NDTV Khabar

उमेश यादव ने कहा, बैटिंग कोच संजय बांगर ने बताया किस कारण मेरी लाइन-लेंथ हो रही थी प्रभावित

76 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
उमेश यादव ने कहा, बैटिंग कोच संजय बांगर ने बताया किस कारण मेरी लाइन-लेंथ हो रही थी प्रभावित

उमेश यादव ने केकेआर की ओर से गुरुवार को किंग्‍स इलेवन पंजाब के खिलाफ चार विकेट लिए (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. यादव बोले, अतिरिक्‍त रफ्तार के लिए मैं तेज दौड़ रहा था
  2. अच्‍छी गेंदबाजी के लिए रनिंग पर नियंत्रण रखना है जरूरी
  3. मैं जितनी ज्‍यादा बॉलिंग करूंगा, प्रदर्शन उतना ही बेहतर होगा
कोलकाता: टीम इंडिया के नंबर एक गेंदबाज की हैसियत रखने वाले तेज गेंदबाज उमेश यादव ने बैटिंग कोच संजय बांगर से मिले टिप्‍स को गेंदबाजी सुधारने के लिहाज से फायदेमंद माना है. उनके अनुसार, इन टिप्‍स के कारण ही ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज में वे अच्‍छा प्रदर्शन कर पाए. उमेश ने कहा,‘जब आप रन गंवाते हैं या कुछ अतिरिक्त करने का प्रयास करते हैं तो आपकी लय प्रभावित होती है. संजय भाई ने मुझे बताया कि मैं अतिरिक्त रफ्तार के लिए तेज दौड़ रहा हूं जिससे मेरी लाइन और लेंथ पर असर पड़ा.उन्होंने कहा कि रनिंग पर नियंत्रण रखना जरूरी है.’ उन्होंने कहा,‘मेरी मेहनत रंग ला रही है. मैं पिछले आठ-दस महीने से लगातार टेस्ट क्रिकेट खेल रहा हूं. सीधी सी बात है कि जितनी ज्यादा मैं गेंदबाजी करूंगा, उतना ही प्रदर्शन बेहतर होगा.’ बांगड़ और मुख्य कोच अनिल कुंबले को श्रेय देते हुए उन्होंने कहा,‘मुझे अब पता है कि मुझे किन क्षेत्रों में गेंद डालनी है. बांगड़ और अनिल कुंबले को गेंदबाजी का अपार ज्ञान है. उनसे बात करके काफी मदद मिली. उन्होंने बताया कि कब मैडन ओवर डालने हैं और कब विकेट लेने का प्रयास करना है.’

उमेश यादव में आईपीएल-10 के पहले मैच में उतरते हुए गुरुवार को किंग्‍स इलेवन पंजाब के चार बल्‍लेबाजों को आउट किया. उनके इस प्रदर्शन का केकेआर टीम को जीत दिलाने में अहम योगदान रहा. गौरतलब है कि टीम इंडिया का 2016-17 का सीजन काफी शानदार रहा और इस दौरान तेज गेंदबाज का प्रदर्शन बेहतरीन रहा है. इस सीजन में उमेश ने 11 मैचों में 25 विकेट लिये हैं और उनकी इकोनॉमी मात्र 3.03 की रही. उमेश हमेशा से ही अच्‍छी आउट स्विंगर डालते रहे हैं लेकिन उन्‍होंने अब इन स्विंगर पर भी काफी काम किया है. उन्‍होंने कुछ दिनों पहले कहा था, 'मैं हमेशा से अच्‍छी गति से आउटस्विंगर डालता रहा हूं लेकिन अब इनस्विंगर पर भी बहुत मेहनत की है. अब इस गेंद को लेकर भी विश्‍वास से भर चुका हूं.' (भाषा से इनपुट)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement