यह ख़बर 21 नवंबर, 2014 को प्रकाशित हुई थी

प्रदीप कुमार की कलम से : ग्लेन मैक्ग्रा की ललकार और टीम इंडिया का संकट...

प्रदीप कुमार की कलम से : ग्लेन मैक्ग्रा की ललकार और टीम इंडिया का संकट...

फाइल चित्र

नई दिल्ली:

टेस्ट क्रिकेट की सबसे रोमांचक सीरीज़ में अब ज्यादा दिन नहीं बचे हैं... भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट सीरीज़ का पहला मुकाबला 4 दिसंबर से ब्रिस्बेन में शुरू होने जा रहा है... लेकिन टीम इंडिया इस दौरे के लिए रवाना हो, उससे पहले ही ऑस्ट्रेलियाई खेमे ने भारत पर मनोवैज्ञानिक दबाव बनाना शुरू कर दिया है... ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज़ ग्लेन मैक्ग्रा के मुताबिक, मेजबान ऑस्ट्रेलियाई टीम मेहमान भारत को क्लीन स्वीप से हराएगी...

जाहिर है, ग्लेन मैक्ग्रा इंटेलिजेंट दिमाग वाले क्रिकेटर रहे हैं, सो, अगर वह कुछ कह रहे हैं तो उसकी अपनी वजहें भी होंगी... वर्ष 1985 से अब तक भारत ने ऑस्ट्रेलिया में 23 टेस्ट मैच खेले हैं, लेकिन उनमें से महज दो मैच जीतने में कामयाबी हासिल कर पाए हैं। भारत ने ये दो टेस्ट मैच भी तब जीते थे, जब टीम इंडिया में सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण जैसे दिग्गज बल्लेबाज़ मौजूद थे, लेकिन इस बार टीम इंडिया में इस तरह का कोई भरोसेमंद बल्लेबाज़ नजर नहीं आ रहा है...

वैसे, सीरीज़ शुरू होने से पहले दोनों ही टीमें एक जैसी मुश्किल से गुजर रही हैं, क्योंकि भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ब्रिस्बेन टेस्ट से पहले फिट नहीं हो पाएंगे, और उधर, वहीं माइकल क्लार्क का भी पहले मुकाबले में खेलना तय नहीं है...

इतना ही नहीं, अबू धाबी में पाकिस्तान के खिलाफ ऑस्ट्रेलियाई टीम का प्रदर्शन बेहद औसत रहा, जबकि वेस्ट इंडीज़ टीम के दौरा अधूरा छोड़कर लौट जाने से टीम इंडिया को टेस्ट मैचों के अभ्यास का मौका ही नहीं मिला...

Newsbeep

इन सब परिस्थितियों के बावजूद खेलप्रेमियों को भरोसा है कि दोनों टीमों के बीच बेहद रोमांचक सीरीज़ देखने को मिलेगी और इस भरोसे की वजह है दोनों टीमों में बेहद टैलेंटेड खिलाड़ियों की मौजूदगी... हालांकि निश्चित तौर पर पलड़ा मेजबान ऑस्ट्रेलिया का ही भारी दिख रहा है, क्योंकि भारतीय टीम में अनुभवी बल्लेबाज़ों का अभाव है, और वैसे भी वे परंपरागत तौर पर बाउंस और सीम को बेहतरीन ढंग से नहीं खेल पाते... जबकि दूसरी ओर, ऑस्ट्रेलिया के पास मिशेल जॉनसन, रयान हैरिस और पीटर सिडल के रूप में बेहतरीन गेंदबाज़ों की तिकड़ी मौजूद है... ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए चुनी गई टीम इंडिया के सामने बेहद मुश्किल चुनौती इसलिए भी होगी, क्योंकि यह टीम वर्ल्डकप को ध्यान में रखकर चुनी गई है, टेस्ट मुकाबलों को ध्यान में रखकर नहीं...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सो, ऑस्ट्रेलियाई पिचों पर ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज़ों का सामना करना मुश्किल तो है, लेकिन रोहित शर्मा, विराट कोहली, शिखर धवन और चेतेश्वर पुजारा जैसे बल्लेबाज़ों में मुश्किल चुनौती को आसान बनाने का माद्दा भी है...