NDTV Khabar

स्पॉट फिक्सिंग : सात माह की कैद काटकर रिहा हुए सलमान बट्ट

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
स्पॉट फिक्सिंग : सात माह की कैद काटकर रिहा हुए सलमान बट्ट

खास बातें

  1. स्पॉट फिक्सिंग में लिप्त होने के कारण साढ़े तीन साल जेल की सजा पाने वाले पूर्व पाकिस्तान कप्तान सलमान बट्ट सात महीने की सजा काटने के बाद गुरुवार को कैंटरबरी जेल से रिहा हो गए।
लंदन:

स्पॉट फिक्सिंग में लिप्त होने के कारण साढ़े तीन साल जेल की सजा पाने वाले पूर्व पाकिस्तान कप्तान सलमान बट्ट सात महीने की सजा काटने के बाद गुरुवार को कैंटरबरी जेल से रिहा हो गए।

वह ब्रिटिश सरकार के जल्द कैदी रिहाई योजना के तहत जेल से बाहर निकले। उनके जल्द से जल्द पाकिस्तान लौटने की संभावना है।

उनके वकील यासिन पटेल ने एक बयान में कहा, सलमान बट्ट को पिछले कई महीनों से निजी और परिवार की तरफ से पीड़ा, तनाव, दबाव और अपमान सहना पड़ा। उन्होंने कहा, वह स्वदेश लौटेगा। इससे सलमान को अपने परिजनों और रिश्तेदारों के साथ समय बिताने का मौका मिलेगा। वह अपने बेटे को देखने और उसे गोद में लेने के लिए बेताब है, जिसे पिछले साल नवंबर में उसके जन्म के बाद से ही बट्ट ने नहीं देखा है। वह अब अपने प्यारे देश में लौट सकता है। वह फिर से अपनी खोई प्रतिष्ठा वापस पाने और शीर्ष स्तर की क्रिकेट में लौटने के लिए प्रयास शुरू कर सकता है।

टिप्पणियां

पटेल ने कहा कि बट्ट पाकिस्तान लौटने के बाद ही मीडिया से बात करेगा। उन्होंने कहा, वह बहुत थका हुआ है। एक बार जब उसे थोड़ा आराम मिल जाएगा, तब वह सही समय पर मीडिया से बात करेगा। जिस योजना के तहत बट्ट को रिहा किया गया उसमें तुरंत ही देश छोड़ना होता है। ऐसी दशा में बट्ट 10 साल तक इंग्लैंड नहीं लौट पाएगा।


आसिफ और आमिर को बट्ट के निर्देशों पर जान बूझकर नोबॉल करने के लिए सजा दी गई थी। बट्ट ने इसके लिए मजीद से करार किया था। इन्हें पिछले नवंबर में साउथवर्क कोर्ट ने दोषी पाया था। आईसीसी ने बट्ट पर 10 साल का प्रतिबंध लगाया है। क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था ने आसिफ और आमिर पर भी प्रतिबंध लगाया है।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement