NDTV Khabar

SA VS AUS: इस सजा से नहीं बच सके कागिसो रबाडा, पर किया यह 'बड़ा कारनामा'

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में रबाडा को सजा मिलना तय था, पर उन्होंने दिखाया है कि उनमें महान गेंदबाज बनने के लक्षण हैं

160 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
SA VS AUS: इस सजा से नहीं बच सके कागिसो रबाडा, पर किया यह 'बड़ा कारनामा'

कैगिसो रबाडा

खास बातें

  1. लेवल-1 और 2 दोनों अपराध के लिए मिली रबाडा को सजा
  2. अगले दो टेस्ट मैच नहीं खेल पाएंगे रबाडा
  3. दूसरे टेस्ट में 11 विकेट चटकाकर बने हैं मैन ऑफ द मैच
नई दिल्ली: आखिर वही हुआ, जो होना था. दक्षिण अफ्रीका के अति उत्साही युवा तेज गेंदबाज कागिसो रबाडा को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खत्म हुए दूसरे टेस्ट में अपने किए की भुगतनी पड़ी है. आईसीसी के मैच रेफरी ने उन्हें ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर दोनों के खिलाफ किए गए अमर्यादित बर्ताव के लिए कड़ी सजा सुनाई है. हालांकि, रबाडा ने दूसरे टेस्ट के समापन के साथ ही अपना नाम इतिहास में दर्ज करा दिया. 
  दूसरे टेस्ट के बाद हुई सुनवाई के लिए मैच रेफरी ने आईसीसी की आचार संहिता के तहत उनकी कुल मैच फीस का पचास फीसदी जुर्माना उन पर ठोका. स्टीव स्मिथ के मामले में खुद पर लगे आरोपों से इनकार के बाद अनुशासनात्मक कमेटी ने स्टीव स्मिथ के साथ किए गए शारीरिक संपर्क के लिए उन्हें सजा सुना ही दी. आर्थिक दंड के अलावा उन्हें तीन डिमेरिट प्वाइंट्स भी मिले.  और इससे पूरी तस्वीर ही बदल गई.

यह भी पढ़ें :  इस मजबूरी के चलते विराट कोहली चुका रहे हैं फ्लैट का हर महीने 15 लाख रुपये किराया

टिप्पणियां
इन तीन डिमेरिट प्वाइंट्स का अर्थ यह हुआ कि पिछले 24 महीने के भीतर उनके कुल आठ डिमेरिट प्वाइंट हो गए. और इसके कारण वह खुद-ब-खुद ही दो मैचों के लिए निलंबित हो गए. वहीं रबाडा ने डेविड वॉर्नर के मामले में लगे दूसरे लेवल-1 के आरोप को स्वीकार कर लिया. उन्होंने भाषा के जरिए वॉर्नर को उत्तेजित करने की बात स्वीकारी.
  इसका नतीजा यह रहा कि उनकी 15 फीसदी फीस कट गई. इसके उनके कुल डिमेरिट प्वाइंट्स नौ हो गए. कुल मिलाकर रबाडा दो टेस्ट मैचों के लिए निलंबित हो गए. और उन्हें अपनी 50 फीसदी मैच फीस गंवानी पड़ी, लेकिन इसके बावजूद उन्होंने अपने बड़े कारनामे से दूसरे टेस्ट को यादगार बना दिया. 
 
VIDEO :    रबाडा ने कहा है कि वह अपनी अभिव्यक्ति का अंदाज नहीं बदलेंगे.
  दरअसल कागिसो अपनी उम्र के 23 साल पूरे करने से पहले ही सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले चौथे गेंदबाज बन गए. इस मामले में वकार यूनुस (190, 33 टेस्ट) पहले, हरभजन सिंह दूसरे (144, 33 टेस्ट), कपिल देव (136, 35 टेस्ट) तीसरे नंबर पर हैं. रबाडा 28 टेस्ट में 135 विकेट चटकाकर चौथे नंबर पर आ गए हैं. वहीं न्यूजीलैंड के डेनियल विटोरी (125, 36 टेस्ट) पांचवें नंबर पर हैं. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement