NDTV Khabar

क्रिकेटर लसिथ मलिंगा के 'अच्छे दिनों' पर ग्रहण, अब घिर गए इस परेशानी में, रिकॉर्ड के लिए बढ़ा इंतजार...

श्रीलंका के स्लिंगी एक्शन वाले यॉर्कर किंग लसिथ मलिंगा का फॉर्म पिछले कुछ समय से अच्छा नहीं रहा है. साथ ही वह विवादों में भी रहे हैं...

194 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
क्रिकेटर लसिथ मलिंगा के 'अच्छे दिनों' पर ग्रहण, अब घिर गए इस परेशानी में, रिकॉर्ड के लिए बढ़ा इंतजार...

लसिथ मलिंगा श्रीलंका के मुख्य तेज गेंदबाज हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. लसिथ मलिंगा वनडे में 300 विकेटों के करीब हैं
  2. इस रिकॉर्ड के लिए उनको पांच विकेट और चाहिए
  3. मलिंगा ने खेलमंत्री की तुलना 'बंदर' से कर दी थी
गॉल: श्रीलंका के स्लिंगी एक्शन वाले यॉर्कर किंग लसिथ मलिंगा का फॉर्म पिछले कुछ समय से अच्छा नहीं रहा है. यहां तक कि आईपीएल में भी वह उतने प्रभावी नहीं रहे थे. फिर चैंपियंस ट्रॉफी में श्रीलंकाई टीम बाहर हो गई और मलिंगा उसमें खास योगदान नहीं दे सके. इसके बाद खेलमंत्री ने टीम की खिंचाई कर दी, जिससे मलिंगा भड़क गए और उन पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी. बस फिर क्या था मलिंगा को यह महंगा पड़ गया. अब उनके लिए कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है. पहले उन पर एक साल का प्रतिबंध लग गया, जो छह माह के लिए निलंबित है और इस अवधि में उनसे फिर यह गलती होने पर प्रतिबंध लागू हो जाएगा. हालांकि उनको जिम्बाब्वे के खिलाफ खेलने का मौका मिल गया. अब सीरीज के दूसरे वनडे से पहले उनको नई परेशानी ने घेर लिया है और उनको वनडे में 300 विकेट पूरे करने के लिए इंतजार करना होगा...

आलोचनाओं से घिरी श्रीलंकाई टीम को पहले वनडे मैच में जिम्बाब्वे जैसी बेहद कमजोर टीम के हाथों बुरी हार झेलनी पड़ी. मलिंगा के नेतृत्व में श्रीलंकाई गेंदबाज 300 से अधिक का भी लक्ष्य नही बचा पाए. अब रविवार को होने वाले दूसरे वनडे से पहले टीम को एक बड़ा झटका लगा है. लसिथ मलिंगा बीमारी के कारण दूसरे मैच में नहीं खेलेंगे. ऐसे में मलिंगा को वनडे में 300 विकेट का आंकड़ा छूने के लिए अगले मैच के लिए इंतजार करना पड़ेगा.

मलिंगा वनडे में 300 विकेट लेने से पांच विकेट दूर हैं. अगर वह ऐसा कर पाते हैं तो वह मुथैया मुरलीधरन, चमिंडा वास और सनथ जयसूर्या के बाद इस मुकाम को हासिल करने वाले श्रीलंका के चौथे गेंदबाज बन जाएंगे.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मलिंगा को वायरल बुखार है और डॉक्टरों ने उन्हें 48 घंटे आराम करने की सलाह दी है.

श्रीलंका क्रिकेट ने एक बयान जारी करते हुए बताया है कि इसी बीमारी के कारण बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज लक्षण संदकाना पहले मैच में नहीं खेल पाए थे जिसमें श्रीलंका को जिम्बाब्वे के हाथों छह विकेट से मात खानी पड़ी थी और अब मलिंगा इसका शिकार हो गए हैं. इससे टीम चिंतित है.

मलिंगा ने खेलमंत्री के बारे में यह कहा था...
उल्लेखनीय है कि कमेटी ने जांच में पाया कि मलिंगा ने 19 जून और उसके बाद 21 जून को दो बार करार के नियम का उल्लंघन किया, जिसके चलते बोर्ड को उनके खिलाफ जांच बिठानी पड़ी.  मीडिया में आई रिपोर्टों के अनुसार, खेलमंत्री जयशेखरा ने चैंपियंस ट्रॉफी में श्रीलंका टीम के प्रदर्शन पर कठोर टिप्पणी की थी, जिस पर प्रतिक्रिया देते हुए 33 वर्षीय मलिंगा ने कहा था कि उन्हें ऐसे लोगों की आलोचनाओं से कोई फर्क नहीं पड़ता जो केवल बैठकर अपनी कुर्सियां गर्म कर रहे हैं.

उन्‍होंने कहा था, 'एक बंदर को तोते के घोंसले के बारे में क्या पता होगा? ऐसा लग रहा है कि एक बंदर तोते के घोंसले में ही बैठकर उसी घोंसले के बारे में बोल रहा हो."

गौरतलब है कि श्रीलंका के चैंपियंस ट्रॉफी से जल्दी बाहर होने के बाद जयशेखरा ने खिलाड़ियों के फिटनेस स्तर पर सवाल उठाए थे और कहा था कि भविष्य का चयन क्रिकेटरों की फिटनेस पर निर्भर करेगा. गौरतलब है कि श्रीलंका का क्षेत्ररक्षण अच्छा नहीं रहा था और उसके खिलाड़ियों ने कई कैच टपकाये थे. इसके बाद मलिंगा ने खेलमंत्री के क्रिकेट ज्ञान का खुलेआम मजाक उड़ाया था और कहा था कि कैच तो किसी भी मैच में छूट सकते हैं.
(इनपुट एजेंसी से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement