NDTV Khabar

टीम इंडिया के कोचिंग पद के लिए दोबारा आवेदन भरने को तैयार रवि शास्त्री, भरत अरुण, संजय बांगड़

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
टीम इंडिया के कोचिंग पद के लिए दोबारा आवेदन भरने को तैयार रवि शास्त्री, भरत अरुण, संजय बांगड़

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  1. तीनों कोच (अरूण, बांगड़, श्रीधर) शास्त्री के साथ आवेदन भर रहे हैं
  2. शास्त्री ने कहा, 18 महीने की कोचिंग का समय सबसे यादगार
  3. बीसीसीआई अध्यक्ष कर चुके हैं सहयोगी स्टाफ के काम की तारीफ
नई दिल्ली: भारतीय टीम के पूर्व निदेशक रवि शास्त्री के अपने सहयोगी स्टाफ संजय बांगड़, भरत अरुण और आर श्रीधर के साथ अगले कुछ दिनों में बीसीसीआई के राष्ट्रीय कोचिंग पद के लिए दोबारा आवेदन भरने को तैयार हैं। बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पुष्टि की कि शास्त्री बल्लेबाजी कोच बांगड़, गेंदबाजी कोच अरूण और क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर के साथ अपना आवेदन भेजेंगे।

इसकी जानकारी रखने वाले बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर पीटीआई से कहा, ‘‘सभी तीनों कोच (अरूण, बांगड़, श्रीधर) शास्त्री के साथ आवेदन भर रहे हैं क्योंकि उन्हें बीसीसीआई के शीर्ष अधिकारियों से सकारात्मक संकेत मिले हैं। अब आवेदन का प्रारूप होगा तो प्रत्येक आवेदक को इन नियमों का पालन करना होगा। वे विज्ञापन के आने का इंतजार कर रहे हैं।’’
(रवि शास्त्री और महेंद्र सिंह धोनी)

बीसीसीआई अध्यक्ष कर चुके हैं सहयोगी स्टाफ के काम की तारीफ
बीसीसीआई के सूत्र के अनुसार अनुराग ठाकुर के अध्यक्ष चुने जाने से कुछ दिन पहले सहयोगी स्टाफ ने दिल्ली में उनसे मुलाकात की थी और चर्चा सकारात्मक बताई जा रही थी क्योंकि उन्होंने इनके काम की तारीफ की थी।
 
(संजय बांगड़)

‘टीम शास्त्री’ के पिछले 18 महीनों के कामकाज की प्रशंसा कर चुके हैं ठाकुर
सूत्र ने कहा, ‘‘बीसीसीआई अध्यक्ष ने स्पष्ट किया कि उचित सुपात्र आवेदन भर सकते हैं। साथ ही ठाकुर ने ‘टीम शास्त्री’ के पिछले 18 महीनों के कामकाज की प्रशंसा भी की थी। युवा टीम ने विदेशों में अच्छी सफलता भी हासिल की थी। यह उचित होगा कि उन्हें भी अन्य आवेदकों की तरह बराबरी का मौका मिले।’’

शास्त्री ने कहा, 18 महीने की कोचिंग का समय सबसे यादगार
हाल में शास्त्री ने पीटीआई से बातचीत में कहा था कि भारतीय क्रिकेट के साथ करीब तीन दशक के जुड़ाव में भारतीय टीम की 18 महीने की कोचिंग का समय सबसे यादगार अनुभव था। यह पूछने पर कि कोच चुने जाने के मापदंड क्या होंगे तो सूत्र ने कहा कि उम्मीदवारों को दो तरीकों से देखा जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘लेवल तीन की डिग्री जिसमें सीनियर टीम की कोचिंग का अनुभव विशेषकर अंतरराष्ट्रीय टीमों के साथ या जिसने अपने देश के लिए कम से कम 50 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हों। ऐसा इसलिए क्योंकि अगर हम कोचिंग डिग्री के साथ ही लोगों को आमंत्रित करेंगे तो काफी बेफालतू आवेदन आ जाएंगे।’’

टिप्पणियां
सूत्र ने कहा, ‘‘साथ ही अगर केवल कोचिंग डिग्री को ही मान्य रखा जाएगा तो शास्त्री के आवेदन पर विचार नहीं किया जा सकता जबकि उन्होंने भारत के लिए 80 टेस्ट मैच खेले हैं।’’

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement