NDTV Khabar

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के बारे में इमरान खान ने कही ये बात, मैच से पहले थे 'दुखी'

इमरान ने कहा, 'समस्या यह है कि हमारे पास इस युवा और अपरिपक्व प्रतिभा को सही तरह और पेशेवर तरीके से निखारने के लिए प्रणाली मौजूद नहीं है. लेकिन फिर भी प्रतिभाएं आ रही हैं.' उन्हें लगता है कि कप्तान और प्रबंधन को अब इस चैम्पियंस ट्राफी जीत का फायदा उठाते हुए 2019 विश्व कप की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के बारे में इमरान खान ने कही ये बात, मैच से पहले थे 'दुखी'

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इमरान खान.

खास बातें

  1. चैंपियंस ट्रॉफी में पाकिस्तान की जीत से उत्साहित हैं इमरान खान
  2. वर्तमान पाक टीम की तुलना अपने दौर की टीम से की
  3. कहा, पाक टीम में सुपर पावर बनने की काबिलियत
कराची: विश्व कप विजेता कप्तान इमरान खान ने कहा कि मौजूदा पाकिस्तानी टीम में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बड़ी टीम बनने की काबिलियत है, हालांकि उन्होंने माना कि देश में युवा प्रतिभाओं को निखारने की प्रणाली की कमी है. इमरान ने पाकिस्तान को 1992 विश्व कप में खिताबी जीत दिलायी थी. उन्होंने पत्रकारों से कहा, 'हमारी टीम तब विश्व क्रिकेट में सुपर पावर थी. लेकिन इस टीम में 'सुपर पावर' से बेहतर करने की काबिलियत है.' उन्होंने टीम की प्रशंसा करते हुए कहा कि वह यह देखकर काफी खुश हैं कि पाकिस्तानी क्रिकेट से अब भी युवा प्रतिभायें निकल रही हैं.

इमरान ने कहा, 'समस्या यह है कि हमारे पास इस युवा और अपरिपक्व प्रतिभा को सही तरह और पेशेवर तरीके से निखारने के लिए प्रणाली मौजूद नहीं है. लेकिन फिर भी प्रतिभाएं आ रही हैं.' उन्हें लगता है कि कप्तान और प्रबंधन को अब इस चैम्पियंस ट्राफी जीत का फायदा उठाते हुए 2019 विश्व कप की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए. उन्होंने टीम की तारीफ करते हुए कहा, 'इन लड़कों ने भारत से पहले मैच में करारी शिकस्त के बाद शानदार वापसी की. उन्हें बधाई.' 

उन्होंने हालांकि दुख व्यक्त किया कि पाकिस्तान इतनी बड़ी जनसंख्या वाला देश होने के बावजूद अन्य खेलों में पिछड़ रहा है और उसने हॉकी और स्क्वाश में भी अपना दर्जा गंवा दिया.

इमरान ने कहा, 'एक समय पर मुझे याद है कि हमारी हॉकी टीम और स्क्वाश खिलाड़ी नियमित रूप से विश्व खिताब जीतती थी और उन्हें हराना मुश्किल था. आज हम दोनों खेलों में जूझ रहे हैं.' मालूम हो कि चैंपियंस ट्रॉफी का फाइनल मैच होने से पहले इमरान खान अपनी टीम से काफी दुखी थे. फाइनल में टीम को जीत मिलते ही इमरान खान के सुर बदल गए हैं.

वर्ल्‍डकप-2019 में पाकिस्‍तान खिताब का दावेदार: अफरीदी

पाकिस्तान द्वारा अपना पहला चैंपियंस ट्रॉफी खिताब जीतने के बाद पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने सोमवार को अपने देश को 2019 में होने वाले वर्ल्‍डकप में खिताब के मजबूत दावेदारों में से एक बताया है. पाकिस्तान ने रविवार को भारत को 180 रनों से शिकस्त देते हुए पहली बार चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब अपने नाम किया. अफरीदी ने इस जीत के बाद कहा है कि पाकिस्तान में क्रिकेट वापस पटरी पर लौट आया है.

आईसीसी की वेबसाइट पर अपने कॉलम में अफरीदी ने लिखा है, "जिन टीमों ने पाकिस्तान को इस टूर्नामेंट में हल्के में लिया था, वे दोबारा यह गलती नहीं करेंगी. इस जीत के बाद पाकिस्तान ने 2019 की राह पकड़ ली है और वह इस वर्ल्‍डकप में जीत की दावेदार के तौर पर जाएगी." 

उन्होंने लिखा है, 'चैम्पियंस ट्रॉफी-2017 पाकिस्तानी प्रशंसकों को लंबे समय तक याद रहेगा. प्रशंसक खासकर युवा] जिन्होंने अपनी टीम को भारत को हराते हुए देखा है, वह अपनी टीम के इस प्रदर्शन को आने वाले वर्षों तक याद रखेंगे." अफरीदी लिखते हैं, "1992 वर्ल्‍डकप की जीत ने हमें नए मैच विजेता दिए और यह जीत उसके करीब है. मैं आश्वस्त हूं कि पाकिस्तान की क्रिकेट अब अपने पुराने रास्ते पर वापस लौटेगी. हम इस टीम को नई ऊंचाइयां छूते हुए देखेंगे. खासकर अगर यह टीम इसी जुनून और प्रतिबद्धता के साथ खेली तो.."

इनपुट: IANS
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement