Khabar logo, NDTV Khabar, NDTV India

वर्ल्डकप से पहले तेज होगी वनडे में नंबर एक की जंग

ईमेल करें
टिप्पणियां
दुबई: ऑस्ट्रेलिया और भारत शुक्रवार से शुरू हो रही त्रिकोणीय शृंखला में जब इंग्लैंड के साथ हिस्सा लेंगे तो इन दोनों टीमों के पास आईसीसी एकदिवसीय टीम रैंकिंग में एक दूसरे को पछाड़कर शीर्ष स्थान हासिल करने का मौका होगा।

ऑस्ट्रेलिया शुक्रवार को जब एससीजी में इंग्लैंड के खिलाफ खेलेगा तो वह जीत के साथ शीर्ष पर अपनी स्थिति बेहतर करने की कोशिश करेगा।

शुक्रवार को होने वाला यह मैच क्रिकेट विश्व कप 2015 के उद्घाटन मैच की रिहर्सल भी होगा, जिसमें मेलबर्न में ठीक 30 दिन बाद यही दोनों टीमें आमने-सामने होंगी।

नवंबर में घरेलू शृंखला में 5-0 की जीत के बाद भारत त्रिकोणीय शृंखला के साथ फिर लय हासिल करने की कोशिश करेगा, जिससे कि वह वर्ल्डकप इतिहास में अपने खिताब की रक्षा करने वाली तीसरी टीम बन सके। इससे पहले वेस्टइंडीज 1975 और 1979 में लगातार दो बार जबकि ऑस्ट्रेलिया 1999 से 2007 तक लगातार तीन बार खिताब जीतकर ऐसा कर चुके हैं।

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड ने 1992 में जब पिछली बार विश्व कप की मेजबानी की थी तो दक्षिण अफ्रीका सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रहा था और इस बार टीम की नजरें पहली बार विश्व कप जीतने पर टिकी होंगी।
 
दक्षिण अफ्रीका भी शुक्रवार को पांच मैचों की वनडे शृंखला के पहले मैच में वेस्टइंडीज से भिड़ेगा, जिसमें आईसीसी की बल्लेबाजों की वनडे रैंकिंग के शीर्ष तीन में से दो खिलाड़ी खेलेंगे। दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स 887 अंक के साथ वनडे बल्लेबाजी रैंकिंग में शीर्ष पर हैं। उन्होंने भारत के विराट कोहली पर 25 अंक की मजबूत बढ़त बना रखी है। हाशिम अमला तीसरे स्थान पर हैं।

इसके साथ ही न्यूजीलैंड और श्रीलंका के बीच भी सात वनडे मैचों की शृंखला खेली जा रही है, जिसमें मेजबान न्यूजीलैंड ने पहला मैच तीन विकेट से जीतकर 1-0 से बढ़त बना ली है।

न्यूजीलैंड वर्ल्डकप से पहले दो वनडे मैचों में पाकिस्तान का भी सामना करेगा। टीम को वर्ल्डकप के पहले मैच में 14 फरवरी को क्राइस्टचर्च में श्रीलंका का सामना करना है।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement