NDTV Khabar

उमर अकमल को दुर्व्यवहार के लिए पीसीबी ने भेजा कारण बताओ नोटिस

मध्यक्रम के बल्लेबाज अकमल ने मुख्य चयनकर्ता इंजमाम-उल-हक और अन्य वरिष्ठ खिलाड़ियों के सामने अर्थर को अपशब्द कहे थे. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उमर अकमल को दुर्व्यवहार के लिए पीसीबी ने भेजा कारण बताओ नोटिस

उमर अकमल (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. टीम के मुख्य कोच मिकी अर्थर के साथ किए गए दुर्व्यवहार का है मामला.
  2. पीसीबी ने भेजा उमर अकलम को कारण बताओ नोटिस.
  3. इसकी प्रतिक्रिया देने के लिए उमर अकलम के पास केवल सात दिनों का समय है.
लाहौर: अपनी टीम के मुख्य कोच से अभद्रता के मामले में खिलाड़ी उमर अकमल पीसीबी की नजरों में आ गये हैं. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने गुरुवार को उमर को टीम के मुख्य कोच मिकी अर्थर के साथ किए गए दुर्व्यवहार के लिए कारण बताओ नोटिस भेजा है. उल्लेखनीय है कि मध्य क्रम के बल्लेबाज अकमल ने मुख्य चयनकर्ता इंजमाम-उल-हक और अन्य वरिष्ठ खिलाड़ियों के सामने अर्थर को अपशब्द कहे थे.  पाकिस्तान बोर्ड ने अकमल को इस मामले पर प्रतिक्रिया देने के लिए सात दिन का समय दिया है. 

पीसीबी ने ट्विटर पर लिखा, "बोर्ड ने आचार संहिता के उल्लंघन के लिए अकमल को कारण बताओ नोटिस भेजा है. मध्य क्रम के बल्लेबाज के पास इसकी प्रतिक्रिया देने के लिए केवल सात दिनों का समय है. ' अकमल राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में मिल रही सुविधाओं के उपयोग करना चाहते थे और इस संदर्भ में उन्होंने बुधवार को अर्थर को अपशब्द कहे.

यह भी पढे़ं : नए पीसीबी अध्यक्ष नजम सेठी बोले - भारत के साथ क्रिकेट खेलने को लेकर दरवाजे बंद नहीं किए

अकमल के इस व्यवहार पर अर्थर ने कहा कि उन्होंने खिलाड़ी को राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी की सुविधाओं के इस्तेमाल से कभी नहीं रोका, लेकिन उन्होंने अकमल को कोचिंग स्टॉफ की सेवाओं के इस्तेमाल से रोका था, क्योंकि वह अब अनुबंधित खिलाड़ी नहीं हैं. 

यह भी पढे़ं : भारत की मेजबानी में होने जा रहे एशिया कप अंडर-19 पर रोड़े अटकाने की फिराक में पाकिस्तान

'जियो टीवी' की रिपोर्ट के अनुसार, अर्थर ने कहा, 'अकमल बल्लेबाजी के लिए ग्रैंट फ्लावर की सेवा का इस्तेमाल करना चाहते थे. मैंने उन्हें कहा कि उन्हें इसके लिए पहले खेलने के अधिकार को हासिल करना होगा और क्लब क्रिकेट में खेलना होगा, क्योंकि वह अभी पीसीबी के करार में शामिल नहीं हैं. 'अर्थर ने कहा, 'मैंने उन्हें कभी भी अकादमी की सुविधाओं को इस्तेमाल करने से नहीं रोका. मैंने उन्हें कहा कि वह समर्थक स्टॉफ की सेवाओं का इस्तेमाल न करें, जब तक वह इसके काबिल नहीं हो जाते. उन्हें स्वयं को इस काबिल साबित करने की जरूरत है.'

अकमल को इस साल दो माह तक लगातार दो बार हुए टेस्ट में फेल होने के बाद मई में हुई चैम्पियंस ट्रॉफी के लिए पाकिस्तान की टीम में शामिल नहीं किया गया था. 

VIDEO : श्रीलंका के खिलाफ भारत ने जीती टेस्ट सीरीज

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि अकमल का नाम किसी विवाद में शामिल हुआ है. उन्हें अपनी कार पर फैंसी नंबर का गैरकानूनी तौर पर इस्तेमाल करने और ड्राइविंग के लिए नियमित तेजी की सीमा को तोड़ने के लिए एक पार्टी के दौरान हिरासत में ले लिया गया था.(इनपुट आईएएनएस से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement