NDTV Khabar

RANJI TROPHY FINAL: बड़ा कारनामा! 'ऐसी हैट्रिक' रजनीश गुरबानी ने पहली बार बनाई 83 साल के रणजी इतिहास में!

इंदौर के होल्कर स्टेडियम में खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी फाइनल के दूसरे दिन विदर्भ के रजनीश गुरबानी ने वह कारनामा किया, जो करीब 84 साल के रणजी ट्रॉफी के इतिहास में पहले कभी नहीं हुआ.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
RANJI TROPHY FINAL: बड़ा कारनामा! 'ऐसी हैट्रिक' रजनीश गुरबानी ने पहली बार बनाई 83 साल के रणजी इतिहास में!

रजनीश गुरबानी (रणजी ट्रॉफी फाइनल में हैट्रिक बनाने वाले विदर्भ के गेंदबाज)

खास बातें

  1. यह हैट्रिक नहीं आसां..!
  2. बी. कल्याणसुंदरम ने पहली बार रणजी फाइनल में बनाई थी हैट्रिक
  3. 'यह बड़ा अंतर' है रजनीश और कल्याणसुंदरम की हैट्रिक में
नई दिल्ली:

इंदौर के होल्कर स्टेडियम में दिल्ली और मुंबई के बीच खेले जा रहे पांचदिनी रणजी ट्रॉफी फाइनल के मुकाबले के दूसरे दिन शनिवार को सुबह-सुबह शनिदेव का कहर दिल्ली पर टूटा! यह कहर ढाया सेमीफाइनल में अपने बूते  कर्नाटक से जीत छीन लेने वाले युवा सीम गेंदबाज रजनीश गुरबानी ने. रजनीश गुरबानी ने हैट्रिक जड़कर वह कारनामा कर दिखाया, जो उनसे पहले  इस टूर्नामेंट के इतिहास में शायद ही कोई गेंदबाज कर सका है. बता दें कि कुल मिलाकर यह रणजी ट्रॉफी टूर्नामेंट के करीब 83 साल के इतिहास में बनने वाली कुल 74वीं हैट्रिक रही.
 


रणजी ट्रॉफी में पहली बार कोई हैट्रिक साल 1934-45 में उत्तर भारत के बागा जिलानी ने साउदर्न पंजाब के खिलाफ बनाई थी. बहरहाल रजनीश गुरबानी की हैट्रिक टूर्नामेंट के करीब आठ दशकों के इतिहास में फाइनल में बनने वाली केवल दूसरी ही हैट्रिक रही. उनसे पहले  यह कारनामा साल 1973-73 के सेशन  में मुंबई और तमिलनाडु के बीच खेले गए रणजी ट्रॉफी के फाइनल में तमिलनाडु के बी कल्याणसुंदरम ने किया था. उन्होंने मुंबई की दूसरी पारी के दौरान आखिरी चार बल्लेबाजों को आउट किया था. 

यह भी पढ़ें : 'यह बड़ा अड़ंगा' युवराज सिंह व सुरेश रैना की वापसी में खड़ा किया बीसीसीआई ने!
 


बी. कल्याणसुंदरम द्वारा बनाई गई हैट्रिक के बाद करीब 34 साल बाद रणजी ट्रॉफी के फाइनल में हैट्रिक बनाने का कारनामा रजनीश गुरबानी के हिस्से में आया. होल्कर स्टेडियम में चल रहे मैच के दूसरे दिन शनिवार को उन्होंने सुबह के सेशन में गुरबानी ने विकास मिश्रा, नवदीप सैनी और इसके बाद उन्होंने जमकर खेल रहे और शतकवीर ध्रुव शौरी (145) को आउट करके इतिहास रच दिया.

टिप्पणियां

VIDEO : कुछ ही दिन पहले गौतम गंभीर ने एनडीटीवी के साथ बातचीत में कई मुद्दों पर बेबाकी से राय दी.

अभी तक रणजी ट्रॉफी के फाइनल में बनी दो हैट्रिक में रजनीश गुरबानी के साथ अलग बात यह रही कि न केवल उन्होंने तीनों बल्लेबजों को बोल्ड आउट किया, बल्कि तीसरी गेंद पर शतकवीर बल्लेबाज का विकेट लिया. वहीं, बी. कल्याणसुंदरम की हैट्रिक में एक बल्लेबाज का विकेट एलबीडब्ल्यू था और तीनों ही बल्लेबाज अपना खाता नहीं खोल सके थे.

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement