NDTV Khabar

ऑस्ट्रेलिया में क्रिकेट मैच के दौरान खिलाड़ियों में मारपीट... Video, जानिए क्रिकेट कब-कब हुआ शर्मसार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ऑस्ट्रेलिया में क्रिकेट मैच के दौरान खिलाड़ियों में मारपीट... Video, जानिए क्रिकेट कब-कब हुआ शर्मसार

ऑस्ट्रेलिया में दोषी बल्लेबाज-गेंदबाज और फील्डरों को सजा दी गई है...

खास बातें

  1. पिछले साल बरमूडा में घरेलू मैच के दौरान हुई थी मारपीट
  2. ऑस्ट्रेलिया में फील्डरों ने बल्लेबाज को मिलकर पीटा
  3. पाकिस्तान सुपर लीग में सामने आया है मैच फिक्सिंग का मामला
नई दिल्ली: जेंटलमैन गेम कहे जाने वाले क्रिकेट की छवि दिनोंदिन धूमिल होती जा रही है. पहले जहां यह मैच के दौरान दर्शकों के उत्पात की वजह से खबरों में रहता था, वहीं अब तो खिलाड़ियों के कारनामों की वजह से सुर्खियों में रहता है. चाहे मैच फिक्सिंग हो या मैदान पर खिलाड़ियों के बीच कहासुनी. सबसे चिंता की बात यह है कि यह कहासुनी अब मारपीट तक पहुंचने लगी है. पिछले साल सितंबर की घटना तो आपको याद ही होगी, जिसमें बरमूडा के जैसन एंडरसन ने घरेलू मैच के दौरान अपनी विरोधी टीम के खिलाड़ी जार्ज ओ ब्रायन को मैदान पर ही पीट दिया था और फिर दोनो वहीं भिड़ गए थे. अब क्रिकेट को शर्मसार करने वाली एक अन्य घटना ऑस्ट्रेलिया से सामने आई है, जिसमें बल्लेबाज ने विकेट का जश्न मना रहे गेंदबाज को कंधा मारकर गिरा दिया.. जिसके बाद खिलाड़ी आपस में भिड़ गए... नीचे पढ़िए कब-कब क्रिकेट हुआ शर्मसार...

यह घटना पिछले सप्ताह की है, जिसका वीडियो वायरल हो रहा है. वीडियो में साफतौर पर देखा जा सकता है कि विक्टोरिया की याकंदानदाह का तेज गेंदबाज एस्कडेल के बल्लेबाज को बोल्ड करने के बाद जश्न मनाता हुआ उसकी ओर जा रहा है. गेंदबाज को जश्न मनाता देख बल्लेबाज भड़क गया और उसने उसे कंधा मारकर गिरा दिया. फिर क्या था यह मामला आगे बढ़ गया और अन्य खिलाड़ी भी इसमें शामिल हो गए. एक क्षेत्ररक्षक ने उस बल्लेबाज को ही धक्का दे दिया जिसके बाद साथी क्षेत्ररक्षक भी उसमें शामिल हो गए.

क्रिकेट के नियम बनाने वाले मेरिलबोन क्रिकेट क्लब ने मैदान में खराब बर्ताव के लिए हाल में सजा देने के नए नियम की घोषणा की ही थी कि यह मामला सामने आ गया. घटना के गेंदबाज को चार हफ्ते की निलंबन की सजा दी गई है जबकि बल्लेबाज और क्षेत्ररक्षकों को अगले साल जनवरी तक के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया है.

अल्बरी वुडॉन्गा क्षेत्रीय क्रिकेट प्रतियोगिता के चेयरमैन माइकल एर्डलजैक ने विन न्यूज टेलीविजन से कहा, 'मैं यह समझ सकता हूं कि लोग अपने खेल और क्षेत्र को लेकर जुनूनी होते हैं. वह अपने होमटाउन का प्रतिनिधित्व करते हैं, लेकिन यह सीमाओं का उल्लंघन है और यह घटना तो उससे भी बढ़कर है.'

देखें Video...


एमसीसी ने पिछले सप्ताह ही यह घोषणा की थी कि अंपायरों को जल्द ही खराब व्यवहार के कारण खिलाड़ियों को मैदान से बाहर करने का अधिकार मिलेगा. यह निलंबन अस्थायी या स्थायी भी हो सकता है.

इस घटना से पहले भी क्रिकेट को शर्मसार करने वाली कई घटनाएं हो चुकी हैं...

बरमूडा में मैदान पर ही हो गए गुत्थमगुत्था
पिछले साल सितंबर की इस घटना के समय बरमूडा के लिए ए-श्रेणी के नौ और पांच टी-20 गेम खेल चुके एंडरसन विकेटकीपिंग कर रहे थे. ओवरों के बीच में वे ओ ब्रायन पर कुछ कमेंट करते जा रहे थे, बाद में बात बिगड़ गई और वे दोनों भिड़ गए ब्रायन ने एंडरसन पर बल्ला चला दिया और देखते-देखते ही दोनों मैदान पर गुत्थमगुत्था हो गए और उनके बीच जमकर मारपीट हुई.


लिली को मारने दौड़े मियांदाद
यह घटना नवंबर, 1981 में पाकिस्तान के ऑस्ट्रेलिया टूर के दौरान की है. पर्थ टेस्ट के दौरान डेनिस लिली ने रन लेते समय पाकिस्तानी बल्लेबाज जावेद मियांदाद का रास्ता रोकने की कोशिश की. इससे जावेद मियांदाद इतने नाराज हो गए कि बैट लेकर लिली को मारने दौड़ पड़े. इस बीच अंपायरों ने उनको शांत किया.

अर्जुन यादव स्टंप, तो अंबाती रायडू बल्ला लेकर दौड़े
दिसंबर, 2005 में आंध्रप्रदेश और हैदराबाद के बीच अनंतपुर के मैदान पर खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी मैच के दौरान यह घटना हुई. अर्जुन यादव हैदराबाद की ओर से खेल रहे थे. जैसे ही अंबाती रायडू आउट हुए अर्जुन ने पीछे से कुछ कमेंट किया. बात इतनी बढ़ गई कि अर्जुन स्टम्प लेकर, तो रायडू बैट लेकर एक-दूसरे की ओर बढ़े. बाद में फील्ड अंपायर्स ने दोनों को अलग किया.

जब भिड़ गए गौतम गंभीर और विराट कोहली
यह घटना आईपीएल-2013 में कोलकाता नाइट राइडर्स रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू के बीच हुए मैच की है. इसमें नाइट राइडर्स के कप्तान गौतम गंभीर और विराट कोहली के बीच कहासुनी हो गई. आक्रामक विराट कोहली जब आउट हुए, तो पैवेलियन लौटते समय कुछ अपशब्द बोल रहे थे, यह सुनकर गंभीर गुस्से में कोहली के पास पहुंच गए. बात आगे बढ़ती देखकर खिलाड़ियों ने बीच-बचाव किया

रवींद्र जडेजा को एंडरसन ने दिया धक्का
इंग्लैंड के तेज गेंदबाज एंडरसन ने जुलाई, 2014 में टीम इंडिया के ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा को मैदान पर गाली दी थी और उन्हें धक्का दिया था. यह घटना तब हुई थी, जब लंच के समय सभी खिलाड़ी मैदान से बाहर जा रहे थे. घटना के समय जडेजा के साथ कप्तान एमएस धोनी भी थे.

पोलार्ड ने स्टार्क पर चलाया बल्ला
आईपीएल-2014 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु और मुंबई इंडियंस के बीच खेले गए मैच में मिचेल स्टार्क ने जब अपना रन-अप लेकर गेंद फेंकने के लिए दौड़ना शुरू किया, तो पोलार्ड ने उन्हें रुकने का इशारा किया, लेकिन स्टार्क ने गेंद उनके ऊपर ही फेंक दी और कुछ अपशब्द भी कहे. इससे पोलार्ड गुस्से में आ गए और स्टार्क की ओर पूरा जोर लगाकर बल्ला मारा, हालांकि बल्ला उनके पीछे चला गया. बाद में दोनों टीमों के कप्तानों ने उनको समझाया.

टिप्पणियां
माइक गेटिंग ने अंपायर शकूर राणा को कहा 'चीटर'
दिसंबर, 1987 में इंग्लैंड के पाकिस्तान दौरे में फैसलाबाद टेस्ट के दौरान अंपायर शकूर राणा के एक फैसले से इंग्लैंड के कप्तान माइक गेटिंग नाराज हो गए और उन्होंने राणा को 'चीटर' कह दिया. इस पर दोनों में जमकर कहासुनी हुई. बाद में राणा ने कहा कि जब तक गेटिंग माफी नहीं मांग लेते, तब तक खेल नहीं होगा. यहां तक कि पूरे दिन का खेल इसकी भेंट चढ़ गया.

हरभजन सिंह और एंड्रयू साइमंड्स के बीच 'मंकीगेट' विवाद
जनवरी, 2008 में भारत के ऑस्ट्रेलिया टूर के दौरान हरभजन सिंह और एंड्रयू साइमंड्स के बीच 'मंकीगेट' विवाद को भला कौन भूल सकता है. इस विवाद के बाद दोनों टीमों में जबर्दस्त तनाव पैदा हो गया था. सिडनी टेस्ट के दौरान साइमंड्स ने भज्जी पर नस्लीय कमेंट करने का आरोप लगाया था. बाद में उन्हें अपना आरोप वापस लेना पड़ा.
(इनपुट भाषा से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement