NDTV Khabar

NIDAHAS TROPHY: टीम इंडिया के कप्‍तान रोहित शर्मा ने अपने गेंदबाजों की तारीफ में कही यह बात..

निधास ट्रॉफी त्के अंतर्गत सोमवार को हुए मुकाबले में भारतीय टीम ने श्रीलंका को आसानी से 6 विकेट से पराजित कर दिया. मैच के बाद टीम इंडिया के कप्‍तान रोहित शर्मा ने अपनी टीम खासकर गेंदबाजों की जमकर प्रशंसा की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
NIDAHAS TROPHY: टीम इंडिया के कप्‍तान रोहित शर्मा ने अपने गेंदबाजों की तारीफ में कही यह बात..

रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ मैच में अपने गेंदबाजों की जमकर तारीफ की (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, गेंदबाजी के लिए स्थितियां आसान नहीं थीं
  2. ओस के कारण तेज गेंदबाजों-स्पिनरों को हो रही थी मुश्किल
  3. थिसारा परेरा बोले, हम आदर्श स्‍कोर से 30-40 रन पीछे रहे
कोलंबो:
टिप्पणियां
निधास ट्रॉफी त्रिकोणीय टी20 सीरीज के अंतर्गत सोमवार को हुए मुकाबले में भारतीय टीम ने मेजबान श्रीलंका को आसानी से 6 विकेट से पराजित कर दिया. मैच के बाद टीम इंडिया के कप्‍तान रोहित शर्मा ने अपनी टीम खासकर गेंदबाजों की जमकर प्रशंसा की. रोहित ने कहा, शानदार प्रदर्शन, खासतौर पर गेंदबाजों का. श्रीलंका की टीम को 152 रन पर रोककर हमारे गेंदबाजों ने अच्‍छा काम किया. गेंदबाजों के लिहाज से स्थितियां आसान नहीं थी. मैच पर ओस थी ऐसे में तेज गेंदबाजों और स्पिनरों, दोनों की ही मुश्किल हो रही थी. मुझे इस बात की खुशी है कि इसके बावजूद उन्‍होंने अपने काम को बखूबी अंदाज दिया. टीम इंडिया के कप्‍तान ने कहा, बांग्‍लादेश के खिलाफ मैच की तरह इस बार भी गेंदबाजों ने अपनी योजना को अच्‍छी तरह अमलीजामा पहनाया. हमारी बल्‍लेबाजी में भी गहराई दिखी. हमारे पास काफी ऑलराउंडर हैं लेकिन मिडिल ऑर्डर में ज्‍यादातर बल्‍लेबाजों को इससे पहले मौका नहीं मिल पाया था. इस मैच में मनीष और डीके (दिनेश कार्तिक) ने शानदार बैटिंग की. किसी एक नाम का जिक्र करना मुश्किल है, पूरी टीम के सामूहिक प्रयासों से हमें यह जीत मिली है. श्रीलंका के कार्यकारी कप्‍तान थिसारा परेरा ने कहा, यह 152 रन से ज्‍यादा के स्‍कोर का विकेट था. हमने शुरुआत में अच्‍छी बल्‍लेबाजी की लेकिन मिडिल ऑर्डर नाकाम रहा. हम अच्‍छे स्‍कोर से 30 से 40 रन पीछे रहे. मेरी राय में 175 से 180 का स्‍कोर इस विकेट पर अच्‍छा होता.

वीडियो: रोहित शर्मा के 'डबल धमाल' से टीम इंडिया जीती
मैच में भारतीय टीम के लिए महत्‍वपूर्ण मौके पर नाबाद 42 रनों की पारी खेलने वाले मनीष पांडे ने कहा है कि वह अंत तक टिके रहकर अपनी टीम को जीत दिलाना चाहते थे जिसमें वो कामयाब हुए. पांडे ने कहा, "नंबर-5 पर बल्लेबाजी करते हुए मैंने सोचा था कि मैं अंत तक टिका रहूंगा और मैच खत्म करते हुए जाऊंगा. पहले मैच के बाद हमारे गेंदबाजों ने अच्छी वापसी की है और इसी कारण हम उन्हें 152 रनों पर रोकने में कामयाब रहे. छह-सात नंबर के बाद हमारे पास ज्यादा बल्लेबाजी नहीं थी इसलिए कार्तिक के साथ साझेदारी करना अच्छा रहा."


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement