सचिन ने स्व. दिग्गज डीन जोंस की प्रशंसा में कही यह अहम बात

तेंदुलकर ने याद किया कि कैसे अस्सी के दशक में में जोंस तेज गेंदबाजों पर हावी हो जाते थे जबकि आक्रामक बल्लेबाजी का जमाना नहीं था. उन्होंने कहा, ‘उन्होंने अस्सी के दशक और नब्बे के दशक के शुरू में जो भी क्रिकेट खेली और वह अपने समय से आगे के खिलाड़ी थे.

सचिन ने स्व. दिग्गज डीन जोंस की प्रशंसा में कही यह अहम बात

ऑस्ट्रेलिया के दिवंगत बल्लेबाज डीन जोंस

नई दिल्ली:

सचिन तेंदुलकर को इसमें कोई संदेह नहीं कि अगर डीन जोंस टी20 क्रिकेट के जमाने में खेल रहे होते तो बल्लेबाजों में उनकी सबसे अधिक मांग होती. ऑस्ट्रेलिया के 59 वर्षीय पूर्व क्रिकेटर का वीरवार को मुंबई के एक होटल में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था. वह इंडियन प्रीमियर लीग की कमेंट्री के सिलसिले में भारत में थे. तेंदुलकर ने ऑस्ट्रेलिया के 1991-92 दौरे को भी याद किया और कहा जब वह युवा थे तब उन्हें जोंस को बल्लेबाजी करते हुए देखना पसंद था. उनका मानना है कि जोन्स की बेपरवाह बल्लेबाजी को देखते हुए वह टी20 क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करते.

तेंदुलकर ने कहा, ‘‘वह निश्चित तौर पर सबसे लोकप्रिय टी20 खिलाड़ी होते, इसमें कोई संदेह नहीं है.अगर वह नीलामी में होते तो जोंस की सबसे अधिक मांग होती. वह शानदार स्ट्रोक प्लेयर थे. विकेटों के बीच दौड़ में उनका कोई सानी नहीं था और बेहतरीन क्षेत्ररक्षक थे. उनमें वह सब चीजें थी जो टी20 में चाहिए होती हैं.' तेंदुलकर ने कहा, ‘वह वनडे के इतने अच्छे खिलाड़ी थे कि वह टी20 क्रिकेट में आसानी से सामंजस्य बिठा लेते. क्रिकेट के प्रारूप गतिशील हैं और लेकिन वह जरूरत के हिसाब से खुद को ढाल लेते और टी20 में शीर्ष खिलाड़ियों में से एक होते.'

तेंदुलकर ने याद किया कि कैसे अस्सी के दशक में में जोंस तेज गेंदबाजों पर हावी हो जाते थे जबकि आक्रामक बल्लेबाजी का जमाना नहीं था. उन्होंने कहा, ‘उन्होंने अस्सी के दशक और नब्बे के दशक के शुरू में जो भी क्रिकेट खेली और वह अपने समय से आगे के खिलाड़ी थे. वह तेज गेंदबाजों पर हावी हो जाते थे और यह अस्सी के दशक की बात है.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.