एमएस धोनी की कई बार सराहना कर चुके सौरव गांगुली उन्हें नहीं समझते इसके लायक!

एमएस धोनी की कई बार सराहना कर चुके सौरव गांगुली उन्हें नहीं समझते इसके लायक!

सौरव गांगुली ने अपनी टीम में मास्टर-ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को भी जगह दी है...

खास बातें

  • गांगुली ने अपनी टीम में सचिन और द्रविड़ को रखा है
  • कीपर के रूप में गांगुली की पसंद संगकारा हैं
  • रिकी पॉन्टिंग को उन्होंने अपना कप्तान चुना है
नई दिल्ली:

एक समय माना जाता था कि सौरव गांगुली को टीम इंडिया से बाहर का रास्ता दिखाने में एमएस धोनी का ही हाथ है. उसके बाद सौरव के बयानों से भी कुछ ऐसा ही लगा था. वैसे समय के साथ आमतौर पर खटास दूर हो जाती है, लेकिन लगता है कि सौरव गांगुली अभी तक वह बात भूले नहीं हैं और एमएस धोनी को वह एक खास दर्जे के लायक नहीं समझते. हालांकि सार्वजनिक मंचों पर वह कई बार धोनी की सराहना भी कर चुके हैं, लेकिन भीतर ही भीतर कुछ और बात नजर आती है...

इन दिनों क्रिकेट जगत में एक चलन जोरों पर है. वह है अपनी ऑलटाइम इलेवन चुनना. खासतौर से लॉर्ड्स क्रिकेट ऐसा करता रहता है. टीम इंडिया के सफलतम कप्तानों में से एक सौरव गांगुली ने भी अपनी फेवरेट ऑल टाइम इलेवन चुनी है. लॉर्ड्स क्रिकेट यूट्यूब पर इसका वीडियो साझा किया गया है.

इस टीम में सौरव गांगुली ने भारत से महान सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ को जगह दी है, लेकिन सफलतम कप्तान एमएस धोनी को इसके लायक नहीं समझा. उन्होंने विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में श्रीलंका के कुमार संगकारा को जगह दी है. इससे पहले भारत के ही पूर्व विकेटकीपर सैयद किरमानी ने भी अपनी टीम में धोनी को जगह नहीं दी थी और खुद को चुन लिया था.

हालांकि सौरव गांगुली ने अपनी टीम में खुद को भी नहीं रखा है. उन्होंने भारत से 2, तो ऑस्ट्रेलिया के 4 खिलाड़ियों को चुना है. गांगुली ने वीवीएस लक्ष्मण को भी नहीं लिया है, जिन्होंने उन्हें कई टेस्ट मैचों में जीत दिलाई थी.

सौरव गांगुली ने ऑस्ट्रेलिया के मैथ्यू हेडन और इंग्लैंड के कुक को ओपनर के रूप में जगह दी है. राहुल द्रविड़ नंबर 3, तो सचिन नंबर 4 पर हैं. कप्तान के तौर पर सौरव गांगुली ने रिकी पॉन्टिंग को चुना है तो वहीं स्पिन गेंदबाजी की जिम्मेदारी शेन वॉर्न और मुरलीधरन को दी है. तेज गेंदबाज के रूप में मैक्ग्राथ और डेल स्टेन हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

गांगुली की टीम इस प्रकार है :
मैथ्यू हेडन, एलिस्टर कुक, राहुल द्रविड़, सचिन तेंदुलकर, जैक कलिस, कुमार संगकारा, रिकी पॉन्टिंग, ग्लेन मैक्ग्राथ, डेल स्टेन, शेन वॉर्न, मुथैया मुरलीधरन.

स्वान ने भी धोनी को नहीं चुना था
इंग्लैंड क्रिकेट टीम भारत के वर्तमान दौरे में भले ही टेस्ट और वनडे दोनों में हार गई हो, लेकिन उसने 2012-13 के भारत दौरे में टीम इंडिया को 2-1 से हरा दिया था. उस समय टीम इंडिया के कप्तान एमएस धोनी थे. भारतीय धरती पर इंग्लैंड की उस ऐतिहासिक जीत में पूर्व स्पिन गेंदबाज ग्रीम स्वान की अहम भूमिका रही थी. हाल ही की सीरीज के बाद जब स्वान ने अपनी ऑल टाइम इलेवन चुनी तो उसमें उन्होंने भारत से केवल सचिन को जगह दी थी.