NDTV Khabar

NIDAHAS TROPHY: रोहित शर्मा इस कारण भारतीय टीम को खिताब का प्रबल दावेदार नहीं मान रहे...

श्रीलंका में प्रारंभ होने वाली निधास ट्रॉफी त्रिकोणीय टी20 सीरीज में विराट कोहली, एमएस धोनी, भुवनेश्‍वर कुमार और जसप्रीत बुमराह जैसे स्‍टार प्‍लेयर की गैरमौजूदगी के बावजूद भारतीय टीम को खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा है.लेकिन कप्तान रोहित शर्मा ने इसे ज्यादा तवज्जो नहीं दी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
NIDAHAS TROPHY: रोहित शर्मा इस कारण भारतीय टीम को खिताब का प्रबल दावेदार नहीं मान रहे...

रोहित शर्मा का मानना है कि टी20 में एक ओवर में ही मैच का पासा पलट सकता है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, टी20 क्रिकेट में किसी दिन कोई भी टीम जीत सकती है
  2. एक ओवर में ही पलट सकती है किसी मैच की बाजी
  3. कोहली की अनुपस्थिति में कर रहे हैं भारतीय टीम की कप्‍तानी
कोलंबो: श्रीलंका में प्रारंभ होने वाली निधास ट्रॉफी त्रिकोणीय टी20 सीरीज में विराट कोहली, एमएस धोनी, भुवनेश्‍वर कुमार और जसप्रीत बुमराह जैसे स्‍टार प्‍लेयर की गैरमौजूदगी के बावजूद भारतीय टीम को खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा है.लेकिन कप्तान रोहित शर्मा ने इसे ज्यादा तवज्जो नहीं दी और कहा कि टी20 प्रारूप में कुछ भी हो सकता है. रोहित ने श्रीलंका के खिलाफ होने वाले मैच से पहले कहा, ‘हम दावेदार हैं या नहीं मैं इस बारे में नहीं सोच रहा हूं.’विराट कोहली की अनुपस्थिति में टीम की अगुवाई कर रहे रोहित ने कहा, ‘टी20 इस तरह का प्रारूप है कि किसी दिन कोई भी टीम जीत सकती है. मैच का पासा एक ओवर में पलट सकता है. यह आपके हाथ से निकल सकता है. किसी भी दिन कोई भी टीम किसी अन्य टीम को हरा सकती है. मैं इसे कैसे समझाऊं.’ उन्होंने कहा, ‘यह इंग्लिश प्रीमियर लीग( ईपीएल) की तरह है. कुछ टीमें मजबूत हो सकती है लेकिन टी20 क्रिकेट का स्‍वरूप ही कुछ ऐसा है कि कोई भी टीम किसी दिन जीत सकती है.’गौरतलब है कि भारत ने कोहली के अलावा महेंद्र सिंह धोनी, हार्दिक पंड्या, भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह जैसे प्रमुख खिलाड़ियों को विश्राम दिया है.रोहित से जब दूसरे स्तर की टीम की अगुवाई करने के बारे में पूछा गया, उन्होंने कहा, ‘मैं इसे इस तरह से नहीं देखता कि मेरे पास पूर्णकालिक टीम नहीं है. मैं बहुत भाग्यशाली हूं कि मुझे टीम का नेतृत्व करने का मौका मिला है.’

टिप्पणियां
वीडियो: गावस्‍कर ने चहल और कुलदीप को बताया निडर गेंदबाज
उन्होंने कहा, ‘आजकल जैसा कार्यक्रम है और जितनी क्रिकेट खेली जा रही है तो खिलाड़ियों को पर्याप्त विश्राम देना जरूरी है. जब मुझे कप्तानी निभाने के लिये कहा गया, मैंने उसे सम्मान की तरह लिया.’  (इनपुट: एजेंसी)

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement