NDTV Khabar

अब पाकिस्तान के इंजमाम उल हक ने विराट कोहली की आलोचना पर एंडरसन को आड़े हाथों लिया...

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अब पाकिस्तान के इंजमाम उल हक ने विराट कोहली की आलोचना पर एंडरसन को आड़े हाथों लिया...

इंजमाम उल हक (बाएं) इस समय पाकिस्तान के मुख्य चयनकर्ता हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. जेम्स एंडरसन ने विराट की बल्लेबाजी पर निगेटिव टिप्पणी की थी
  2. विराट की कप्तानी में टीम इंडिया लगातार 17 टेस्ट से नहीं हारी है
  3. विराट ने सीरीज में इंग्लैंड के खिलाफ 600 से अधिक रन बना दिए हैं
कराची:

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली की बल्लेबाजी तकनीक को लेकर टिप्पणी क्या कर दी कि विराट के फैन्स सहित कई पूर्व खिलाड़ी भी उनके पीछे पड़ गए हैं और एंडरसन को आड़े हाथों लेना शुरू कर दिया है. अब भारत के धुरविरोधी पाकिस्तान के मुख्य चयनकर्ता और पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक ने भी विराट कोहली की तकनीक को लेकर निंदनीय टिप्पणी करने पर जेम्स एंडरसन की आलोचना की है. उन्होंने कहा कि इंग्लैंड के तेज गेंदबाज को भारतीय कप्तान की क्षमता पर अंगुली उठाने से पहले भारत में विकेट लेने चाहिए. इंजमाम से पहले टीम इंडिया के स्टार ऑफ स्पिनर अश्विन तो मैदान पर ही एंडरसन से भिड़ गए थे.

एंडरसन ने हाल ही में कहा था कि भारतीय पिचों में उछाल नहीं होने के कारण मौजूदा टेस्ट सीरीज में कोहली की तकनीकी कमियां उजागर नहीं हो सकी हैं.


इंजमाम ने सोमवार रात को जियो सुपर स्पोर्ट्स चैनल पर कहा, ‘‘मैं हैरान हूं कि एंडरसन ने कोहली के रनों और क्षमता पर अंगुली उठाई, क्योंकि मैंने उन्हें भारत में ज्यादा विकेट लेते नहीं देखा.’’ (विराट vs धोनी : कौन है आगे... क्या विराट के रुतबे के बीच अब धोनी से छिन जाएगी वनडे-टी-20 की कप्तानी!)

उन्होंने कहा, ‘‘क्या एंडरसन यह कहना चाहते हैं कि यदि आप इंग्लैंड में रन बनाते हैं तो ही आप पर अच्छे बल्लेबाज होने का ठप्पा लगेगा. क्या इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों को उपमहाद्वीप में परेशानी नहीं आती. क्या इसके मायने हैं कि वे खराब खिलाड़ी या कमजोर टीमें हैं. मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि रन कहां बने हैं क्योंकि टेस्ट मैचों में रन तो रन होते हैं.’’

इंजमाम ने कहा, ‘‘मैं बल्लेबाज का आकलन इससे करता हूं कि उसने कितनी बार रन बनाकर टीम को मैच जिताया है. यदि बल्लेबाज के 80 रन से टीम जीतती है तो मेरे लिए वह 150 रन से बढ़कर हैं.’’

टिप्पणियां

इंजमाम ने कहा, ‘‘कोहली बेहतरीन खिलाड़ी हैं और जब वह रन बनाते हैं तो उनकी टीम अच्छा खेलती है. यही उम्दा बल्लेबाज की निशानी है. उसमें रनों की भूख है.’’ उन्होंने कहाकि एशियाई लोगों को अपनी ही टीम और खिलाड़ियों पर सवाल उठाने की आदत है जबकि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया हमेशा अपने क्रिकेटरों का साथ देते हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘यदि वे अच्छा नहीं खेलते तो हम अपनी टीमों और खिलाड़ियों पर खुद अंगुली उठाते हैं. हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि ऑस्ट्रेलिया तो श्रीलंका में हारा और हमने यूएई में इंग्लैंड का सफाया किया.’’



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement