इन युवा बल्लेबाजों ने की दक्षिण अफ्रीका के वर्ल्ड क्लास बॉलर्स की जमकर पिटाई

इन युवा बल्लेबाजों ने की दक्षिण अफ्रीका के वर्ल्ड क्लास बॉलर्स की जमकर पिटाई

द. अफ्रीका के खिलाफ मैच में मयंक और मनन ने शानदार पारी खेली (सौजन्य : BCCI के ट्विटर पेज से)

दक्षिण अफ्रीका जैसी मजबूत टीम को हराने वाली भारत-ए या भारतीय बोर्ड अध्यक्ष एकादश वास्तव में भारत की ‘सी’ टीम है, क्योंकि असली भारत-ए टीम बेंगलुरू में बांग्लादेश-ए के खिलाफ तीन दिवसीय मैच खेल रही है। इस टीम में पिछले आईपीएल में शानदार प्रदर्शन कर चुके खिलाड़ियों को मौका दिया गया था। ऐसे में उनकी यह जीत मायने रखती है। इस जीत के शिल्पकार रहे बल्लेबाज मयंक अग्रवाल, मनन वोहरा और और संजू सैमसन।

मयंक अग्रवाल ने जहां 87 रनों का पारी खेली, वहीं मनन वोहरा ने शानदार 56 रन बनाए। संजू सैमसन (31) अंत तक आउट नहीं हुए और टीम को जीत दिलाकर ही लौटे। हम आपको बता रहे हैं भारतीय क्रिकेट के इन उभरते सितारों के बारे में।

मयंक अग्रवाल : लिस्ट-ए मैचों में 50 से अधिक का औसत
मयंक ने हाल ही में भारत-ए के लिए अच्छा प्रदर्शन किया है। इसी माह उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ भारत-ए की ओर से खेलते हुए शानदार अर्धशतक लगाया था। अब अफ्रीका के खिलाफ शानदार पारी से उन्होंने सीनियर टीम में चयन के लिए अपना दावा मजबूत कर लिया है। उनका लिस्ट-ए के मैचों में प्रदर्शन देखा जाए, तो उन्होंने 27 मैच में 51.25 के औसत से 1,384 रन बनाए हैं, जिनमें 5 शतक और 5 अर्धशतक शामिल हैं। टी-20 में मयंक ने 71 मैचों में 24.31 के औसत से 1,483 रन जोड़े हैं, जबकि 14 प्रथम श्रेणी मैचों में मयंक ने 30.28 के औसत से 636 रन बनाए है, जिसमें 5 अर्धशतक शामिल हैं।

संजू सैमसन :
संजू ने रणजी के साथ ही आईपीएल और इंडिया-ए की ओर से अब तक बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया है। उनकी खासियत सीधे से बल्ले लगाए जाने वाले आक्रामक स्ट्रोक्स हैं। उनके प्रशंसकों में राजस्थान रॉयल्स के मेंटर और कोच राहुल द्र्विड़ भी शामिल हैं, जिन्होंने उनकी प्रतिभा को निखारने में अहम भूमिका निभाई है। संजू विकेट के पीछे भी इस वक्त कम से कम वनडे में धोनी के सबसे बेहतर उत्तराधिकारी कहे जा सकते हैं। वह स्पिन के साथ ही तेज गेंदबाजों को भी बखूबी खेलते हैं। इस मामले में वह दूसरे बल्लेबाजों से आगे नजर आते हैं जिनका आक्रमण और आंकड़े हमेशा स्पिन के खिलाफ ही चमकदार रहे हैं। उन्होंने 21 प्रथम श्रेणी मैचों में 44.70 के औसत से 1,386 रन बनाए हैं। उनका बेस्ट स्कोर 211 रन है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मनन वोहरा : आईपीएल में चमके
हालांकि मनन वोहरा आईपीएल और सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में खेले पिछले 10 टी-20 मैचों में 40 से अधिक का स्कोर नहीं बना पाए थे, लेकिन दक्षिण अफ्रीका के मजबूत गेंदबाजी आक्रमण के सामने उन्होंने शानदार बल्लेबाजी की। मनन वोहरा आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब टीम की ओर से खेलते हुए चमके थे। वोहरा ने लिस्ट-ए के 21 मैचों में 23.00 के औसत से 483 रन बनाए हैं, जिसमें 4 अर्धशतक शामिल हैं। मनन का बेस्ट स्कोर 89 रन है। इसके अलावा उन्होंने 10 प्रथम श्रेणी के मैच भी खेले हैं, जिनमें उनका सर्वोच्च स्कोर 89 रन है। प्रथम श्रेणी में उन्होंने एक शतक और तीन अर्धशतक बनाए हैं।