NDTV Khabar

शाहिद अफरीदी के खिलाफ कमेंट किया तो फैंस ने इंग्लैंड के निक कॉम्पटन पर साधा निशाना..

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शाहिद अफरीदी के खिलाफ कमेंट किया तो फैंस ने इंग्लैंड के निक कॉम्पटन पर साधा निशाना..

Shahid Afridi के खिलाफ कमेंट करने पर फैंस ने निक कॉम्पटन को आड़े हाथों लिया

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी की दुनियाभर में फैन फॉलोइंग हैं. आक्रामक शैली में बल्लेबाजी करने का अफरीदी (Shahid Afridi) का अंदाज लोगों को खूब लुभाता है. हाल ही में इंग्लैंड के क्रिकेटर निक कॉम्पटन (England cricketer Nick Compton)को अफरीदी को लेकर किए गए कमेंट को लेकर फैंस की खरी-खोटी सुननी पड़ी. दरअसल, अफरीदी के 37 बॉल पर जमाए गए धमाकेदार शतक (Shahid Afridi's ODI hundred) को लेकर कॉम्पटन ने ऐसा कमेंट कर दिया जो इन फैंस को पसंद नहीं आया. उन्होंने इसके लिए कॉम्पटन को जमकर ट्रोल किया. अफरीदी ने वर्ष 1996 में 4 अक्टूबर को ही 37 बॉल पर वनडे शतक जड़कर विश्व क्रिकेट में जबर्दस्त एंट्री की थी.  ESPN Cricinfo ने अफरीदी की इस उपलब्धि का जिक्र करते हुए इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया था. जवाब में निक कॉम्पटन ने विवादित कमेंट किया, 'और इसके बाद वे कभी रन नहीं बना सके '


कॉम्पटन के इस कमेंट पर पाकिस्तान के फैंस ने पलटवार किया. उन्होंने याद दिलाया कि कॉम्पटन को  खुद का टेस्ट औसत 28 का है. एक अन्य फैन ने लिखा, 'आपको बमुश्किल ही कोई जानता होगा.'

टिप्पणियां

शाहिद अफरीदी ने यह जबर्दस्त पारी श्रीलंका के खिलाफ नैरोबी में खेली थी. अपनी इस पारी में उन्होंने 11 छक्के और सात चौके लगाए थे. उनकी पारी की बदौलत पाकिस्तान टीम ने मैच में 82 रन की जीत हासिल की थी. लंबे समय तक वनडे इंटरनेशनल में सबसे तेज शतक (37 गेंद) अफरीदी के ही नाम रहा. बाद में न्यूजीलैंड के कोरी एंडरसन (Corey Anderson)ने 36 गेंदों पर सैकड़ा जड़ते हुए इस रिकॉर्ड को तोड़ा. यह रिकॉर्ड इस समय दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स ( AB de Villiers) के नाम पर है. एबी 31 गेंदों पर वनडे में शतक पूरा कर चुके हैं. इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले चुके एबी ने वर्ष 2015 में वेस्टइंडीज के खिलाफ जोहानिसबर्ग में यह रिकॉर्ड बनाया था.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार से बाबूलाल मरांडी की पार्टी ने वापस लिया समर्थन

Advertisement