मैंने और साहा ने गेंदों को मेरिट के आधार पर खेलने का फैसला किया था : रोहित शर्मा

मैंने और साहा ने गेंदों को मेरिट के आधार पर खेलने का फैसला किया था : रोहित शर्मा

रोहित शर्मा ने 82 रनों की शानदार पारी खेली (फाइल फोटो)

खास बातें

  • रोहित ने नौ चौकों, दो छक्कों की मदद से बनाए 82 रन
  • साहा के साथ सातवें विकेट के लिए 103 रन जोड़े
  • टेस्ट जीती तो रैंकिंग में टॉप पर आ जाएगी टीम इंडिया
कोलकाता:

न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन टीम इंडिया उस स्थिति में पहुंच गई है जहां से वह जीत हासिल कर टेस्ट रैंकिंग में फिर टॉप पर आने के बारे में सोच सकती है. टीम इंडिया इस समय टेस्ट रैंकिंग में पाकिस्तान के पीछे है. भारतीय टीम को इस स्थिति में पहुंचाने का श्रेय बहुत कुछ रोहित शर्मा को जाता है जिन्होंने अनियमित उछाल वाले विकेट पर 82 रन (132 गेंद, नौ चौके, दो छक्के) खेलकर मैच के तीसरे दिन दूसरी पारी का स्कोर 227/8 तक पहुंचाने में खास भूमिका निभाई. एक समय भारतीय टीम के छह विकेट महज 109 रन पर गिर गए थे लेकिन रोहित और ऋद्धिमान साहा ने सातवें विकेट के लिए 103 रन जोड़े. इस तरह मैच में  टीम इंडिया की कुल बढ़त 339 रन की हो गई है.

रोहित आखिरकार कीवी स्पिनर मिचेल सेंटनर के शिकार बने. मैच के बाद रोहित शर्मा ने कहा 'हमने शुरुआत में जल्दी-जल्दी विकेट गंवाए. ऐसे में पार्टनरशिप करना जरूरी हो गया था. विराट दुर्भाग्यशाली रहे कि गलत समय पर आउट हुए.' रोहित के अनुसार, ऐसे समय में मैंने और ऋद्धिमान साहा ने गेंद को उनकी मेरिट के आधार पर खेलने का निर्णय लिया. उन्होंने कहा, 'विकेट जिस तरह का है, उस लिहाज से मुझे लगता है कि 340 का स्कोर अच्छा है, लेकिन हमारे हमारे पास अभी दो विकेट हैं. ऐसे में कुछ और रन टीम के खाते में जुड़ेंगे.' रोहित ने कहा कि 'मेरे लिए यह जरूरी था कि विकेट पर जाकर टीम के लिए रन जुटाऊं. विकेट को देखते हुए आपको सावधान रहना होता है. साहा और मैंने स्ट्राइक को बखूबी रोटेट किया.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com