NDTV Khabar

INDvsAUS : धोनी के मैदान पर स्टीव स्मिथ ने जड़ा 19वां शतक, मैक्सवेल की भी शानदार पारी, चोटिल विराट मैदान पर नहीं लौटे

94 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
INDvsAUS : धोनी के मैदान पर स्टीव स्मिथ ने जड़ा 19वां शतक, मैक्सवेल की भी शानदार पारी, चोटिल विराट मैदान पर नहीं लौटे

India vs Australia : कप्तान स्टीव स्मिथ ने सीरीज में अपना दूसरा शतक जड़ा

खास बातें

  1. पहले सत्र में टीम इंडिया ने झटके कंगारुओं के 3 विकेट
  2. दूसरे सत्र में टीम इंडिया को मिला महज एक विकेट
  3. अंतिम सत्र में स्मिथ का शतक, इंडिया विकेट को तरसी
रांची: भारत और ऑस्‍ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच 4 टेस्‍ट मैचों की सीरीज का रोमांच अपने चरम पर है. सीरीज 1-1 की बराबरी पर है. पूर्व कप्तान एमएस धोनी के होम ग्राउंड रांची में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच के पहले दिन ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया पर दबाव बना लिया. हालांकि पहले सत्र में टीम इंडिया हावी रही, जबकि अंतिम दो सत्र में कंगारुओं ने स्थिति मजबूत कर ली. दूसरी ओर टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली अपना कंधा चोटिल करवा बैठे और फिर फील्डिंग करने नहीं लौटे. कप्तान स्टीव स्मिथ (Steven Smith) के शतक और ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) की फिफ्टी से ऑस्ट्रेलिया ने दिन का खेल खत्म होने तक चार विकेट पर 299 रन बना लिए. स्मिथ 117 रन (244 गेंद, 13 चौके) और मैक्सवेल 82 रन (147 गेंद, 5 चौके, 2 छक्के) पर नाबाद लौटे.

जेएससीए स्टेडियम में खेले जा रहे इस मैच में टॉस ऑस्ट्रेलिया ने जीता और पहले बैटिंग का फैसला किया. उसके लिए यह ऐतिहासिक 800वां टेस्ट मैच भी है. स्टीव स्मिथ के लिए यह दौरा शानदार रहा है और उन्होंने करियर का 19वां शतक जड़ दिया. अपने 76 रन पूरे करते ही स्मिथ ने करियर में 5000 रन भी पूरे कर लिए. सबसे तेजी से यह उपलब्धि हासिल करने वाले वह सातवें बल्लेबाज बन गए हैं. मैक्सवेल ने रवींद्र जडेजा को छक्का लगाकर करियर की पहली फिफ्टी बनाई. इससे पहले खेले तीन मैचों में उनका बेस्ट स्कोर 37 रन था.

ऑस्ट्रेलिया का विकेट पतन : 1/50 (डेविड वॉर्नर- 19), 2/80 (मैट रेनशॉ- 44), 3/89 (शॉन मार्श- 2), 4/140 (पीटर हैंड्सकॉम्ब- 19)

टीम इंडिया को लंच से पहले बड़ा झटका लगा, जब कप्तान विराट कोहली (Virat kohli) चोटिल हो गए. फील्डिंग के दौरान उनके कंधे में चोट लगी और वह ड्रेसिंग रूम में लौट गए. उनकी जगह अजिंक्य रहाणे ने कप्तानी संभाली. पिछले दो मैचों में खराब कैचिंग के कारण आलोचना का शिकार रही टीम इंडिया ने दो शानदार कैच पकड़े. रवीद्र जडेजा ने डेविड वॉर्नर को अपनी ही गेंद पर लपका, तो चेतेश्वर पुजारा ने आर अश्विन की गेंद पर शॉन मार्श का ग्रेट कैच पकड़ा.

डेडबॉल पर साहा ने की कैच की अपील, लोटपोट हुए अंपायर
अंतिम सत्र में 80वें ओवर में उस समय अजीब स्थिति उत्पन्न हो गई, जब रवींद्र जडेजा की एक गेंद को स्टीव स्मिथ अपने पैड पर खेल बैठे और गेंद उनके दोनों पैरों के बीच में फंस गई. इतने में विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा स्मिथ के पैरों के बीच से गेंद निकालने की कोशिश करने लगे और साहा स्मिथ पर गिर पड़े. इस बीच साहा ने गेंद पकड़कर कैच की अपील भी कर डाली. इस पर अंपायर इयान गुल्ड भी हंसने को मजबूर हो गए. हालांकि यह डेडबॉल थी और स्मिथ को आउट नहीं दिया जा सकता था. बाद में रीप्ले से यह भी पता चला कि गेंद बैट में भी नहीं लगी थी.
पहले दिन के खेल का पूरा अपडेट

अंतिम सत्र : ऑस्ट्रेलिया पूरी तरह रहा हावी

ऑस्ट्रेलिया ने चायकाल के बाद चार विकेट पर 194 रन से आगे खेलना शुरू किया. स्टीव स्मिथ और मैक्सवेल ने जमकर बल्लेबाजी की और अंतिम सत्र के पहले घंटे तक कोई विकेट नहीं गिरने दिया. इस बीच ग्लेन मैक्सवेल ने 74वें ओवर में रवींद्र जडेजा को मिडविकेट के ऊपर से छक्का लगाकर अपनी पहली टेस्ट फिफ्टी पूरी की. इसके लिए उन्होंने 95 गेंदें खेलीं और दो चौके व एक छक्का जड़ा. दोनों के बीच शतकीय साझेदारी हो चुकी है. पारी के 83वें ओवर में मुरली विजय की गेंद पर चौका लगाकर स्मिथ ने करियर का 19वां शतक पूरा किया. इसके लिए उन्होंने 227 गेदें खेलीं और 11 चौके लगाए. दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया ने चार विकेट पर 299 रन बना लिए. कप्तान स्टीव स्मिथ 117 रन और ग्लेन मैक्सवेल 82 रन पर नाबाद रहे. दोनों के बीच 159 रनों की साझेदारी हो चुकी है.

चायकाल से पहले : चोटिल हुए विराट, मिला एक विकेट
लंच के बाद टीम इंडिया को बड़ा झटका लगा, क्योंकि कप्तान विराट कोहली चोटिल हो गए. बात 40वें ओवर की है, जब पीटर हैंड्सकॉम्ब ने रवींद्र जडेजा की गेंद को मिड-ऑन की ओर खेल दिया और विराट ने उसका पीछा करना शुरू कर दिया. अंत में उन्हें गेंद को रोकने के लिए डाइव लगानी पड़ी. इस दौरान वह संतुलन खो बैठे और दाएं कंधे के बल जमीन से जा टकराए. इसके बाद कोहली चोटिल कंधे के बल ही बैठे रहे. इस दौरान भारतीय टीम के फिजियो दौड़कर पहुंचे. उन्होंने कोहली को मैदान से बाहर जाने की सलाह दी, ताकि इलाज किया जा सके. फिलहाल वह ड्रेसिंग रूम में ही हैं.
 
लंच के बाद ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पारी को 3 विकेट पर 109 रन से आगे बढ़ाया. कप्तान स्टीव स्मिथ ने भारतीय गेंदबाजों का बखूबी सामना किया और पीटर हैंड्सकॉम्ब के साथ 51 रन जोड़े. इस बीच उन्होंने 104 गेंदों में टेस्ट करियर की 21वीं फिफ्टी पूरी की, लेकिन तभी 140 के स्कोर पर हैंड्सकॉम्ब (14) चकमा खा गए और उमेश यादव की फुल लेंथ वाली लेट-स्विंगिंग यॉर्कर पर पगबाधा हो गए. इसके बाद स्मिथ ने न केवल करियर में 5000 रन पूरे किए, बल्कि ग्लेन मैक्सवेल के साथ चायकाल तक 54 रनों की साझेदारी भी कर ली. चाय तक कंगारुओं ने 4 विकेट पर 194 रन बना लिए. स्मिथ 80 रन और मैक्सवेल 19 रन पर नाबाद रहे.

लंच से पहले : सातवें ओवर में ही उतार दिया स्पिनर, जडेजा ने वॉर्नर को लौटाया
ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतने का फायदा उठाते हुए अच्छी शुरुआत की और पहले आधे घंटे में कोई विकेट नहीं गिरने दिया. जहां ओपनर डेविड वॉर्नर संभलकर खेलते दिखे, वहीं मैट रेनशॉ ने तेजी से रन बनाए और पहले सात ओवर में पांच रन प्रति ओवर की दर से 36 रन ठोक दिए. वैसे भी सीरीज में अब तक वॉर्नर सफल नहीं रहे हैं, जबकि रेनशॉ ने कुछ अच्छी पारियां खेली हैं. वॉर्नर को सबसे ज्यादा अश्विन ने परेशान किया है और इस रिकॉर्ड को देखते हुए कप्तान विराट कोहली ने सातवें ओवर में ही अश्विन को गेंद थमा दी. कुछ ही देर में विराट ने दोनों छोर से स्पिन गेंदबाजी करवानी शुरू कर दी और पारी के 10वें ओवर में ही रवींद्र जडेजा ने डेविड वॉर्नर (19) को चलता कर दिया.

