IND vs WI 1st T20, Live: भारत की पांच विकेट से जीत, कार्तिक-क्रुणाल ने बनाया आसान

INDvWI: कुलदीप यादव खेल के पहले सेशन में विंडीज बल्लेबाजों के लिए पहली साबित हुए. इस लेफ्टी ने नियमित अंतराल पर विकेट चटकाते हुए मेहमान मिड्ल ऑर्डर को एकदम हत्थे से उखाड़ दिया

IND vs WI 1st T20, Live: भारत की पांच विकेट से जीत, कार्तिक-क्रुणाल ने बनाया आसान

IND vs WI 1st T20: कुलदीप यादव विंडीज बल्लेबाजों के लिए कहर बन गए. वह मैन ऑफ द मैच रहे

खास बातें

  • विंडीज- (20 ओवरों में 8 पर) 109 रन, फाबियान 27, कुलदीप 13 पर 4
  • भारत- (17.5 ओवरों में 5 पर) 110 रन, कार्तिक 31*, क्रुणाल 21*
  • कुलदीप याद बने मैन ऑफ द मैच
कोलकाता:

मेजबान भारत ने दिनेश कार्तिक (नाबाद 31 रन, 34 गेंद, 3 चौके, 1 छक्का) और अंतररराष्ट्रीय करियर का पहला टी-20 मुकाबला खेल रहे हार्दिक पंड्या (नाबाद 21 रन, 9 गेंद, 3 चौके) की तेज और समझदारी भरी बल्लेबाजी की बदौलत ईडेन गॉर्डन में विंडीज को 5 विकेट से हराकर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली. भारत से पहले बैटिंग का न्योता पाकर विंडीज की टीम कुलदीप यादव के कहर के बीच कोटे के 20 ओवरों में 8 विकेट पर 109 रन ही बना सकी. मैन ऑफ द मैच रहे कुलदीप यादव ने कोटे के 4 ओवरों में 13 रन खर्च कर 3 विकेट चटकाए. जवाब में भारत ने भी खराब शुरुआत से उबरते हुए 17.5 ओवरो में 5 विकेट खोकर जीत का लक्ष्य हासिल लिया. टीम इंडिया की शुरुआत भी कमोबेश विंडीज जैसी ही रही थी और उसने एकदम से ही शुरुआती छह ओवरों में अपने तीन विकेट गंवा दिए थे. लेकिन पहले मनीष पांडे के साथ कार्तिक की  38 रन की अहम साझेदारी और फिर बाद में एक छोर पर कार्तिक के लगातार स्कोरबोर्ड चलायमान रखने और फिर क्रुणाल की फर्राटा पारी ने भारत को जीत दिला दी. 
 


विकेट पतन: 7-1 (रोहित, 0.6), 16-2 (धवन, 2.5), 35-3 (ऋषभ, 5.4), 45-4 (राहुल, 7.3), 83-5 (पांडे, 14.6)

पावर प्ले: थॉमस का हल्ला बोल
विंडीज के लिए पहला टी-20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबला खेल रहे 21 साल के ओशाने थॉमस अनुभवी और सितारा भारतीय ओपनरों के लिए बड़ी परेशानी साबित हुए. थॉमस की गति और उछाल ने रोहित और धवन दोनों को ही परेशान किया. पहले ही ओवर की उछाल लेती गेद पर रोहित (6) का विकेटकीपर रामदीन ने एक बेहतरीन कैच झटककर उनकी पारी का जल्द ही अंतर दिया,तो इसके बाद अपने दूसरे और पारी के तीसरे ओवर की पांचवीं गेंद पर नजारा देखने लायक था. धवन के ओवर कॉन्फिडेंस को (3) को थॉमस ने मिड्ल स्टंप भेदते हुए आइना दिखाया. मानो यही नुकसान काफी नहीं था कि पावर-प्ले के आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर पंत (1) ने भारत के संकट को और गहरा तो बना ही दिया. साथ ही उनका इस अंदाज में आउट होना बता गया कि उन्हें भारतीय टीम मैनेजमेंट का भरोसा जीतने के लिए अपनी शैली में बदलाव करना होगा. पावर-प्ले के छह ओवर खत्म होने के बाद भारत का स्कोर 3 विकेट पर 35 रन था. इन छह ओवरों में भारत और विंडीज के हालात में ज्यादा अंतर नहीं था. भारत सिर्फ 4 रन से बेहतर था, विकेट दोनों ही टीमों के समान मतलब तीन थे. 

इससे पहले मेजबान भारत ने कुलदीप यादव की उम्दा गेंदबाज की बदौलत वेस्टइंडीज कोसिर्फ 109 रन पर ही सीमित कर दिया. कुलदीप यादव के तीन विकेटों के साथ विंडीज बल्लेबाजों का लापरवाह अंदाज भी इस कम स्कोर के लिए जिम्मेदार रहा, नतीजा यह रहा कि वेस्टइंडीज की टीम कोटे के 20 ओवरों में 8 विकेट पर 109 रन ही बना सकी. उसकी ओर से सबसे ज्यादा 27 रन नंबर आठ बल्लेबाज फाबियान ने बनाए.  विकेट पतन: 16-1 (रामदीन), 2.1), 22-2 (होप, 3.1), 28-3 (हेटमायर, 4.4), 47-4 (पोलार्ड, 9.2), 49-5 (ब्रावो, 10.1), 56-6 (पॉवेल, 12.3), 63-7 (ब्रैथवेट, 14.5), 87-8 (फाबियान, 17.6)

पावर प्ले: शुरू में ही निकला दम
खेल के इस फॉर्मेट में शुरुआती छह ओवर बहुत ही अहम होते हैं, लेकिन विंडीज के बल्लेबाज पावर-प्ले का फायदा उठाने में नाकाम साबित हुए. आंद्रे नेल की जगह इलेवन में शामिल किए गए शाई होप ने उमेश यादव के फेंके पहले ही ओवर में दो चौके जड़कर तेवर तो बहुत ही आक्रामक दिखाए थे, लेकिन इस पर जल्द ही ब्रेक लग गया. तीसरे ओवर की पहली ही गेंद पर उमेश ने विंडीज विकेटकीपर दिनेश रामदीन (2) को विकेट के पीछे दिेनेश कार्तिक के हाथों लपकवा मेजबान टीम की शुरुआत बिगाड़ दी. और एक ओवर बाद ही देखने को मिला कॉमेडी ड्रॉमा! रन लेने की कोशिश में दोनों बल्लेबाज एक ही छोर की तरफ दौड़ पड़े. कन्फ्यूजन ही कन्फ्यूजन ! रन आउट होना ही था. और शाई होप (14) विंडीज को उम्मीद देने में नाकाम रहे. टेस्ट सीरीज में बेहतरीन बैटिंग करने वाले हेटमायर से उम्मीद थी. उन्होंने एक दो स्ट्रोक लगाकर एक उम्मीद जगाई भी, लेकिन जसप्रीत बुमराह (10) की उठती हुई गेंद को पुल करने में चूके. गेंद हवा में गई, तो जल्द ही विकेटकीपर कार्तिक के ग्लव्स में भी समा गई. और इसी के साथ विंडीज के पावर-प्ले भी टांय-टांय फिस्स हो गया. शुरुआती छह ओवरों में मेहमान टीम 3 विकेट पर सिर्फ 31 रन ही बना सकी. 

कुलदीप का कहर
पावर-प्ले के खत्म होने के बाद स्पिनरों की बात करें, तो विंडीज पर मार लगाने की शुरुआत अपना पहला टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल रहे क्रुणाल पंड्या ने पोलार्ड (14) का विकेट चटकाकर की, लेकिन इसके बाद कुलदीप याद विंडीज बल्लेबाजों के लिए कहर बन गए. कुलदीप यादव ने विंडीज मिड्ल ऑर्डर को पूरी तरह हत्थे से उखाड़ दिया. पहले डारेन ब्रावो, फिर रोवमैन पॉवल और उसके बाद कुलपीदव ने ब्रैथवेट को अपना शिकार बनाया. और ये तीनों ही बल्लेबाज दहाई का भी आंकड़ा नहीं छू सके. कुलदीप यादव चार ओवरों के कोटे में विंडीज बल्लेबाजों के लिए कहर साबित हुए. और उन्होंने सिर्फ 13 रन देकर 3 विकेट चटकाए. 

All set#INDvWIpic.twitter.com/YkspgjQkuU

 

इससे पहले भारत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया. भारत के लिए क्रुणाल पंड्या और खलील अहमद अपने टी-20 करियर का आगाज करने जा रहे हैं. विंडीज ऑराउंडर आंद्रे नेल सीरीज से बाहर हो गए हैं. विंजीज के लिए भी  तीन खिलाड़ियों ने अपने टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर का आगाज किया. मेहमान टीम ने पहले मुकाबले में ओशाने थॉमस, फाबियन एलन और खैरी पिएरे को इलेवन में जगह दी. दोनों देशों की फाइनल इलेवन टीम इस प्रकार रहीं: 
भारत: रोहित शर्मा (उपकप्तान), शिखर धवन, लोकेश, राहुल, ऋषभ फंत, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, क्रुणाल पंड्या, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह खलील अहमद और खलील अहमद
वेस्टइंडीज : कार्लोस ब्राथवेट (कप्तान), रोवमैन पावेल, शाई होप, शिमरोन हेटमायर, दिनेश रामदीन (विकेटकीपर), केरोन पोलार्ड, कीमो पॉल, फाबियान एलान, खैरी पिएरे,ओशाने थॉमस.

VIDEO:  जानिए की धोनी के टी-20 से ड्रॉप होने पर क्रिकेट पंडितों ने क्या कहा
विंडीज के खिलाफ पहले टी-20 में जीत के साथ-साथ जो सबसे अच्छी बात हुई, वह यह रही कि क्रुणाल पंड्या के रूप में एक ऐसा खिलाड़ी मिला, जिसे वास्तव में काफी पहले ही खिला देना चाहिए था. लेकिन जब वह मिला, तो यह भरोसा दे गया कि वह आने वाले अहम दिनों के लिए टीम इंडिया की प्लानिंग में पूरी तरह से फिट बैठता है.