NDTV Khabar

कोच अनिल कुंबले के जाने से भारतीय क्रिकेट में खालीपन सा आ गया है : संजय बांगर

वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे वनडे की पूर्व संध्या पर अनिल कुंबले प्रकरण पर संजय बांगर से काफी सवाल पूछे गए.

197 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कोच अनिल कुंबले के जाने से भारतीय क्रिकेट में खालीपन सा आ गया है : संजय बांगर

विराट कोहली से मतभेद के बाद अनिल कुंबले ने टीम इंडिया के कोच पद से इस्‍तीफा दे दिया है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा-खिलाड़ी इस स्थिति से उबरने का प्रयास कर रहे हैं
  2. टीम का ध्‍यान इस समय अपने काम पर लगा हुआ है
  3. टीम इंडिया के बल्‍लेबाजी कोच हैं संजय बांगर
पोर्ट ऑफ स्पेन: टीम इंडिया के बैटिंग कोच संजय बांगर को मुख्‍य कोच अनिल कुंबले की कमी खल रही है. बांगर के अनुसार,  कुंबले के मुख्‍य कोच का पद छोड़ने से भारतीय क्रिकेट टीम में एक खालीपन सा आ गया है. हालांकि वे यह कहने से नहीं चूके कि  खिलाड़ी इससे अच्छी तरह उबर रहे हैं. वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे वनडे की पूर्व संध्या पर अनिल कुंबले प्रकरण पर बांगर से काफी सवाल पूछे गए. उन्होंने कहा, 'हम पेशेवर हैं और इस तरह की चीजें किसी भी संस्था का हिस्सा होती हैं, जहां बदलाव होता हैं. सहयोगी स्टाफ और खिलाड़ियों ने इन मुद्दों से खुद को दूर रखने में काफी पेशेवर रवैया दिखाया है और अभी तक हम इससे अच्छी तरह से उबर रहे हैं.'

पूर्व आलराउंडर ने कहा कि टीम का ध्यान अभी सिर्फ अपने काम पर लगा है. 44 वर्षीय खिलाड़ी ने कहा, 'हर किसी ने इसमें योगदान दिया है और जैसा कि मैंने कहा कि जब आप अलग होते हैं तो यह आसान नहीं होता. आपको कभी कभार इसे स्वीकार करना होता है, जब ऐसी चीजें होती हैं और ऐसा बीते समय में भी हो चुका है. लेकिन सबसे अहम यही है कि भारतीय क्रिकेट को आगे बढ़ते रहना चाहिए और टीम के प्रदर्शन पर किसी भी तरह से असर नहीं पड़ना चाहिए.'

बांगर ने कहा, 'हां, अनिल भाई के साथ हमने काफी सकारात्मक परिणाम हासिल किए. हम सभी जानते हैं कि टीम ने काफी सफलता हासिल की है. हां निश्चित रूप से थोड़ा खालीपन है लेकिन इस टीम के पास काफी अनुभव है जिसमें आपके पास महेंद्र सिंह धोनी है, युवराज सिंह और विराट कोहली हैं जो लगभग 700 के करीब अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं और वे खिलाड़ियों का मार्गदर्शन कर रहे हैं.'

गौरतलब है कि संजय बांगर ने 12 टेस्‍ट और 15 वनडे मैचों में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्‍व किया. बल्‍लेबाज के तोर पर उन्‍होंने टेस्‍ट मैचों में 29.37 के औसत से 470 रन और वनडे में 13.84 के औसत से 180 रन बनाए.इसके अलावा टेस्‍ट और वनडे मैचों में सात-सात विकेट भी बांगर के नाम पर दर्ज हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement