NDTV Khabar

INDvsAUS 3rd Test : लोकेश राहुल और मुरली विजय की शानदार पारियों से भारत 120/1, स्मिथ-मैक्सवेल के शतक से ऑस्ट्रेलिया 451 रन

98 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
INDvsAUS 3rd Test : लोकेश राहुल और मुरली विजय की शानदार पारियों से भारत 120/1, स्मिथ-मैक्सवेल के शतक से ऑस्ट्रेलिया 451 रन

India vs Australia : स्टीव स्मिथ ने इस सीरीज में दूसरा शतक जमाया और 178 रन पर नाबाद रहे

खास बातें

  1. भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट सीरीज फिलहाल बराबरी पर है
  2. ऑस्ट्रेलिया की ओर से स्टीव स्मिथ ने नाबाद 178 रन बनाए
  3. ग्लेन मैक्सवेल ने भी करियर का पहला शतक (104 रन) जड़ा
रांची: भारत और ऑस्‍ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच 4 टेस्‍ट मैचों की सीरीज के तीसरे मैच में स्टीव स्मिथ (Steven Smith) और ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) के शतकों के सहारे कंगारू टीम फिलहाल मजबूत स्थिति में है. हालांकि लोकेश राहुल और मुरली विजय ने टीम इंडिया को अच्छी शुरुआत दिलाई और पहले विकेट के लिए 91 रन जोड़े. टीम इंडिया की ओर से ओपनरों की यह सीरीज में पहली फिफ्टी पार्टनरशिप भी रही. पहली बार टेस्ट मैच की मेजबानी कर रहे रांची के जेएससीए स्टेडियम में मैच के दूसरे दिन शुक्रवार को ऑस्ट्रेलियाई टीम पहली पारी में 451 रन पर ऑलआउट हो गई. उसकी ओर से स्टीव स्मिथ 178 रन पर नाबाद रहे, वहीं ग्लेन मैक्सवेल ने 104 रन ठोके. दिन का खेल खत्म होने तक टीम इंडिया ने एक विकेट पर 120 रन बना लिए. मुरली विजय (42) और चेतेश्वर पुजारा (10) नाबाद लौटे. भारत अभी 331 रन पीछे है. लोकेश राहुल ने सीरीज में चौथी फिफ्टी बनाई और 67 रन बनाकर आउट हुए. पैट कमिन्स ने भारत का एकमात्र विकेट लिया. टीम इंडिया की ओर से रवींद्र जडेजा ने पांच विकेट लिए, तो उमेश यादव ने तीन विकेट और आर अश्विन ने एक विकेट झटका, जबकि एक खिलाड़ी रनआउट हुआ.

स्मिथ हैं ऐसे पांचवें विदेशी कप्तान...
स्टीव स्मिथ कप्तान के रूप में भारतीय धरती पर एक टेस्ट पारी में सबसे बड़ा स्कोर बनाने के मामले में पांचवें नंबर पर पहुंच गए हैं. रांची में वह 178 रन पर नाबाद रहे. उनसे ऊपर वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान क्लाइव लॉयड (242*, मुंबई, 1975), इंग्लैंड के एलिस्टर कुक (190 रन, कोलकाता, 2012), विंडीज के एल्विन कालीचरण (187 रन, मुंबई, 1978) और पाकिस्तान के इंजमाम उल हक (184 रन, बेंगलुरू, 2005) हैं.

सीरीज में भारतीय ओपनरों की पहली अर्द्धशतकीय साझेदारी
अंतिम सत्र में मुरली विजय और लोकेश राहुल ने भारतीय पारी को मजबूती देने की कोशिश की और दोनों इसमें सफल भी रहे. विजय-राहुल ने संभलकर खेलते हुए सीरीज की पहली अर्द्धशतकीय पार्टनरशिप पूरी की. वास्तव में टीम इंडिया की ओर से इस सीरीज में सबसे बड़ी ओपनिंग पार्टनरशिप 39 रन की थी, जो अभिनव मुकुंद ने राहुल के साथ बेंगलुरू में की थी. राहुल ने 69 गेंदों में सीरीज की चौथी और करियर की पांचवीं फिफ्टी पूरी की. इसमें उन्होंने 8 चौके लगाए. सत्र के पहले घंटे में इंडिया ने कोई विकेट नहीं गिरने दिया और 80 रन बना लिए. इसके बाद राहुल को पैट कमिन्स ने 67 रन पर कीपर मैथ्यू वेड के हाथों कैच करा दिया. 

चायकाल तक : ऑस्ट्रेलिया 451 रन पर ऑलआउट
लंच के बाद टीम इंडिया को एक बार फिर विकेट के लिए इंतजार करना पड़ा. स्टीव स्मिथ का स्टीव ओकीफी ने बखूबी साथ दिया और आठवें विकेट के लिए 51 रन जोड़कर कंगारू टीम को और मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया. जब स्कोर 446 रन था, तभी उमेश यादव ने ओकीफी को 25 रन पर मुरली विजय के हाथों कैच कराकर आठवां झटका दिया. इसके बाद रवींद्र जडेजा ने नैथन लियोन को नौवें विकेट के रूप में कैच आउट किया, तो जॉश हेजलवुड को उन्होंने बैक फ्लिक से रनआउट करके कंगारू पारी का 451 रन पर अंत कर दिया. टीम इंडिया ने चायकाल तक बिना किसी नुकसान के 20 रन बना लिए. मुरली विजय (2) और केएल राहुल (18) नाबाद रहे.

ऑस्ट्रेलिया का विकेट पतन : 1/50 (डेविड वॉर्नर- 19), 2/80 (मैट रेनशॉ- 44), 3/89 (शॉन मार्श- 2), 4/140 (पीटर हैंड्सकॉम्ब- 19), 5/331 (ग्लेन मैक्सवेल- 104), 6/395 (मैथ्यू वेड 36), 7/395 (पैट कमिन्स-0), 8/446 (स्टीव ओकीफी- 25), 9/449 (नैथन लियोन- 1), 10/451 (जॉश हेजलवुड- 0)

लंच से पहले : मैक्सवेल का बैट टूटा, फिर दूसरे बैट से जड़ा शतक...
दूसरे दिन की शुरुआत मजेदार रही. ऑस्ट्रेलिया की पारी के 91वें और दूसरे दिन के पहले ओवर की पहली ही गेंद पर तेज गेंदबाज उमेश यादव ने ग्लेन मैक्सवेल का बैट तोड़ दिया. मैक्सवेल के हाथ में केवल बैट का हैंडल रह गया और वह हंसने लगे. उस समय वह 82 रन पर खेल रहे थे. यादव की 137 किमी की रफ्तार वाली यह गेंद अंदर की ओर आई और मैक्सवेल के बैट के ऊपरी हिस्से पर लगी. ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पारी को 4 विकेट पर 299 रन से आगे बढ़ाया. मैक्सवेल ने पारी के 99वें ओवर की अंतिम गेंद पर उमेश यादव को चौका जड़कर टेस्ट करियर का पहला शतक (103 रन) पूरा किया. इसके लिए उन्होंने 180 गेंदें खेलीं और 9 चौके और 2 छक्के उड़ाए. हालांकि इसके बाद वह ज्यादा देर तक नहीं टिक पाए और एक रन और जोड़कर यानी 104 रन पर रवींद्र जडेजा की गेंद पर ऋद्धिमान साहा के हाथों लपक लिए गए. उन्होंने कप्तान स्टीव स्मिथ के साथ 191 रन जोड़े.

मैक्सवेल के आउट होने के बाद मैथ्यू वेड ने स्मिथ का साथ दिया और छठे विकेट के लिए 64 रन जोड़े. लंच से थोड़ी देर पहले रवींद्र जडेजा ने मैथ्यू वेड को 37 रन पर कीपर साहा के हाथों कैच कराया और इसी ओवर में पैट कमिंस को शून्य पर बोल्ड करके दो सफलताएं दिलाई. ऑस्ट्रेलिया ने लंच तक 7 विकेट पर 401 रन बना लिए. स्टीव स्मिथ (153 रन) और स्टीव ओकीफी (1) नाबाद रहे. भारत ने दूसरे दिन के पहले सत्र में 102 रन पर तीन विकेट झटक कर वापसी की कोशिश की.
 
glenn maxwell ranchi test india vs australia 650
ग्लेन मैक्सवेल ने कप्तान स्टीव स्मिथ के साथ पांचवें विकेट के लिए 191 रन जोड़े (फोटो : BCCI)

पूर्व क्रिकेटर डेमियन फ्लेमिंग ने मैक्सवेल के टूटे बैट के फोटो शेयर किए...
 
पहले दिन का खेल : एक सत्र में इंडिया, तो दो में ऑस्ट्रेलिया रहा हावी
तीसरे टेस्ट मैच के पहले दिन ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया पर दबाव बना लिया. हालांकि पहले सत्र में टीम इंडिया हावी रही, जबकि अंतिम दो सत्र में कंगारुओं ने स्थिति मजबूत कर ली. दूसरी ओर टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली अपना कंधा चोटिल करवा बैठे और फिर फील्डिंग करने नहीं लौटे. विराट कोहली को लंच के बाद 40वें ओवर में यह चोट लगी थी. टीम इंडिया ने टॉस हारने के बावजूद लंच से पहले ऑस्ट्रेलिया के 109 रन पर ही तीन विकेट झटक लिए थे, लेकिन लंच के बाद वह केवल एक ही विकेट ले पाई और चायकाल के बाद तो उसे कोई सफलता नहीं मिली और ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने मैदान पर विराट कोहली की गैरमौजूदगी का पूरा फायदा उठाया. कप्तान स्टीव स्मिथ और ग्लेन मैक्सवेल ने 159 रनों की नाबाद साझेदारी करते हुए टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया. ऑस्ट्रेलिया ने पहले दिन का खेल खत्म होने तक चार विकेट पर 299 रन बना लिए. स्मिथ 117 रन (244 गेंद, 13 चौके) और मैक्सवेल 82 रन (147 गेंद, 5 चौके, 2 छक्के) पर नाबाद लौटे. ओपनर मैट रनेशॉ ने 44 रन बनाए, जबकि डेविड वॉर्नर 19 रन ही बना सके.

टिप्पणियां
जेएससीए स्टेडियम में खेले जा रहे इस मैच में टॉस ऑस्ट्रेलिया ने जीता और पहले बैटिंग का फैसला किया. उसके लिए यह ऐतिहासिक 800वां टेस्ट मैच भी है. स्टीव स्मिथ के लिए यह दौरा शानदार रहा है और उन्होंने करियर का 19वां शतक जड़ दिया. अपने 76 रन पूरे करते ही स्मिथ ने करियर में 5000 रन भी पूरे कर लिए. सबसे तेजी से यह उपलब्धि हासिल करने वाले वह सातवें बल्लेबाज बन गए हैं. मैक्सवेल ने रवींद्र जडेजा को छक्का लगाकर करियर की पहली फिफ्टी बनाई. इससे पहले खेले तीन मैचों में उनका बेस्ट स्कोर 37 रन था.

सबसे अधिक टेस्ट खेलने वाली ऑस्ट्रेलिया दूसरी टीम
ऑस्ट्रेलिया के लिए एक खास बात और कि यह उनका 800वां टेस्ट मैच है. वह सबसे अधिक टेस्ट मैच खेलने वाली दूसरी टीम है. उससे ऊपर इंग्लैंड है, जिसने 983 टेस्ट मैच खेले हैं. हालांकि जीत के मामले में कंगारू टीम इंग्लैंड से 26 टेस्ट आगे है. उसे कुल 377 में जीत मिली हैं. 140 साल पहले 15 मार्च 1877 को मेलबर्न में इंग्लैंड के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट क्रिकेट में आगाज किया था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement