Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

Nidahas Trophy Final: कुछ ऐसे वॉशिंगटन सुंदर ने बांग्लादेशियों की बोलती बंद की, बने 'पावर-प्ले' के सिकंदर

वॉशिंगटन सुंदर इस टूर्नामेंट में भारत के लिए देन तो साबित हुए ही. उन्होंने यह भी साबित किया कि वह भारत के लिए लंबे समय तक खेलेंगे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Nidahas Trophy Final: कुछ ऐसे वॉशिंगटन सुंदर ने बांग्लादेशियों की बोलती बंद की, बने 'पावर-प्ले' के सिकंदर

साथी खिलाड़ियों के साथ वॉशिंगटन सुंदर

खास बातें

  1. ऐसी पावर देखी है कहीं !
  2. 18 की उम्र..और ये पावर!
  3. इस इकॉनमी रेट के क्या कहने!
नई दिल्ली:

पूरी दुनिया के क्रिकेटप्रेमियों ने चल रही निधास टी20 ट्रॉफी में एक दिन पहले ही श्रीलंका के खिलाफ खेले गए मुकाबले में बांग्लादेशी टीम के खिलाड़ियों के रवैये और इनकी आक्रामकता के दर्शन किए थे. इसी के बाद यह चर्चा होने लगी थी कि देखते हैं कि पिछले मैचों में जीत के बाद कुछ ज्यादा ही उछलने वाले इस टीम के बल्लेबाज भारत 18 साल के युवा वॉशिंगटन सुंदर के सामने कैसा प्रदर्शन करेंगे. वजह साफ थी कि वॉशिंगटन सुंदर ने पूरे टूर्नामेंट के दौरान सभी बल्लेबाजों की आजादी पर नकेल कस दी. वह भी पावर-प्ले में. और ट्राई सीरीज के इस फाइनल और आखिरी मुकाबले में वॉशिंगटन सुंदर ने बांग्लादेशी बल्लेबाजों की आक्रामकता पर बेड़ियां डालने के साथ-साथ ही खुद को पावर-प्ले का सिकंदर साबित करते हुए बता कि हाल-फिलहाल उनका कोई जोड़ नहीं है. 
 

बांग्लादेशी बल्लेबाज वॉशिंगटन सुंदर के पावर प्ले के चैलेंज को नहीं ही भेद सके. फाइनल में कप्तान रोहित शर्मा ने सुंदर से बांग्लादेश के खिलाफ पावर-प्ले में दो ओवर गेंदबाजी करवाई. और इन दो ओवरों में वॉशिंगटन ने पांच रन देकर लिटन दास का विकेट लिया.  आपको बता दें कि फाइनल से पहले तक पिछले चार  मैचों में सुंदर अभी तक 7 विकेट चटकाकर मैन ऑफ द सीरीज के प्रबल दावेदावों में शामिल चल रहे थे. और वे अभी भी होड़ में हैं.

उन्होंने पिछले चार मैचों में 16 ओवर गेंदबाजी की. इन ओवरों उनके खिलाफ सिर्फ 8 चौके और 3 छक्के ही लगे. वहीं उनका इकॉनमी रेट सिर्फ 5.87 का ही रहा है. लेकिन फाइनल में वॉशिंगटन सुंदर ने खुद को पावर-प्ले का चैंपियन साबित कर दिया. आपको बता दें कि बांग्लादेश के खिलाफ फाइनल मैच तक वॉशिंगटन सुंदर ने पावर-प्ले में 13 ओवर गेंदबाजी की. मतलब सीरीज के 5 मैचों में 13 ओवर उन्होंने पावर-प्ले में फेंके, जिसमें उन्होंने 77 रन खर्च किए. इस दौरान  उन्होंने 46 डॉट बॉल फेंकीं. लेकिन यह उनका इकॉनमी रेट रहा, जिसने साबित कर दिया कि सुंदर के खिलाफ पावर-प्ले में रन बनाना बिल्कुल भी आसान काम नहीं है. 


टिप्पणियां

VIDEO: मोहम्मद शमी ने खुद पर लगाए गए आरोपों को गलत बताया है
ट्राई सीरीज में पावर-प्ले में फेंके 13 ओवरों में वॉशिंगटन सुंदर ने 6 विकेट चटकाए. और उनका इकॉनमी रन रेट प्रति ओवर इस दौरान 5.92 का रहा. और अगर यह प्रदर्शन इस 18 साल के खिलाड़ी को मैन ऑफ द सीरीज का खिताब दिला देता है, तो चौंकाने वाली बात बिल्कुल भी नहीं होगी.

 



दिल्ली चुनाव (Elections 2020) के LIVE चुनाव परिणाम, यानी Delhi Election Results 2020 (दिल्ली इलेक्शन रिजल्ट 2020) तथा Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Bhojpuri Video Song: खेसारी लाल यादव के नए गाने ने मचाई धूम, इंटरनेट पर Video हुआ वायरल

Advertisement