NDTV Khabar

PAK vs NZ: इस कारण पीसीबी की ट्रॉफी आयी ट्रोलर्स के निशाने पर, जमकर उड़ा मजाक

वैसे इसमें दो राय नहीं कि पीसीबी को जो प्रायोजक मिल रहे हैं,  वास्तव में उनके नाम अजीबोगरीब ही हैं. और अब जब ऐसे नाम होंगे, तो भाई लोगों सोशल मीडिया के निशाने से बचना तो असंभव सरीखा है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
PAK vs NZ: इस कारण पीसीबी की ट्रॉफी आयी ट्रोलर्स के निशाने पर, जमकर उड़ा मजाक

PAK v NZ : ओए होए कप का अनावरण करते पाकिस्तानी और न्यूजीलैंड के कप्तान

खास बातें

  1. ट्रॉफी का अजब नाम, गजब नाम !
  2. नाम में क्या रखा है, खेल देखो यारों !
  3. यह पीसीबी भी करे, तो क्या करे!!
अबुधाबी:
टिप्पणियां

पिछले महीने की ही बात है, जब पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने ऑस्ट्रेलिया के साथ खेली गई टी-20 सीरीज के लिए ट्रॉफी का अनावरण किया था, तो सोशल मीडिया पर इसका जमकर मजाक बना था. वजह था इस ट्रॉफी का नाम था 'बिस्किट ट्रॉफी'. इस पर क्रिकेटप्रेमियों के चटखारे फीके भी नहीं पड़े थे कि अब न्यूजीलैंड के खिलाफ शुरू हुई टेस्ट सीरीज की ट्रॉफी के नाम का मजाक उड़ रहा है. इस टेस्ट सीरीज की ट्रॉफी का नाम 'ओए होए कप 2018' है. दोनों देशों के बीच शुक्रवार से शुरू हुए पहले टेस्ट (मैच रिपोर्ट) से पहले दिन वीरवार को ओए होए कप 2018 ट्रॉफी का अनावरण किया गया था. 

वीरवार को अबुधाबी के शेख जायद स्टेडियम में दोनों देशों के कप्तान सर्फराज अहमद और केन विलियम्स की मौजूदगी में ट्रॉफी का अनावरण किया गया, लेकिन जैसे ही इस ट्रॉफी की तस्वीरों सोशल मीडिया पर आईं, तो ट्रोलर्स ने नाम को लेकर इसका जमकर मजाक बनाया. एक क्रिकेटप्रेमी ने पिछली ट्रॉफी के नाम सहित ओए-होए कप का मजाक बनाते हुए इसी क्रम में कुछ और भी नाम गिनवा दिए. 
 
यह भी पढ़ें:  IND vs AUS: इसलिए आशीष नेहरा नहीं चाहते भुवनेश्वर कुमार हों ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट का हिस्सा

क्रिकेटप्रेमियों ने सिर्फ ही नहीं, बल्कि ट्रॉफी के डिजाइन को लेकर भी निशाना साधा. नदीम अहमद ने ट्विवटर पर लिखा कि आपको ऐसे आर्टिस्ट की जरूरत है, जो शीर्ष स्तर की क्रिकेट के लिए एक उपयुक्त ट्रॉफी बना सकता हो.  वैसे इसमें दो राय नहीं कि पीसीबी को जो प्रायोजक मिल रहे हैं, वास्तव में उनके नाम अजीबोगरीब ही हैं. और अब जब ऐसे नाम होंगे, तो भाई लोगों सोशल मीडिया पर लोगों के निशाने से बचना तो असंभव सरीखा है. 

पीसीबी की खिंचाई करने वाले पाकिस्तान ही नहीं, बल्कि भारतीय क्रिकेटप्रेमी भी हैं. जहां पाक क्रिकेटप्रेमियों ने अपने बोेर्ड की जमकर मजाक बनाई है, तो वहीं कुछ पाकिस्तानी ऐसे भी हैं, जिन्हें भारतीयों का खिल्ली उड़ाना पसंद नहीं है. गलत बात! भाई दिल पर मत लो! जब आप अपने बोर्ड पर हंस सकते हैं, तो भारतीय क्यों नहीं हंस सकते एक भारतीय प्रशंसक ने ट्विटर पर तंस कसते हुए चीन से बुद्धि आयात करने की सलाह दे डाली.
VIDEO: सुनिए की धोनी को टी-20 टीम से बाहर किए जाने पर क्रिकेट पंडितों ने क्या कहा

कुल मिलाकर यह दूसरा मौका है, जब पीसीबी को ट्रॉफी के नाम के लिए हंसी का पात्र बनना पड़ा है. लेकिन सवाल यह है कि आखिर पीसीबी करे, तो क्या करे. भईया जो पैसे देगा, उसे ही प्रायोजन का अधिकार मिलेगा. अब पीसीबी से पूछकर तो कंपनियों ने नाम रखा नहीं. बहरहाल, पैसे की तंगी से जूझ रही पीसीबी को आगे भी अगर कोई अजीबोगरीब नाम का प्रायोजक मिल जाए, तो चौंकिएगा आप बिल्कुल भी मत. 

 




Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement