विपक्षीय सीरीज के तहत 1992 से लेकर 2013 के बीच टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका के मैदान पर 20 एकदिवसीय मैच खेले हैं. इन 20 मैचों में भारत की तरफ से कुल मिलाकर 13 स्पिन गेंदबाज़ों ने 396 ओवर गेंदबाज़ी की है और सिर्फ 30 विकेट लेने में कामयाब हुए हैं, यानी एक विकेट लेने के लिए 79 गेंदों का सहारा लिया है. अगर कुलदीप यादव और चहल की बात की जाए तो इन दोनों गेंदबाज़ों ने इस सीरीज में कुल मिलाकर 103.1 ओवर गेंदबाज़ी करते हुए 35 विकेट लिए हैं यानी एक विकेट लेने के लिए सिर्फ 17 गेंदों का सहारा लिया है. इससे अंदाज़ा लगाया जा सकता है दोनों ने कितनी शानदार गेंदबाज़ी की है.

IND VS SA 6TH ODI: इस बड़ी वजह से हुआ दक्षिण अफ्रीका का सीरीज में बुरा हाल, भारतीयों का 'ऐतिहासिक कारनामा'

कुंबले, हरभजन और अश्विन जैसे गेंदबाज़ हो चुके हैं फेल
दक्षिण अफ्रीका के मैदान पर अनिल कुंबले, हरभजन सिंह और रविचंद्रन अश्विन जैसे महान स्पिन गेंदबाज़ फेल हो चुके हैं. अनिल कुंबले ने 1992 और 2006 में दक्षिण अफ्रीका का दौरा किया था और इन दोनों सीरीज में कुल मिलाकर 90 ओवर गेंदबाज़ी करते हुए सिर्फ सात विकेट लेने में कामयाब हुए हैं, यानी एक विकेट लेने के लिए कुंबले को 77 गेंदों का सहारा लेना पड़ा है. दक्षिण अफ्रीका के मैदान पर हरभजन सिंह का प्रदर्शन ज्यादा ख़राब रहा है. हरभजन सिंह ने 2006 और 2011 में दक्षिण अफ्रिका का दौरा किया था और कुल-मिलाकर 75 ओवर गेंदबाज़ी करते हुए सिर्फ पांच विकेट लिए थे यानी एक विकेट लेने के लिए उन्‍होंने 90 गेंदों की सहारा लिया है. सचिन तेंदुलकर को भी दक्षिण अफ्रीका के मैदानों पर काफी गेंदबाज़ी करने का मौका मिला है. सचिन ने 1992 और 2006 में दक्षिण अफ्रीका का दौरा किया था और कुल मिलाकर 44 ओवर गेंदबाज़ी करते हुए सिर्फ दो विकेट लिए. अगर रविचंद्रन अश्विन की बात की जाए ता अश्विन ने दक्षिण अफ्रीका के मैदान पर 28 ओवर गेंदबाज़ी करते हुए सिर्फ एक विकेट लिया है. दक्षिण अफ्रीका के मैदान पर वेंकटपति राजू 20 ओवर गेंदबाज़ी करते हुए तीन विकेट लेने में कामयाब रहे हैं यानी एक विकेट लेने के लिए राजू ने 40 गेंदों का सहारा लिया है.

IND VS SA 6TH ODI: कुलदीप यादव चूके, लेकिन विराट कोहली ने रच डाला इतिहास

रोहित शर्मा, युवराज सिंह और यूसुफ पठान ने की ऐसी गेंदबाज़ी
रोहित शर्मा, युवराज सिंह, यूसुफ पठान, रविंद्र जडेजा और सुरेश रैना जैसे पार्ट टाइम स्पिन गेंदबाज़ भी दक्षिण अफ्रीका के मैदानों पर गेंदबाज़ी में अपनी किस्मत आजमा चुके हैं. युवराज सिंह ने छह मैचों में कुल मिलाकर 29 ओवर गेंदबाज़ी करते हुए पांच विकेट लिए हैं, यानी एक विकेट लेने के लिए युवराज ने 34 गेंदों का सहारा लिया है. रोहित शर्मा ने सात ओवर गेंदबाज़ी करते हुए 2 विकेट लिए हैं जबकि यूसुफ पठान ने 12 ओवर गेंदबाज़ी करते हुए एक विकेट लिया है. सुरेश रैना ने भी 27 ओवर गेंदबाजी कर एक विकेट लिया है. वहीं रविंद्र जडेजा ने 24 ओवर गेंदबाजी की है और वह भी केवल एक विकेट ही ले पाए हैं. मौजूदा टीम के कोच रवि शास्त्री भी दक्षिण अफ्रीका के मैदान पर विकेट लेने में विफल हुए हैं. शास्त्री ने 28 ओवर गेंदबाज़ी करते हुए सिर्फ दो विकेट लिए हैं.

टिप्पणियां

IND vs SA:टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर ने कहा, 'कुलदीप-चहल को मिले आधे विकेटों को श्रेय एमएस धोनी को जाता है'

 VIDEO: निडर गेंदबाज हैं कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल : सुनील गावस्‍कर



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement