Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

प्रवीण कुमार ने बताया भारतीय सीमरों की सफलता का कारण

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रवीण कुमार ने बताया भारतीय सीमरों की सफलता का कारण

प्रवीण कुमार

खास बातें

  1. ऑस्ट्रेलिया को वॉर्नर व स्मिथ की कमी खेली-प्रवीण
  2. भारतीय टीम तीनों फॉर्मेंटों में उभरी
  3. सभी भारतीय सीमर डेथ ओवरों में बेहतर करने में सक्षम
नई दिल्ली:

भारतीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज प्रवीण कुमार ने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम की ऐतिहासिक जीत पर खुशी जताई, तो उन्होंने ऑस्ट्रेलिया को मिली हार के पीछे भी अपना तर्क रखा. प्रवीण ने माना कि ऑस्ट्रेलिया को पूर्व कप्तान स्टीवन स्मिथ और डेविड वॉर्नर की कमी खली लेकिन उन्होंने साथ ही कहा कि मौजूदा ऑस्ट्रेलियाई टीम कमजोर नहीं है. भारत ने हाल ही में 70 साल बाद विराट कोहली की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया में 2-1 से टेस्ट सीरीज अपने नाम की. प्रवीण से जब पूछा गया कि भारत को क्या ऑस्ट्रेलिया के अनुभवहीन होने का फायदा मिला तो उन्होंने कहा कि इसका फायदा कहीं न कहीं भारत को हुआ लेकिन फिर भी ऑस्ट्रेलिया को कमजोर कहना सही नहीं होगा.

प्रवीण ने आईपीएसएसपीबी क्रिकेट टूर्नामेंट के लांच के मौके पर कहा, "अनुभव न होने का फायदा प्रतिद्वंद्वी को मिलता है. पहले ऑस्ट्रेलिया की टीम कॉम्पैक्ट थी. मैथ्यू हेडेन, एडम गिलक्रिस्ट, रिकी पोटिंग, सब थे. इस बार डेविड वॉर्नर और स्टीवन स्मिथ के न होने से थोड़ा फर्क तो पड़ा लेकिन फिर भी ऑस्ट्रेलिया की टीम इतनी हल्की टीम नहीं है कि हम कह सकें उस टाइम की बहुत अच्छी थी और यह टीम अच्छी नहीं है." प्रवीण ने कहा कि भारतीय टीम खेल की तीनों प्रारूप में एक बेहतरीन गेंदबाजी इकाई के रूप में उभरी है. ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट और वनडे सीरीज में गेंदबाजों का अहम योगदान रहा था. प्रवीण का मानना है कि मौजूदा भारतीय टीम में अलग-अलग शैली के गेंदबाज हैं, जिससे टीम को फायदा हुआ है. उन्होंने साथ ही कहा कि इस टीम का गेंदबाजी आक्रमण काफी कॉमपैक्ट है.


यह भी पढ़ें: मिताली राज के इस 'विराट रिकॉर्ड' के आगे महेंद्र सिंह धोनी भी पीछे छूटे

प्रवीण ने कहा कि फिलहाल भारत का बड़ा जबरदस्त गेंदबाजी आक्रमण है. कोई चाइनामैन है, कोई लेग स्पिनर है. केदार जाधव भी बीच में अच्छा डाल रहे हैं. बात करें मोहम्मद शमी की, भुवी (भुवनेश्वर) की तो इनमें से ऐसा कोई नहीं है जो डेथ ओवरों में गेंदबाजी न कर पाता हो. हमारे चारों-पांचों तेज गेंदबाज डेथ में भी अच्छी गेंद डाल रहे हैं और नई गेंद से भी. बीच के ओवरों में भी अच्छी गेंदबाजी हो रही है. इससे पता चलता है कि एक इकाई के तौर पर यह सभी अच्छा काम कर रहे हैं और इन लोगों के बीच अच्छा तालमेल है. प्रवीण भारत के मजबूत गेंदबाजी आक्रमण की वजह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) को बताते हैं. उनके मुताबिक आईपीएल ने गेंदबाजों को काफी कुछ सिखाया है। 

टिप्पणियां

VIDEO: ऑस्ट्रेलिया में भारत ने पहली बार द्विपक्षीय सीरीज जीती. 

उन्होंने कहा, "आईपीएल बड़ा प्लेटफॉर्म है. आईपीएल ने गेंदबाजों को काफी कुछ सिखाया, कैसे बचना है, कैसे विकटें लेनी हैं, कैसे डेथ ओवरों में गेंदबाजी करनी है. इससे काफी फर्क पड़ा है. आप भुवी को ही देख लें. 2008 में जब वो आया था, तब मेरे ख्याल में वो 120-122 की स्पीड से गेंद करता था. सभी ट्रेनिंग करते गए, अपने आप को फिट रखते गए. इसका काफी फर्क पड़ा है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... IND vs NZ: दीप्ती शर्मा ने मारा ऐसा बोल्ड, गुस्से में जमीन पर बैट मारने लगी बल्लेबाज, देखें Video

Advertisement