वॉर्नर एक बार फिर स्पिनरों के सामने फेल रहे. हालांकि इस बार उन्हें अश्विन ने नहीं बल्कि जडेजा ने अपना शिकार बनाया. उन्होंने वॉर्नर को अपनी ही गेंद पर लपका. रेनशॉ और स्मिथ ने 30 रन ही जोड़े थे कि उमेश यादव ने रेनशॉ को 44 के निजी स्कोर पर विराट कोहली के हाथों कैच करा दिया. तीसरा विकेट 89 रन पर आर अश्विन ने झटका और शॉन मार्श (2) को चेतेश्वर पुजारा ने डाइव लगाते हुए लपका. लंच तक कंगारू टीम ने 3 विकेट खोकर 109 बना लिए. स्टीव स्मिथ (34) और पीटर हैंड्सकॉम्ब (6) नाबाद लौटे.

मुकंद को बाहर किया...
विराट कोहली ने बेंगलुरू टेस्ट में खेली टीम में एक बदलाव किया है. चोट के कारण बाहर रहे मुरली विजय की वापसी हुई है, जबकि अभिनव मुकंद को बाहर बिठा दिया गया है. वैसे भी मुकंद बल्ले से प्रभावी नहीं रहे थे और कुछ कैच भी टपकाए थे. ऑस्ट्रेलियाई टीम में मिचेल मार्श की जगह पैट कमिंस और मिचेल स्टार्क की जगह ग्लेन मैक्सवेल को शामिल किया गया है.

सबसे अधिक टेस्ट खेलने वाली ऑस्ट्रेलिया दूसरी टीम
ऑस्ट्रेलिया के लिए एक खासत बात और कि यह उनका 800वां टेस्ट मैच है. वह सबसे अधिक टेस्ट मैच खेलने वाली दूसरी टीम है. उससे ऊपर इंग्लैंड है, जिसने 983 टेस्ट मैच खेले हैं. हालांकि जीत के मामले में कंगारू टीम इंग्लैंड से 26 टेस्ट आगे है. उसे कुल 377 में जीत मिली हैं. 140 साल पहले 15 मार्च 1877 को मेलबर्न में इंग्लैंड के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट क्रिकेट में आगाज किय था.

रांची में टीम इंडिया का रिकॉर्ड
रांची में पहली बार कोई टेस्ट मैच खेला जा रहा है. यहां अब तक चार वनडे मैच खेले गए हैं, जिसमें से टीम इंडिया को दो में जीत मिली थी, वहीं एक मैच न्यूजीलैंड ने जीता था. ऑस्ट्रेलिया ने यहां एक वनडे खेला है, जिसका कोई परिणाम नहीं निकला था. यहां एक टी-20 भी खेला गया है, जिसमें भारत ने श्रीलंका को फरवरी, 2016 में 69 रन से हराया था. टीम इंडिया ने यहां आखिरी मैच न्यूजीलैंड के खिलाफ अक्टूबर, 2016 में खेला था, जिसमें उसे हार मिली थी.

विराट की इस रिकॉर्ड पर नजर
रांची टेस्ट में विराट कोहली के पास एक रिकॉर्ड बनाने का मौका है. वह एक शतक लगाते ही वह 16 शतक लगा चुके सौरव गांगुली को पीछे छोड़ देंगे. इसके साथ ही वह टेस्ट में भारत के लिए सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले 8वें क्रिकेटर बन जाएंगे. वैसे विराट का बल्ला इस सीरीज में खामोश रहा है और उन्हें शतक की जरूरत भी है.

टिप्पणियां
दोनों टीमें टीमें इस प्रकार हैं:
भारत: विराट कोहली (कप्तान), मुरली विजय, लोकेश राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, ऋद्धिमान साहा, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, ईशांत शर्मा, उमेश यादव और करुण नायर.

ऑस्ट्रेलिया: स्टीव स्मिथ (कप्तान), डेविड वॉर्नर, पैट कमिंस, पीटर हैंड्सकॉम्ब, जॉश हेजलवुड, नैथन लियोन, शॉन मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, स्टीव ओकीफी, मैट रेनशॉ, और मैथ्यू वेड.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement