NDTV Khabar

पूर्व क्रिकेटर ने रोहित शर्मा की टेस्ट टीम में वापसी पर उठाया सवाल

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पूर्व क्रिकेटर ने रोहित शर्मा की टेस्ट टीम में वापसी पर उठाया सवाल

रोहित शर्मा

खास बातें

  1. 25 टेस्ट में 39.97 का औसत है रोहित शर्मा का
  2. ऑस्ट्रेलिया धरती पर रोहित ने खेले हैं सिर्फ 3 टेस्ट
  3. ऑस्ट्रेलिया में रोहित का औसत है 28.83

पिछले दिनों ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए टेस्ट में रोहित शर्मा की वापसी पर क्रिकेट का एक तबका हैरानी में था. दबी जुबां में एमएसके प्रसाद के बयान पर चर्चा हो रही थी कि जो तर्क उन्होंने दिया, वह तो  पहले भी रोहित शर्मा पर लागू रहा है. बहरहाल, अब पूर्व क्रिकेटर बद्रीनाथ रोहित शर्मा की टेस्ट टीम में वापसी पर हैरान हैं. 

दरअसल एमएसके प्रसाद ने कहा था कि रोहित शर्मा के बैकफुट के खेल के लिए ऑस्ट्रेलियाई की पिचें काफी अनुकूल हैं. और इसीलिए उन्हें टेस्ट टीम में जगह दी गई. ऐसे में भारतीय क्रिकेटप्रेमी चर्चा कर रहे हैं कि रोहित शर्मा का बैकफुट तो पहले भी ऐसा ही था, जैसा वर्तमान में है. लेकिन बद्रीनाथ इस बात से हैरान हैं कि घरेलू क्रिकेट में बरसने वाले मयंक अग्रवाल की अनदेखी करते हुए रोहित को टीम में जगह देना हैरान करने वाला है. मयंक अग्रवाल ने 2017-18 घरेलू सत्र में 1160 रन बनाए हैं. इसमें एक तिहरा शतक भी शामिल है. 

बद्रीनाथ ने कहा कि मयंक अग्रवाल की कोई गलती नहीं है. वह लगातार रन बना रहे हैं और बड़ी पारियां खेल रहे हैं. उसने अपनी मेहनत से टीम में जगह हासिल की, लेकिन अभी तक एक भी मैच नहीं खेला. बिना खिलाए मयंक अग्रवाल को बाहर कर दिया गया. ऐसे में मैं चयनकर्ताओं से पूछना चाहूंगा कि आखिरकार उनकी क्या प्रक्रिया है? क्या मयंक को केवल संतुष्टि देने भर के लिए टीम में शामिल किया गया. ऐसा कर चयनकर्ता क्या करने की कोशिश कर रहे हैं. 

यह भी पढ़ें: ...तो 'इतनी पारियां' पहले ही विराट कोहली सचिन के शतकों का रिकॉर्ड तोड़ देंगे, GRAPHICS

बद्रीनाथ ने कहा कि सफेद गेंद के खिलाफ रोहित एकदम जुदा खिलाड़ी हैं, लेकिन दीर्घकालिक क्रिकेट में रोहित के रन नहीं रहे हैं. बद्री ने कहा कि सभी जानते हैं कि रोहित ने लाल गेंद के सामने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है. ऐसे में उनका चयन क्यों किया गया? आप सफेद गेंद के खिलाफ उन्हें सर्वश्रेष्ठ सलामी बल्लेबाज करार दे सकते हो, लेकिन लाल गेंद के खिलाफ रोहित बेहतर करने में नाकाम रहे हैं. 

VIDEO: जानिए कि तीसरे वनडे में भारत की हार के बाद क्रिकेट विशेषज्ञ क्या कह रहे हैं.

क्रिकेटप्रेमी भी मयंक अग्रवाल का चयन ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए न होने से हैरान हैं. जहां एक बार मुरली विजय की वापसी हुई, लेकिन रनों का अंबार लगाने वाले मयंक अग्रवाल की पूरी तरह अनदेखी कर दी गई. सांत्वना पुरस्कार के नाम पर मयंक को कुछ दिन बाद न्यूजीलैंड ए टीम के खिलाफ होने वाली सीरीज में भारत ए टीम में जगह दी गई है. 
 

टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... बेटी की शादी कराने के बाद सास को हुआ दामाद से प्यार, एक साल बाद ही दिया बच्चे को जन्म

Advertisement