NDTV Khabar

तीसरा वनडे : पाक की शर्मनाक हार के बाद अकरम-मियांदाद के निशाने पर कप्‍तान अजहर अली

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तीसरा वनडे : पाक की शर्मनाक हार के बाद अकरम-मियांदाद के निशाने पर कप्‍तान अजहर अली

पूर्व क्रिकेटरों के बयान पाक के वनडे कप्‍तान अजहर अली के लिए बाउंसर जैसे साबित हो रहे हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. पांच वनडे की सीरीज में 0-3 से पिछड़ रहा है पाकिस्‍तान
  2. तीसरे वनडे में इंग्‍लैंड ने तीन विकेट पर बना डाले थे 444 रन
  3. अजहर की जगह सरफराज को वनडे कप्‍तान बनाने की मांग की
कराची.:

इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे वनडे मैच में 169 रन की हार के साथ पांच मैचों की सीरीज में 0-3 से पिछड़ने के बाद पाकिस्तान के वनडे कप्तान अजहर अली को आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है. पाकिस्तान के मंगलवार रात रिकॉर्ड अंतर से हारने के बाद सीनियर बल्लेबाज अजहर को बर्खास्‍त करने की मांग हो रही है.

पूर्व खिलाड़ी निराश हैं कि इंग्लैंड ने तीन विकेट पर 444 रन का वनडे इंटरनेशनल का सर्वाधिक स्कोर खड़ा कर डाला और पाकिस्तान ने सीरीज भी गंवा दी. पूर्व टेस्ट कप्तान जावेद मियांदाद ने कहा, ‘समय आ गया है कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड स्वीकार करे कि उसने अजहर अली को कप्तान नियुक्त करके गलती की है और वेस्टइंडीज के खिलाफ अगले महीने होने वाली सीरीजके लिए किसी और को नियुक्त करे.’

उन्होंने कहा, ‘पिछले साल अजहर को नियुक्त करने का कोई तर्क नहीं था जबकि वह 2013 से वनडे टीम में भी नहीं था.’ मियांदाद ने कप्तान के लिए विकेटकीपर सरफराज अहमद को विकल्प बताया. एक अन्य पूर्व महान खिलाड़ी वसीम अकरम ने भी अगले कप्तान के लिए सरफराज के नाम का समर्थन किया. वसीम ने जियो न्यूज चैनल से कहा, ‘मुझे लगता है कि यह सही समय है कि सरफराज को जिम्मेदारी दी जाए और उसे वनडे टीम का कप्तान बनाया जाए. वह दबाव में प्रदर्शन करने वाला खिलाड़ी है और वह बदलाव ला सकता है.’


टिप्पणियां

एक अन्य पूर्व टेस्ट कप्तान रमीज राजा ने कहा कि वनडे सीरीज में पाकिस्तान के खराब प्रदर्शन के बाद अजहर अली पर अधिक दबाव होगा. उन्होंने कहा, ‘मैं सिर्फ इसे लेकर चिंतित हूं कि इस दबाव और आलोचना से अंतत: टेस्ट क्रिकेट में उसका प्रदर्शन प्रभावित हो सकता है.’ पाकिस्तान के पूर्व टेस्ट सलामी बल्लेबाज और कोच मोहसिन खान ने कहा कि तीसरे वनडे में पाकिस्तान की हार काफी निराशाजनक है. उन्‍होंने कहा, ‘इस प्रारूप में हम कहां जा रहे हैं। यह कोच मिकी आर्थर के लिए बड़ी चुनौती है कि वे टेस्ट मैचों की सफलता को सीमित ओवरों के क्रिकेट में दोहराएं.’

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement