मीरपुर वनडे : बांग्लादेश ने भारत को 79 रनों से दी करारी शिकस्त

मीरपुर वनडे : बांग्लादेश ने भारत को 79 रनों से दी करारी शिकस्त

बांग्लादेशी बल्लेबाज तमीम इकबाल और सौम्य सरकार

मीरपुर :

बायें हाथ के तेज गेंदबाज मुस्तफीजुर रहमान ने अपने पदार्पण मैच में भारतीय बल्लेबाजों को अपनी ‘कटर’ से दहशत में डालकर पांच विकेट चटकाये जिससे बांग्लादेश ने पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में 79 रन की बड़ी जीत दर्ज करके तीन मैचों की श्रृंखला में 1-0 की बढ़त हासिल की।

तमीम इकबाल (62 गेंद पर 60) और सौम्या सरकार (40 गेंदों पर 54) की सलामी जोड़ी ने पहले विकेट के लिये केवल 13.4 ओवर में 102 रन की साझेदारी की। शाकिब अल हसन (68 गेंदों पर 52), शब्बीर रहमान (44 गेंदों पर 41) और नासिर हुसैन(34) ने बाद में रन बनाने का बीड़ा उठाया जिससे पहले बल्लेबाजी के लिये उतरने वाले बांग्लादेश ने 49.4 ओवर में 307 रन बनाये जो उसका भारत के खिलाफ वनडे में सर्वाधिक स्कोर है।

भारत रोहित शर्मा (68 गेंद पर 63) और शिखर धवन (30) से मिली अच्छी शुरूआत का फायदा नहीं उठा पाया। उसने बीच में 33 रन के अंदर पांच विकेट गंवाये। सुरेश रैना (40) और रविंद्र जडेजा (32) भी कुछ चमत्कार नहीं कर पाये और भारतीय टीम 46 ओवर में 228 रन पर ढेर हो गयी।

मुस्तफीजुर ने 50 रन देकर पांच और शाकिब ने 33 रन देकर दो विकेट लिये। मुस्तफीजुर तास्किन अहमद के बाद पदार्पण मैच में पांच विकेट लेने वाले दूसरे बांग्लादेशी गेंदबाज बने। तास्किन ने भी पिछले साल भारत के खिलाफ यह कारनामा किया था। बांग्लादेश के विकेटकीपर मुशफिकुर रहीम ने शुरू में धवन को दो जीवनदान दिये लेकिन बाद में उन्होंने विकेट के पीछे शानदार प्रदर्शन करके पांच कैच लपके और अपनी टीम की भारत पर 30वें मैच में चौथी जीत में अहम योगदान दिया। बांग्लादेश की भारत के खिलाफ यह सबसे बड़ी जीत भी है।

रोहित ने शुरू में मुस्तफीजुर को सबक सिखाने की कोशिश की। उन्होंने इस 19 वर्षीय गेंदबाज पर स्क्वायर लेग पर छक्का जमाया और फिर इसी ओवर में प्वाइंट और कवर पर दो चौके लगाये। रोहित ने 53 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन धवन अपेक्षित प्रदर्शन नहीं कर पाये। उन्होंने तास्किन अहमद की शॉर्ट पिच गेंद पर अपर कट करने के प्रयास में आखिर में रहीम को ही कैच थमाया।

बांग्लादेश के खिलाफ इससे पहले उसकी सरजमीं पर हर पारी में कम से कम अर्धशतक जड़ने वाले विराट कोहली केवल एक रन बना पाये। तास्किन की शॉर्ट पिच गेंद पर ढीला शॉट खेलना उन्हें महंगा पड़ा जो उनके बल्ले का किनारा लेकर रहीम के दस्तानों में पहुंची। मुस्तफीजुर ने इसके बाद रोहित के रूप में अपना पहला वनडे विकेट लिया और फिर अजिंक्य रहाणे (9) को पवेलियन भेजा।

मुस्तफीजुर ने इन दोनों को धीमी कटर पर कैच करवा कर शेर ए बांग्ला नेशनल स्टेडियम पर मौजूद 25000 दर्शकों को रोमांचित कर दिया। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (05) से ऐसे समय में समझबूझ भरी पारी की उम्मीद थी लेकिन 25वें ओवर के बाद गेंद थामने वाले अनुभवी शाकिब अल हसन ने आते ही उन्हें पवेलियन भेज दिया। इस बार रहीम ने विकेट के पीछे खूबसूरत कैच लपका।

मुस्तफीजुर ने अगली गेंद पर नये बल्लेबाज रविचंद्रन को विकेट के पीछे कैच कराया और फिर अगले ओवर में जडेजा को भी कैच देने के लिये मजबूर करके अपना पांचवां विकेट हासिल किया। भुवनेश्वर कुमार ने नाबाद 25 रन बनाकर हार का अंतर कुछ कम किया। इससे पहले भारतीय तेज गेंदबाज शुरू में सही लाइन और लेंथ से गेंदबाजी करने में नाकाम रहे। ऐसे में रैना को अपने करियर में चौथी बार अपने कोटे के सभी ओवर पूरे करने का मौका मिला। उन्होंने दस ओवर में 40 रन दिये।

अश्विन हालांकि भारत के सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 51 रन देकर तीन विकेट लिये। भुवनेश्वर कुमार और उमेश यादव ने दो-दो विकेट हासिल किये। बांग्लादेश की सलामी जोड़ी ने गेंदबाजों पर हावी होने की रणनीति अपनायी जिसमें वह काफी हद तक कामयाब भी रहे। सरकार ने शुरू अपने फुटवर्क का अच्छा इस्तेमाल किया और कुछ लाफ्टेड शॉट खेले।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

तमीम ने भी पारी के छठे ओवर में उमेश यादव पर तीन चौके और एक छक्के की मदद से 18 रन बटोरे। रैना ने सरकार को रन आउट करके यह साझेदारी तोड़ी। अश्विन ने अपना पहला वनडे खेल रहे लिट्टन दास (आठ) को पगबाधा आउट किया तो मुशफिकर रहीम (14) को लंबा शॉट खेलने की सजा दी। इससे बांग्लादेश का स्कोर एक विकेट पर 123 रन से तीन विकेट पर 146 रन हो गया।

शाकिब और रहमान ने सुनिश्चित किया कि टीम दबाव में नहीं बिखरे और इस बीच कुछ उम्दा शॉट लगाकर दर्शकों का भी भरपूर मनोरंजन किया। जडेजा ने रहमान को बोल्ड करके यह साझेदारी तोड़ी। इसके बाद उन्होंने उमेश यादव की गेंद पर शाकिब का कैच भी लपका। यादव ने फुलटॉस पर नासिर हुसैन को भी जडेजा के हाथों कैच कराकर अपने गेंदबाजी विश्लेषण में सुधार किया जबकि भुवनेश्वर ने रूबैल हुसैन और तास्किन अहमद तथा मोहित शर्मा ने मुर्तजा (21) के रूप में अपने नाम पर विकेट जोड़ा।