NZ vs ENG Final: सुपरओवर में न्‍यूजीलैंड के सपनों को धराशायी कर इंग्‍लैंड पहली बार बना वर्ल्‍डकप चैंपियन..

NZ vs ENG Final: सुपरओवर में न्‍यूजीलैंड के सपनों को धराशायी कर इंग्‍लैंड पहली बार बना वर्ल्‍डकप चैंपियन..

New Zealand vs England : इंग्‍लैंड ने सुपर ओवर में न्‍यूजीलैंड को हराकर वर्ल्‍डकप चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया

खास बातें

  • मैच में दोनों टीमों ने 50 ओवर में 241-241 रन बनाए
  • टाई होने के कारण सुपर ओवर के जरिये हुआ विजेता का फैसला
  • सुपर ओवर में भी 15-15 रन बने, ज्‍यादा बाउंड्री लगाने पर इंग्‍लैंड विजेता
लंदन:

New Zealand vs England, Final वर्ल्‍डकप 2019 का समापन ऐतिहासिक लार्ड्स मैदान पर रोमांचक फाइनल मुकाबले के साथ हुआ जिसमें न्‍यूजीलैंड के खिताब जीतने के सपने को चूर-चूर करते हुए इंग्‍लैंड ने सुपर ओवर में जीत हासिल कर पहली बार वर्ल्‍ड चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया. दुर्भाग्‍य एक बार फिर न्‍यूजीलैंड और खिताब के बीच आड़े आ गया. कीवी टीम लगातार दूसरी बार वर्ल्‍डकप के फाइनल में पहुंची लेकिन खिताब एक बार फिर उससे कुछ दूर रह गया. लार्ड्स मैदान पर आज वर्ल्‍डकप न जीत पाने की कसक केन विलियमसन की टीम को लंबे समय तक रहेगी. वर्ष 2015 के वर्ल्‍डकप के फाइनल में भी न्‍यूजीलैंड को ऑस्‍ट्रेलिया से हारकर खिताब से वंचित होना पड़ा. वैसे, न्‍यूजीलैंड की हार के बावजूद यह मैच 'पूरी तरह पैसा वसूल' साबित हुआ. टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए न्‍यूजीलैंड टीम ने निर्धारित 50 ओवर में 8 विकेट खोकर 241 रन बनाए. हैनरी निकोल्‍स (55)और टॉम लैथम (47) के अलावा कीवी टीम का कोई भी बल्‍लेबाज अच्‍छी पारी नहीं खेल सका. इंग्‍लैंड के सामने जीत के लिए 242 रन का कमोबेश आसान टारगेट था लेकिन शुरुआत से ही विकेट गंवाने के कारण इंग्‍लैंड पर दबाव बढ़ता गया. चार विकेट 86 रन के स्‍कोर पर गिरने के बाद बेन स्‍टोक्‍स और जोस बटलर की शतकीय साझेदारी ने इंग्‍लैंड के फैंस के लिए जीत की उम्‍मीदें जगा दी थीं लेकिन आखिरकार टीम 50वें ओवर की आखिरी गेंद पर 241 रन बनाकर ही आउट हो गई. मैच का फैसला सुपर ओवर में गया जिसमें फिर दोनों टीमों ने बराबर यानी 15-15 रन बनाए लेकिन न्‍यूजीलैंड की तुलना में बाउंड्री अधिक लगाने के कारण विजेता का ताज इंग्‍लैंड के नाम पर रहा.

वर्ल्‍डकप की इस खिताबी जीत के बाद मेजबान इंग्‍लैंड को 40 लाख डॉलर (28 करोड़ रुपए) की पुरस्‍कार राशि मिली जबकि उपविजेता न्‍यूजीलैंड टीम को 20 लाख डॉलर (14 करोड़ रुपए) की प्राइज मनी से ही संतोष करना पड़ा. सेमीफाइनल में हारने वाले दोनों टीमों भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के खाते में 8-8 लाख डॉलर (5.6 करोड़ रुपए) की राशि आई.

------------------------------------------------------------------

मैच टाई होने के बाद यूं रहा सुपर ओवर का रोमांच ..

------------------------------------------------------------------

सुपर ओवर में इंग्‍लैंड की ओर से बैटिंग के लिए जोस बटलर और बेन स्‍टोक्‍स आए. न्‍यूजीलैंड के लिए बॉलिंग की शुरुआत ट्रेंट बोल्‍ट ने की.

पहली गेंद: स्‍टोक्‍स ने फुल लेंथ गेंद पर 3  रन लिए.
दूसरी गेंद: जोस बटलर ने 1 रन लिया.
तीसरी गेंद: स्‍टोक्‍स ने जोरदार शॉट लगाया. चौका लगाया.
चौथी गेंद:  स्‍टोक्‍स ने 1 रन बनाया
पांचवीं गेंद: बटलर ने 2 रन बनाए
छठी गेंद: जोस बटलर ने चौका लगाया
-----------------
छह गेंदों पर इंग्‍लैंड का स्‍कोर 15 रन, न्‍यूजीलैंड को जीत के लिए 16 रन की जरूरत

जवाब में न्‍यूजीलैंड के लिए सुपर ओवर में बैटिंग के लिए मार्टिन गप्टिल और जेम्‍स नीशाम आए. इंग्‍लैंड के लिए यह ओवर जोफ्रा आर्चर ने फेंका.

पहली गेंद: आर्चर ने वाइड फेंकी, अब जरूरत 15 रन की है.
पहली गेंद: नीशाम ने दो रन लिए.
दूसरी गेंद: जेम्‍स नीशाम ने छक्‍का जड़ दिया.
तीसरी गेंद: जेम्‍स नीशाम ने दो रन दौड़ लिए. जरूरत तीन गेंदों पर पांच रन की है.
चौथी गेंद: जेम्‍स नीशाम ने दो रन फिर दौड़े. जरूरत दो गेंदों पर तीन रन की है.
पांचवीं गेंद: नीशाम ने 1 रन लिया. अब एक गेंद पर दो रन की जरूरत.
छठी गेंद: गप्टिल ने शॉट खेला.दोनों बल्‍लेबाजों ने एक रन लिया. दूसरा रन दौड़ने की कोशिश में रन आउट.

----------------------------

वर्ल्‍डकप पर इंग्‍लैंड का कब्‍जा. सुपर ओवर में उसने न्‍यूजीलैंड के मुकाबले ज्‍यादा बाउंड्री (दो) लगाईं. इस कारण इंग्‍लैंड को वर्ल्‍डकप विजेता घोषित किया गया.

SCORECARD

COMMENTARY

SEE MATCH GRAPHICS

इंग्‍लैंड की पारी: स्‍टोक्‍स ने खेली जबर्दस्‍त पारी, सुपर ओवर में पहुंचा मैच

इंग्‍लैंड की पारी की सनसनीखेज शुरुआत हुई. ट्रेंट बोल्‍ट की पहली ही गेंद पर जेसन रॉय के खिलाफ LBW की जोरदार अपील हुई. अम्‍पायर ने इसे नकारा तो केन विलियमसन ने रिव्‍यू ले लिया लेकिन रॉय बचने में सफल रहे.अगले दो ओवर में में रॉय ने मैट हेनरी और बोल्‍ट को चौके लगाते हुए आक्रामक क्रिकेट खेलते रहने के अपने इरादे जतादिए. पांचवें ओवर में बेयरस्‍टॉ ने भी रॉय की ही तर्ज पर चलते हुए बोल्‍ट को दो चौके लगाए. पांच ओवर में स्‍कोर बिना विकेट खोए 24 रन तक पहुंच गया.न्‍यूजीलैंड के लिए पहली कामयाबी मैट हैनरी लेकर आए, उन्‍होंने बेहतरीन आउट स्विंगर पर रॉय को विकेट के पीछे लैथम के दस्‍तानों में कैद करा दिया. पहले पावरप्‍ले (10 ओवर) के बाद इंग्‍लैंड के खाते में 39 रन जमा हुए थे. 10 से 24 ओवर के बीच इंग्‍लैंड टीम अपने चार प्रमुख बल्‍लेबाज जो रूट, जॉनी बेयरस्‍टॉ और कप्‍तान इयोन मोर्गन के विकेट गंवाकर मुश्किल में फंस गई थी. न्‍यूजीलैंड के बॉलर्स ने 10वां, 11वां और 12वां ओवर मेडन फेंककर इंग्‍लैंड की बल्‍लेबाजी पर दबाव बढ़ा दिया. 14वें ओवर में बेयरस्‍टॉ ने हेनरी को लगातार दो चौके लगाए और टीम को 13.5 ओवर में 50 रन तक पहुंचाया. 17वें ओवर में ग्रैंडहोम ने जो रूट (7) की जड़ें उखाड़कर इंग्‍लैंड के फैंस के माथे पर चिंता बढ़ा दी. रूट ने ओवर की दूसरी गेंद पर मिडविकेट के ऊपर से उड़ाने की कोशिश की और बुरी तरह बीट हुए. अगली गेंद उनके बल्‍ले का बाहरी किनारा लेकर विकेटकीपर लैथम के पास पहुंच गई. 20वें ओवर में फग्‍यूर्सन ने बेयरस्‍टॉ को बोल्‍ड करके रोमांच और बढ़ा दिया. 71 रन पर तीन विकेट गंवाते हुए इंग्‍लैंड संघर्ष करती नजर आ रही थी. तीन विकेट गिरने से इंग्‍लैंड का रन रेट गिरता जा रहा था और Required Run Rate छह रन प्रति ओवर के करीब जा पहुंचा था. 24वें ओवर में आए जेम्‍स नीशाम ने इयोन मोर्गन की पारी का खात्‍मा करके कीवी टीम की स्थिति और मजबूत कर दिया. कैच फर्ग्‍यूसन ने लपका. विकेट पर अब इंग्‍लैंड की आखिरी स्‍थापित जोड़ी स्‍टोक्‍स और जोस बटलर क्रीज पर थी. 25 ओवर में इंग्‍लैंड का स्‍कोर 4 विकेट पर 93 रन था.

इंग्‍लैंड की जीत की उम्‍मीदें अब पूरी तरह स्‍टोक्‍स और बटलर की जोड़ी पर आ टिकी थीं. टीम के 100 रन 27.3 ओवर में पूरे हुए. 30 ओवर में इंग्‍लैंड का स्‍कोर चार विकेट खोकर 115 रन था और शेष 20 ओवर में टीम को 127 रन की जरूरत थी.इन दोनों बल्‍लेबाजों ने सेंसेबल बैटिंग करते हुए जोखिम भरे शॉट लगाने से परहेज किया और लगातार सिंगल-डबल लेकर स्‍कोर को गतिमान रखा. जैसे-जैसे इंग्‍लैंड का स्‍कोर आगे बढ़ रहा था, लॉर्ड्स पर मौजूद फैंस की उम्‍मीदें बढ़ती जा रही थीं. दोनों बल्‍लेबाज अर्धशतकीय साझेदारी पूरी कर चुके थे. टीम 37.2 ओवर में 150 रन के पार पहुंची.40 ओवर में इंग्‍लैंड का स्‍कोर चार विकेट खोकर 170  रन था और शेष 10 ओवर में टीम को 72 रन की दरकार थी. न्‍यूजीलैंड के सामने चुनौती बटलर और स्‍टोक्‍स की जोड़ी को तोड़ने की थी. इन दोनों बल्‍लेबाजों की साझेदारी ने मैच को इंग्‍लैंड के पक्ष में मोड़  दिया था. न्‍यूजीलैंड की ओर से फेंके गए अगले तीन ओवर किफायती रहे और इंग्‍लैंड के खाते में इन दो ओवरों में 13 रन ही आए.44वें ओवर में आक्रमण पर आए बोल्‍ट को चौका लगाकर बटलर ने अपना अर्धशतक और स्‍टोक्‍स के साथ शतकीय साझेदारी पूरी की. उन्‍होंने 53 गेंदों का सामना कर पाच चौके लगाए. इसी ओवर में स्‍टोक्‍स का अर्धशतक 81 बॉल पर तीन चौकों की मदद से पूरा हुआ. 45वें ओवर में जोस बटलर (59 रन, 60गेंद, छह चौके) के फर्ग्‍यूसन की गेंद पर आउट होने से मैच फिर खुल गया. बटलर का काफी नीचा कैच अतिरिक्‍त खिलाड़ी टिम साउदी ने पकड़ा.नए बल्‍लेबाज क्रिस वोक्‍स से उम्‍मीद थी कि वे स्‍टोक्‍स के अच्‍छे सहयोगी साबित होंगे लेकिन वे महज 2 रन बनाकर फर्ग्‍यूसन की गेंद पर विकेटकीपर लैथम को कैच दे बैठे. इस ओवर में नए बल्‍लेबाज प्‍लंकेट ने चौका लगाया, लेकिन इस ओवर में इंग्‍लैंड के खाते में 5 रन ही आए. अब जरूरत तीन ओवर में 34 रन की थी और पूरी उम्‍मीदें स्‍टोक्‍स पर ही जाकर टिक गई थीं. इंग्‍लैंड के अगले तीन विकेट क्रिस वोक्‍स, लियाम प्‍लंकेट और जोफ्रा आर्चर के रूप में गिरे. आखिरी ओवर में टीम को 15 रन की जरूरत थी.लेकिन बेन स्‍टोक्‍स के नाबाद 84 रन के बावजूद इंग्‍लैंड टीम 50वें ओवर की आखिरी गेंद पर 241 रन बनाकर ही आउट हो गई. हालांकि सुपर ओवर में इंग्‍लैंड फैसला अपने पक्ष में करने में सफल रही.

विकेट पतन: 28-1 (रॉय, 5.4), 59-2 (रूट, 16.3), 71-3 (बेयरस्‍टॉ, 19.3), 86-4 (मोर्गन, 23.1), 196-5 (बटलर, 44.5), 203-6 (वोक्‍स, 46.1), 220-7 (प्‍लंकेट, 48.3), 227-8 (आर्चर, 48.6)

न्‍यूजीलैंड की पारी: निकोल्‍स और लैथम ही संघर्ष करते नजर आए

पहले बैटिंग के लिए उतरी न्‍यूजीलैंड की पारी का आगाज मार्टिन गप्टिल और हैनरी निकोल्‍स ने किया. क्रिस वोक्‍स के पहले ही ओवर में पारी का पहला चौका गप्टिल ने लगाया.जोफ्रा आर्चर की ओर से किया गया पारी का दूसरा ओवर मेडन रहा. तीसरे ओवर में क्रिस वोक्‍स की गेंद पर अंपायर कुमार धर्मसेना ने निकोल्‍स को LBW दे दिया था लेकिन रिव्‍यू कीवी बल्‍लेबाज के पक्ष में आया.चौथे ओवर में गप्टिल ने आर्चर को पहले छक्‍का और फिर चौका जड़ दिया. पांच ओवर में स्‍कोर बिना विकेट खोए 24 रन था.हालांकि गप्टिल (19) ज्‍यादा देर नहीं टिके और वोक्‍स की गेंद पर एलबीडब्‍ल्‍यू हो गए. पहले पावरप्‍ले (10 ओवर) के बाद स्‍कोर एक विकेट खोकर 33 रन था. इसके बाद निकोल्‍स ने केन विलियमसन के साथ मिलकर स्‍कोर 50 रन के पार पहुंचा दिया. न्‍यूजीलैंड के 50 रन 13.4 ओवर में पूरे हुए.विकेट की तलाश में 15 ओवर के बाद लेग स्पिनर आदिल राशिद को आक्रमण पर लाया गया.न्‍यूजीलैंड 21.2 ओवर में 100 रन तक पहुंची ही थी कि कप्‍तान केन विलियमसन (30) का बहुमूल्‍य विकेट टीम को गंवाना पड़ा. तेज गेंदबात लियोम प्‍लंकेट ने उन्‍हें विकेटकीपर जोस बटलर से कैच कराया. इंग्‍लैंड टीम ने रिव्‍यू लेकर यह निर्णय अपने पक्ष में किया.फाइनल में निकोल्‍स की पारी न्‍यूजीलैंड के लिए उम्‍मीद बन रही थी. उनका अर्धशतक 71 गेंदों पर चार चौकों की मदद से पूरा हुआ.25 ओवर के बाद स्‍कोर दो विकेट खोकर 109 रन था.

तीसरे विकेट के रूप में सेट बैट्समैन निकोल्‍स का आउट होना न्‍यूजीलैंड के लिए बड़ा झटका रहा. विलियमसन को आउट करने वाले प्‍लंकेट ने ही निकोल्‍स (55 रन, 77 गेंद, चार चौके) का विकेट लिया. क्रीज पर अब रॉस टेलर का साथ देने विकेटकीपर बल्‍लेबाज टॉम लैथम थे. न्‍यूजीलैंड के लिए समस्‍या इस समय यह थी कि रन औसत चार रन प्रति ओवर के आसपास ही बना हुआ था.34वें ओवर में मार्क वुड ने रॉस टेलर (15) को आउट कर दिया. नए बल्‍लेबाज जेम्‍स नीशाम के आने से स्‍कोर ने कुछ गति पकड़ी. उन्‍होंने 35वें ओवर में स्‍कोक्‍स को दो चौके लगाए. 93 गेंदों के बाद न्‍यूजीलैंड के लिए यह चौका लगा था. टीम के 150 रन 34.5 ओवर में पूरे हुए. 37वें ओवर में लैथम ने 'टॉप गियर' में आते हुए प्‍लंकेट को छक्‍का और चौका लगाया. नीशाम 19 रन बनाकर प्‍लंकेट के शिकार बने.अहम मौकों पर विकेट गिरने से न्‍यूजीलैंड का स्‍कोरबोर्ड गति नहीं पकड़ पा रहा था.40 ओवर के बाद स्‍कोर 5 विकेट खोकर 179 रन था. टीम को जरूरत अब शेष 10 ओवर में तेज बैटिंग कर स्‍कोर 250 रन या इससे ऊपर पहुंचाने की थी. टीम के 200 रन 43.3 ओवर में पूरे हुए.आखिरी के ओवरों में न्‍यूजीलैंड ने ग्रैंडहोम, लैथम और हैनरी के विकेट गंवाए. टीम 50 ओवर में 8 विकेट खोकर 241 रन ही बना सकी. इंग्‍लैंड के लिए लियोम प्‍लंकेट और क्रिस वोक्‍स ने तीन-तीन विकेट लिए.

विकेट पतन: 29-1 (गप्टिल, 6.2), 103-2 (विलियमसन, 22.4), 118-3 (निकोल्‍स, 26.5), 141-4 (टेलर, 33.1), 173-5 (नीशाम, 38.6), 219-6 (ग्रैंडहोम, 46.5), 232-7 (लैथम, 48.3), 240-8 (हेनरी, 49.3)

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान ब्रैंडन मैकुलम से प्रभावित हैं इंग्‍लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन

दोनों ही टीमों ने वही प्‍लेइंग XI उतारने का निर्णय लिया है जो सेमीफाइनल मैच में खेली थी. इंग्लैंड ने पांच बार के वर्ल्‍डकप चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को आठ विकेट से करारी मात देकर फाइनल में कदम रखा है. दूसरी ओर, नेट रन रेट के आधार पर सेमीफाइनल में पहुंची न्यूजीलैंड की टीम ने सेमीफाइनल में टीम इंडिया को 18 रनों से हराकर दूसरी बार फाइनल में अपना स्थान पक्का किया है.

टीम इंडिया के इस पूर्व ओपनर ने कहा-रोहित शर्मा बनाए जाएं वनडे और टी20 टीम के कप्‍तान...

दोनों टीमें इस प्रकार हैं..

न्यूजीलैंड: मार्टिन गप्टिल, हेनरी निकोल्स, केन विलियमसन (कप्‍तान), रॉस टेलर, टॉम लैथम, कॉलिन डि ग्रैंडहोम, जिमी नीशाम, मिचेल सैंटनर, मैट हेनरी, लॉकी फर्ग्यूसन और ट्रेंट बोल्ट.
इंग्लैंड: जेसन रॉय, जॉनी बेयरस्‍टॉ, जो रूट, इयोन मॉर्गन (कप्‍तान), बेन स्टोक्स, जोस बटलर, क्रिस वोक्स, लियाम प्लंकेट, आदिल राशिद, जोफ़्रा आर्चर और मार्क वुड.

वीडियो: वर्ल्‍डकप 2019 में टीम इंडिया का सफर खत्‍म

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com