हरमनप्रीत कौर के समर्थन के बाद पोवार ने महिला कोच पद के लिए फिर आवेदन किया, यह है कारण..

रमेश पोवार (Ramesh Powar) ने फिर से महिला क्रिकेट टीम (Indian Women's team) के कोच पद के लिए आवेदन किया है.

हरमनप्रीत कौर के समर्थन के बाद पोवार ने महिला कोच पद के लिए फिर आवेदन किया, यह है कारण..

महिला टी20 वर्ल्‍डकप के बाद कोच रमेश पोवार और मिताली राज का विवाद सुर्खियों में रहा था (फाइल फोटो)

खास बातें

  • कहा, हरमनप्रीत और स्‍मृति ने मेरा समर्थन किया
  • आवेदन न करके मैं उन्‍हें निराश नहीं करना चाहता था
  • पोवार का सीनियर क्रिकेटर‍ मिताली राज से हुआ था विवाद
मुंबई:

भारतीय टी20 टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) और उप कप्तान स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) के समर्थन के बाद रमेश पोवार (Ramesh Powar) ने फिर से महिला क्रिकेट टीम (Indian Women's team) के कोच पद के लिए आवेदन किया है. महिला कोच के रूप में रमेश पोवार के विवादास्पद कार्यकाल का अंत 30 नवंबर को हुआ था. 40 साल के इस पूर्व भारतीय स्पिनर ने इस बात की पुष्टि की कि उन्होंने कोच के पद के लिए आवेदन किया है. पोवार ने कहा, ‘हां, मैंने आवेदन किया है क्योंकि स्मृति और हरमनप्रीत ने मेरा समर्थन किया और मैं आवेदन नहीं करके उन्हें निराश नहीं करना चाहता.' गौरतलब है कि पोवार के मार्गदर्शन वाली भारतीय टीम को पिछले महीने विश्व टी20 चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में इंग्लैंड के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था.

संजय मांजरेकर का ट्वीट, 'कोच रमेश पोवार के रोल को बढ़ा-चढ़ाकर पेश कर रहीं हरमनप्रीत कौर'

पोवार और हरमनप्रीत सहित टीम प्रबंधन ने इस नॉकआउट मैच में सीनियर खिलाड़ी मिताली राज को बाहर रखने का फैसला किया था जिस पर काफी विवाद हुआ था. वेस्टइंडीज से स्वदेश लौटने के बाद मिताली ने पोवार (Ramesh Powar) और प्रशासकों की समिति की सदस्य डायना एडुल्जी पर उनके करियर को नुकसान पहुंचाने का प्रयास करने और उनके खिलाफ भेदभाव करने का आरोपल लगाया था. पोवार ने भी मिताली पर आरोप लगाया था कि उन्होंने सलामी बल्लेबाजी के रूप में नहीं खिलाने पर वर्ल्‍ड टी20 टूर्नामेंट के बीच में संन्यास लेने की धमकी दी और टीम में समस्या पैदा की.
वीडियो: महिला क्रिकेटर मिताली राज से विशेष बातचीत
इस विवाद के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने कोच पद के लिए नए सिरे से आवेदन मंगाने का फैसला किया और इसके लिए अंतिम तिथि 14 दिसंबर तय की गई है. हरमनप्रीत और स्मृति पहले ही कह चुकी हैं कि वे चाहती हैं कि पोवार (Ramesh Powar) अपने पद पर बरकरार रहें जबकि मिताली उनकी वापसी के खिलाफ हैं. (इनपुट: भाषा)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com