Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

अब मोहम्मद शमी फिर "नई परेशानी" में घिरे, जारी हो सकता है गैर जमानती वारंट

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अब मोहम्मद शमी फिर

मोहम्मद शमी और उनकी पत्नी हसीन जहां की फाइल फोटो

खास बातें

  1. मोहम्मद शमी अदालत में जाहिर हों..!
  2. हसीन जहां ने हाल में किया एक और मुकदमा
  3. एशिया कप में भारतीय टीम का हिस्सा नहीं हैं शमी
कोलकाता:

भारतीय टेस्ट टीम के सदस्य मोहम्मद शमी अब एक बार फिर से नई परेशानी में फंसते नजर आ रहे हैं. यह सही है कि पत्नी हसीन जहां के साथ हुए विवाद पर से बादल छंटने के बाद बीसीसीआई ने न केवल मोहम्मद शमी को अनुबंध प्रदान किया, बल्कि इस सीमर ने टीम में शानदार वापसी भी कर ली. लेकिन हसीम जहां का मामला है कि पीछा छोड़ ही नहीं रहा. और यह आसानी से छोड़ने वाला भी नहीं है. कारण यह है इसमें कोर्ट जो शामिल है. अब भारत में कोर्ट के मामले तो आप अच्छी तरह से समझ ही सकते हैं. मोहम्मद शमी एशिया कप 2018 में टीम में शामिल नहीं हैं.

बता दें कि शमी की पत्नी हसीं जहां एक के बाद एक नए आरोप उनके खिलाफ लगा रही हैं. हसीं जहां ने  हालिया आरोप यह लगाया था कि शमी ने उन्हें महीने के खर्च के लिए बाउंस चेक दिया. इसका पता उन्हें तब पता चला जब वह इसे कैश कराने बैंक  पहुंचीं. इसी मामले की सुनवाई गुजरे वीरवार को होनी थी, लेकिन शमी कोलकाता स्थित कोर्ट में नहीं पहुंचे. शमी के वकील ने अदालत में कहा कि कुछ जरूरी कारणों के कारण अदालत नहीं आ सके. 

यह भी पढ़ेंAsia Cup, PAK vs AFG: 'इस कारण' पाकिस्‍तानी फैंस की आलोचना के शिकार बने अफगानिस्‍तान के राशिद खान..

अब इस मामले में अगली तारीख 14 नवंबर की लगी है. बता दें कि शमी से अलग रह रहीं उनकी पत्नी एक पेशेवर मॉडल हैं. इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की टीम केकेआर की पूर्व चीयरगर्ल हसीन जहां ने साल 2014 में शमी से शादी करने के बाद इस पेशे को अलविदा दिया था. बाद में कई मुद्दों को लेकर दोनों के बीच तनाव और झगड़े हुए. दुनिया भर में जग-हंसाई हुई और मामला अदालत तक पहुंच गया. और अब हालिया मामले में  शमी 14 नवंबर को अदालत में नहीं पहुंचे, तो उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी हो सकता है. 

VIDEO:  जानिए कि रवींद्र जडेजा की शानदार  वापस पर क्या कह रहे हैं अजय रात्रा.

दरअसल मामले की सुनवाई कर रहे है जज मोहम्मद शमी के इस तर्क से बिल्कुल भी खुश नहीं हुए कि यह तेज गेंदबाज जरूरी कारणों के चलते अदालत में पेश नहीं हो सका. जज ने साफ तौर पर कहा कि शमी को अनिवार्य रूप से 14 नवंबर को कोर्ट में पेश होना होगा. जाहिर है कि शमी इस मामले में अदनेखी भरा रवैया अख्तियार नहीं कर सकते. ध्यान दिला दें कि हसीन जहां ने शमी पर घरेलू हिंसा और मारपीट सहित कई मुकदमें दर्ज कराए हुए हैं. वहीं अगस्त में हसीन जहां को तब बड़ा झटका लगा था, जब अदालत ने उनकी गुजारा भत्ते के लिए दस लाख रुपये प्रति माह की मांग को ठुकराते हुए उनके और बेटी एयराह शमी के लिए अस्सी हजार रुपये प्रति माह दिया जाना तय किया था. 

 

टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... प्रशांत किशोर को लेकर सुशील मोदी का बड़ा बयान- 'लालू-नीतीश की फिर दोस्ती कराने में लगे थे PK, दाल नहीं गली तो...'

Advertisement