NDTV Khabar

अगले दो दिन भी बल्लेबाज़ों की मदद करेगी पिच : NDTV से सुनील गावस्कर

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अगले दो दिन भी बल्लेबाज़ों की मदद करेगी पिच : NDTV से सुनील गावस्कर

गावस्कर का मानना है कि सीरीज़ में पहली बार बल्लेबाज़ों को पिच से मदद मिल रही है

खास बातें

  1. आस्ट्रेलिया ने पहले दिन चार विकेट पर 299 रन बना लिए हैं
  2. गावस्कर का मानना है, बल्लेबाज़ों को पिच से मदद मिल रही है
  3. चार टेस्‍ट की सीरीज में दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर हैं
नई दिल्ली: भारत-ऑस्ट्रेलिया सीरीज़ में पहली बार कोई टीम 300 रन के आंकड़े को पार (पहले दिन ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 299/4) करती दिख रही है तो उसमें पिच का बहुत बड़ा हाथ है. पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने NDTV से ख़ास बात करते हुए कहा, "सीरीज़ में पहली बार बल्लेबाज़ों को पिच से मदद मिल रही है. इस पिच पर भारतीय गेंदबाज़ों ने बहुत कोशिश की, लेकिन पहले दो-तीन दिन इस पिच पर गेंदबाज़ों के लिए बहुत कुछ नहीं दिख रहा. इसलिए मुझे लगता है अगले दो-तीन दिन भी बल्लेबाज़ इस पिच पर खूब रन बटोरेंगे."

रांची की पिच का रुख़ ऐसा ही रहा और स्मिथ-मैक्सवेल की जोड़ी थोड़ी देर और जम गई तो माना जा सकता है कि ऑस्ट्रेलियाई टीम 400 का आंकड़ा भी पार कर सकती है. लिटिल मास्टर ने ऐसी पिच पर कप्तान स्टीवन स्मिथ की पारी की भी जमकर तारीफ़ की.

53वें टेस्ट में 19वें शतक के सहारे 5000 रनों का आंकड़ा पूरा करने वाले दुनिया के नंबर एक बल्लेबाज़ स्मिथ ने जानकारों की खूब शाबाशी बटोरी. सनी कहते हैं, "इसे सही मायने में टेस्ट शतक कह सकते हैं. स्मिथ की पारी प्रशंसनीय कही जा सकती है. उन्होंने ज़रूरत के हिसाब से रन बटोरे और मैट रेनशॉ के आउट होने के बाद भी बल्लेबाज़ों से पार्टनरशिप करते रहे. फिर अचानक लगा कि स्मिथ तो 80 का आंकड़ा पार कर गए हैं और फिर उन्होंने शतक भी पूरा कर लिया."

टिप्पणियां
ऑस्ट्रेलियाई टीम बड़े स्कोर की ओर बढ़ती दिख रही है. फिर भी सुनील गावस्कर कहते हैं कि भारतीय टीम अब भी मैच में जीत का रास्ता बना सकती है.
उनके मुताबिक अगर ऑस्ट्रेलियाई टीम 400 बना सकती है तो यहां भारतीय टीम 600 का स्कोर कर जीत हासिल कर सकती है. उन्होंने ये भी कहा कि अगर भारत को चौथी पारी में बल्लेबाज़ी की ज़रूरत पड़ती है तो वहां भी टीम इंडिया में बल्लेबाज़ी का माद्दा है.

सुनील गवास्कर के मुताबिक, भारतीय टीम इस पारी में DRS का बेहतर इस्तेमाल करती नज़र आई. उन्होंने कहा कि ना सिर्फ़ भारतीय टीम इसके इस्तेमाल में आपस में बेहतर तालमेल दिखा रही है और फ़ैसला लेने में जल्दबाज़ी नहीं कर रही. एक बड़ी बात ये है कि कप्तान विराट कोहली अब मिडविकेट या मिडऑफ़ के बजाए स्लिप में फ़ील्डिंग कर रहे हैं. ऐसे में DRS के फ़ैसले लेने में उन्हें ज़्यादा आसानी हो रही है और वो अब सिर्फ़ विकेटकीपर पर निर्भर नहीं हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement