NDTV Khabar

बड़ौदा के खिलाफ मैच खेलते ही यह उपलब्धि हासिल कर लेगी मुंबई की रणजी टीम  

मुंबई की टीम ने तीनों प्रारूपों में मिलाकर भारत को सबसे अधिक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट दिए हैं.

27 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बड़ौदा के खिलाफ मैच खेलते ही यह उपलब्धि हासिल कर लेगी मुंबई की रणजी टीम  

प्रतीकात्मक तस्वीर.

खास बातें

  1. बड़ौदा और मुंबई के बीच गुरुवार को होगा रणजी मैच
  2. मुंबई की टीम का यह 500वां रणजी मैच होगा
  3. यह उपलब्धि हासिल करने वाली मुंबई पहली टीम होगी
मुंबई : 41 बार की रणजी चैंपियन मुंबई की टीम के नाम बड़ौदा के साथ मैच खेलते ही एक उपलब्धि जुड़ जाएगी. मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में मुंबई की टीम अपना 500वां मैच खेलेगी और यह उपलब्धि हासिल करने वाली पहली टीम बन जाएगी. टीम ने तीनों प्रारूपों में मिलाकर भारत को सबसे अधिक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट दिए, लेकिन यह आंकड़ा भी भारतीय टीम पर उसके प्रभाव को बताने के लिए पर्याप्त नहीं है.

यह भी पढ़ें : रणजी ट्रॉफी: 'वंडर बॉय' पृथ्‍वी शॉ का शानदार प्रदर्शन जारी, मुंबई के लिए बनाया शतक

गावस्कर का अनुशासन और तेंदुलकर का रुतबा मुंबई का क्रिकेट 'घराना' का परिचायक है जो 'चार डी' अनुशासन, समर्पण, निष्ठा और प्रतिबद्धता पर आधारित रहा है. इसके अलावा दिलीप वेंगसरकर, एकनाथ सोलकर, दिलीप सरदेसाई और रोहित शर्मा जैसे शहर के खिलाड़ी क्रिकेट प्रेमियों का मनोरंजन करते रहे हैं.

VIDEO : मैदान पर की बदसलूकी तो पड़ेगा महंगा


सचिन तेंदुलकर ने कहा,  मुंबई (बंबई) रणजी टीम ने दुनिया के कुछ सबसे शानदार क्रिकेटरों को निखारा है. रणजी टूर्नामेंट का हिस्सा होते हुए देश के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के साथ और खिलाफ खेलने का मौका मिलने से हमारे कई खिलाड़ियों ने काफी कुछ सीखा. उन्होंने कहा, मुंबई के प्रत्येक क्रिकेटर को टीम की कैप पहनने में काफी गर्व होता है. इसे कभी आसान नहीं मानने और अतीत की उपलब्धियों से संतोष नहीं करने के कारण ही मुंबई की रणजी टीम का वर्षों से दबदबा है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement