Budget
Hindi news home page

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वेस्ट इंडीज के सामने साख बचाने की चुनौती

ईमेल करें
टिप्पणियां
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वेस्ट इंडीज के सामने साख बचाने की चुनौती

वेस्ट इंडीज के कप्तान जैसन होल्डर की फाइल तस्वीर

नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया और वेस्ट इंडीज के बीच टेस्ट सीरीज का आख़िरी टेस्ट सिडनी में रविवार से खेला जाएगा। वेस्ट इंडीज की टीम पहले ही 3 टेस्ट की सीरीज में दो टेस्ट हारकर सीरीज गंवा चुकी है। ऑस्ट्रेलिया ने दोनों टेस्ट में वेस्ट इंडीज को खेल के हर विभाग में मात दी है। होबार्ट में खेले गए पहले टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने वेस्ट इंडीज को 212 रन से हराया तो दूसरे टेस्ट में 177 रन से जीत हासिल की।

वेस्ट इंडीज को अगर सिडनी में वापसी करनी है, तो टीम के खिलाड़ियों को कुछ खास करना होगा। डैरेन ब्रावो जैसे कुछ खिलाड़ियों ने जरूरत पड़ने पर लड़ने का माद्दा दिखाया है। ब्रावो ने होबार्ट में 108 और मेलबर्न में 81 रन की संघर्षपूर्ण पारी खेली।

वहीं ऑस्ट्रेलिया ने सिडनी में दो स्पिनरों के साथ मैदान में उतरने का ऐलान कर दिया है। साल 2006 के बाद ये पहला मौक़ा होगा, जब टीम दो स्पिनरों के साथ मैदान में उतरेगी। कप्तान स्टीवन स्मिथ ने कहा, 'नैथन लॉयन और स्टीव ओ कीफ़ के साथ मैदान पर उतरेगी। तेज़ गेंदबाज़ पीटर सिड्ल के घुटने में चोट है और उन्हें आराम दिया जा रहा है। ऑस्ट्रेलियाई टीम को श्रीलंका में सीरीज़ खेलनी है, ऐसे में टीम के स्पिनरों को आजमाना का अच्छा मौका है।'

अगर आईसीसी टेस्ट रैंकिंग की बात करे तो ऑस्ट्रेलिया के पास नंबर दो पॉजिशन हासिल करने का मौका है। कंगारू टीम अगर 3-0 से सीरीज जीतती है, तो वो टेस्ट में भारत को पीछे छोड़ कर नंबर दो पर पहुंच जाएगी।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement