इस गलती की अब बड़ी कीमत बीसीसीआई को चुकाएगा पीसीबी

इस गलती की अब बड़ी कीमत बीसीसीआई को चुकाएगा पीसीबी

बीसीसीआई का लोगो

दुबई:

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) की आर्थिक हालत बहुत ही ज्यादा खस्ता है. ऊपर से यह संस्थान बेकार की बातों में उलझती रहती है. और बेवजह का पंगा लेती रहती है.खासतौर पर पड़ोसी भारत या बीसीसीआई. से और अपनी इसी आदत की वजह से पीसीबी को लगा है बहुत ही जोर का झटका. और उसे यह झटका किसी और ने नहीं बल्कि इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने दिया है. और यह झटका पीसीबी को मोटी आर्थिक चपत लगाने जा रहा है. 

बता दें कि पिछले महीने पीसीबी ने 2014 और 2015 द्विपक्षीय सीरीज से नाम वापस लेने के मसले पर बीसीसीआई से 6.3 करोड़ रुपये की मांग की थी. पीसीबी की इस मांग को आईसीसी की विवाद निवारण समिति (डीआरसी) ने खारिज कर दिया था. अंत में आईसीसी ने बुधवार को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) से कहा है कि वह भारत के खिलाफ द्विपक्षीय सीरीज के रद्द होने के बाद मुआवजा मांगने के केस में हारने के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को कानूनी खर्चे का 60 फीसदी भुगतान मुआवजे के तौर पर करे. 

यह भी पढ़ें: सुनील गावस्‍कर का BCCI से सवाल, 'एमएस धोनी और शिखर धवन घरेलू क्रिकेट में क्‍यों नहीं खेल रहे'

नियमों के हिसाब से केस जीतने वाले पक्ष को हारने वाला पक्ष कानूनी खर्च देता है. आईसीसी के अनुसार डीआरसी ने कहा है कि पीसीबी को बीसीसीआई के दावे की कीमत, प्रशासनिक खर्च तथा पैनल के खर्च का भुगतान करना चाहिए. यह आंकड़े पीसीबी को आईसीसी द्वारा मुहैया कराए जाएंगे. दोनों बोर्ड ने अभी तक हालांकि पीसीबी द्वारा भुगतान की जाने वाली राशि के बारे में नहीं बताया है. 

VIDEO: जानिए कि ऑस्ट्रेलिया जाने से पहले विराट ने क्या कहा था. 

पीसीबी ने अपने बयान में कहा कि आईसीसी द्वारा बीसीसीआई की मुआवजे के दावे की तुलना में पीसीबी से कम राशि का भुगतान करने को कहना बताता है कि पीसीबी के केस में दम था. पीसीबी हालांकि आईसीसी के फैसले पर अपनी निराशा जाहिर करता है.


 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com