NDTV Khabar

Ranji Trophy: ...अब चेतेश्वर पुजारा का रणजी में जलवा, सौराष्ट्र ने रचा 84 साल का 'सबसे बड़ा' इतिहास

गुजरी 19 तारीख से लखनऊ में खेले गए इस क्वार्टरफाइनल की पहली पारी में उत्तर प्रदेश ने पहली पारी में 385 रन बनाए थे, जिसके जवाब में सौराष्ट्र की टीम पहली पारी में सिर्फ 208 रन बनाकर आउट हो गई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Ranji Trophy: ...अब चेतेश्वर पुजारा का रणजी में जलवा, सौराष्ट्र ने रचा 84 साल का 'सबसे बड़ा' इतिहास

चेतेश्वर पुजारा

खास बातें

  1. सेमीफाइनल में पहुंचा सौराष्ट्र
  2. उत्तर प्रदेश का सपना चूर, छह विकेट से हार
  3. हार्विक देसाई ने खेली शतकीय पारी
लखनऊ:

टीम इंडिया की दूसरी वॉल चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने पहले अपने बेहतरीन प्रदर्शन से ऑस्ट्रेलिया को उसकी धरती पर 2-1 से मात देने में बड़ी भूमिका निभाई थी, तो अब बिल्कुल सही समय समय पुजारा ने रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy Quarterfinal) के क्वार्टरफाइनल (Uttar Pradesh vs Saurashtra) में उत्तर प्रदेश के खिलाफ शनिवार को आखिरी दिन बल्लेबाजी का बेहतरीन नमूना पेश किया. और इससे सौराष्ट्र सेमीफाइनल में तो पहुंच ही गया,  साथ ही इस टीम ने वह कारनामा कर दिखाया जो रणजी ट्रॉफी के 84 साल के इतिहास में इससे पहले कोई भी टीम नहीं कर सकी थी. 

गुजरी 19 तारीख से लखनऊ में खेले गए इस क्वार्टरफाइनल की पहली पारी में उत्तर प्रदेश ने पहली पारी में 385 रन बनाए थे, जिसके जवाब में सौराष्ट्र की टीम पहली पारी में सिर्फ 208 रन बनाकर आउट हो गई थी. यूपी को पहली पारी में 177 रन की बढ़त मिली, लेकिन दूसरी पारी में उसकी बल्लेबाजी की हवा निकल गई. दूसरी पारी में सिर्फ 194 रन ही बना सकी. और इससे सौराष्ट्र को जीतने के लिए 372 रन का टारगेट मिला. 



यह भी पढ़ें:  IND vs AUS: क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से ज्यादा प्राइज मनी Online Quiz पर, ट्रोलर्स बरसे, धोनी ने लिया 'यह फैसला'

सौराष्ट्र ने 115.1 ओवरों में सिर्फ 4 विकेट के नुकसान पर 372 का स्कोर बना लिया. पुजारा ने 110 गेंदों पर नाबाद 67 और शेल्डन जैक्सन ने 109 गेंदों पर नाबाद 73 रन बनाए. इन दोनोों के अलावा 19 साल के हार्विक देसाई ने भी 116 रन की पारी खेली. इन कोशिशों का नतीजा यह रहा कि सौराष्ट्र ने रणजी ट्रॉफी के इतिहास के सबसे बड़े स्कोर (372) रनों का सफलतापूर्वक पीछा करके इतिहास रच दिया. 

टिप्पणियां

VIDEO: एडिलेड टेस्ट के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान विराट कोहली. 

इसी के साथ ही पहली पारी में महत्वपूर्ण बढ़त लेने वाली उत्तर प्रदेश की टीम टूर्नामेंट से बाहर हो गई. ऑस्ट्रेलिया दौरे से लौटने के बाद पुजारा तुरंत ही अपने राज्य की टीम से जुड़े थे.  पहली पारी में वह सिर्फ 11 ही रन बनाकर आउट हो गए थे, लेकिन दूसरी पारी में नाबाद 67 रन बनाकर उन्होंने उस काम को  बखूबी अंजाम दिया, जिस मकसद के लिए वह जुड़े थे. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement