पूर्व लेग स्पिनर अब्दुल कादिर ने शाहिद आफरीदी से कहा- क्रिकेट को अलविदा कह दो

पूर्व लेग स्पिनर अब्दुल कादिर ने शाहिद आफरीदी से कहा- क्रिकेट को अलविदा कह दो

शाहिद आफरीदी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

पूर्व पाकिस्तानी कप्तान शाहिद आफरीदी कई बार क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर चुके हैं और टी-20 वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के प्रदर्शन को लेकर उन पर काफ़ी हमले हो रहे हैं। इस बार पाकिस्तान के पूर्व लेग स्पिनर अब्दुल क़ादिर (67 टेस्ट, 236 विकेट और 104 वनडे में 132 विकेट) ने आफरीदी से क्रिकेट को अलविदा कहने की अपील की है।

क़ादिर हमेशा से अपनी बेबाक प्रतिक्रियाओं के लिए जाने जाते हैं। क़ादिर कहते हैं कि आफ़रीदी की उम्र हो चुकी है और अब वह टॉप लेवल की क्रिकेट के लिए फ़िट नहीं हैं। क़ादिर कहते हैं, मुझे नहीं लगता अब आफरीदी में क्रिकेट का दम बचा है और इसलिए उन्हें क्रिकेट को अलविदा कह देना चाहिए।

आखिरी टेस्ट 2010 में खेला था
36 साल के शाहिद आफरीदी ने आखिरी टेस्ट 2010 में खेला था (27 टेस्ट, 1716 रन, 5 शतक, 48 विकेट) जबकि आख़िरी वनडे मार्च 2015 (398 वनडे, 8064 रन, 6 शतक, 395 विकेट) में  खेला था। वर्ल्ड टी20 के बाद उन्होंने पाकिस्तान टीम की कप्तानी तो छोड़ दी, लेकिन टी20 को अलविदा कहने से इंकार कर दिया। आफरीदी ने अब तक 98 अंतरराष्ट्रीय टी-20 (98 टी20, 1405 रन, 97 विकेट) में हिस्सा लिया है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उमर अकमल की भी खिंचाई की
लाहौर में हुए एक समारोह के दौरान कादिर ने अपने दामाद उमर अकमल की भी खिंचाई की। उन्होंने कहा कि
उमर अकमल अपनी गलतियों की वजह इंग्लैंड जाने वाली पाकिस्तानी टीम में शामिल नहीं किए गए हैं। उमर अकमल अनुशासनहीनता की वजह से इंग्लैंड दौरे की टीम में शामिल नहीं किया गया। उमर हाल ही में एक डांस शो के दौरान झगड़े की वजह से विवादों में आ गए थे।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर भी लगाए आरोप
कादिर ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर भाई-भतीजावाद और भ्रष्टाचार का भी आरोप लगाया। क़ादिर का यह भी मानना है कि पाकिस्तान को एक विदेशी कोच की खोज के बजाए टीम के लिए एक घरेलू कोच नियुक्त कर देना चाहिए। हाल ही में पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर स्टुअर्ट लॉ ने पाकिस्तान का कोच बनने से मना कर दिया और पीसीबी के अध्यक्ष शहरयार ख़ान ने माना कि उन्हें टीम के लिए कोच ढूंढने में परेशानी हो रही है। उन्होंने यह भी कहा कि अगर पीसीबी किसी विदेशी कोच को नियुक्त करना चाहती है तो सर विविचन रिचर्ड्स से बेहतर और कोई नाम नहीं हो सकता।