शोएब मलिक ने टी20 से संन्यास पर स्पष्ट की अपनी स्थिति, बोले कि....

मलिक (Shoaib Malik) ने कहा कि मेरा हमेशा ही पूरा ध्यान सीखने पर रहा. यह एक ऐसी प्रक्रिया है, जो आपके प्रत्येक चीज हासिल करने के बावजूद भी कभी भी नहीं रुकती. उन्होंने कहा कि यह उनकी जिद भर थी जिसके कारण वह इस मुकाम तक पहुंचने में कामयाब रहे. हाल ही में टी-20 में दस हजार रन बनाने वाले एशिया का पहला बल्लेबाज बनने पर मलिक ने कहा कि उनके बैटिंग ऑर्डर को देखते हुए यह उपलब्धि आसान नहीं थी.

शोएब मलिक ने टी20 से संन्यास पर स्पष्ट की अपनी स्थिति, बोले कि....

पाकिस्तान के साथ पूर्व कप्तान शोएब मलिक

नई दिल्ली:

हाल ही में पाकिस्तान के दिग्गज बल्लेबाज और सानिया मिर्जा के पति शोएब मलिक (Shoaib Malik) ने टी-20 में बड़ा रिकॉर्ड बनाया है. शोएब मलिक (Shoaib Malik) भी अब सीनियर हो चले हैं और एमएस धोनी की राह पर हैं. पाकिस्तानी मीडिया और पूर्व क्रिकेटरों के बीच उनकी उम्र और भविष्य को लेकर चर्चा जोर-शोर से होने लगी है, लेकिन शोएब मलिक का मानना है कि अभी तो वह जवान हैं !! शोएब मलिक (Shoaib Malik) ने साफ कर दिया है कि उनका हाल-फिलहाल टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का बिल्कुल भी इरादा नहीं है. और जब तक उनका शरीर इजाजत दे रहा है, वह टी-20 खेलना जारी रखेंगे.

यह भी पढ़ें:  राजस्थान को जीत दिलाने के बाद ट्रेडिशनल 'बिहु' डांस करने लगे रियान पराग, जमकर नाचे...देखें video

शोएब मलिक ने एक पाकिस्तानी चैनल में कहा मैं अच्छा महसूस कर रहा हूं. मैं फिट और सक्रिय हूं. मैं अपनी क्रिकेट का पूरा लुत्फ उठा रहा हूं और मेरा टी20 से संन्यास लेना का बिल्कुल भी कोई इरादा नहीं है. फिर चाहे यह घरेलू हो या फिर अंतरराष्ट्रीय. पूर्व कप्तान ने कहा कि मैं अपने अनुभव को युवा खिलाड़ियों के साथ साझा करना चाहता हूं क्योंकि उनका वरिष्ठों से सीखना बहुत ही महत्वपूर्ण बात है. अपने लंबे करियर को याद करते हुए शोएब ने कहा कि कैसे उन्हें अनुभवी खिलाड़ियों के साथ ड्रेसिंग रूम साझा करने का मौका मिला और अलग-अलग उम्र के समूह में खेले, जिसने उनकी शुरुआती दिनों में खासी मदद की. 

यह भी पढ़ें:  बैंगलोर और कोलकाता की टक्कर, आंद्रे रसेल का खेलना संदिग्ध, जानें टीमों की संभावित XI

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मलिक ने कहा कि मेरा हमेशा ही पूरा ध्यान सीखने पर रहा. यह एक ऐसी प्रक्रिया है, जो आपके प्रत्येक चीज हासिल करने के बावजूद भी कभी भी नहीं रुकती. उन्होंने कहा कि यह उनकी जिद भर थी जिसके कारण वह इस मुकाम तक पहुंचने में कामयाब रहे. हाल ही में टी-20 में दस हजार रन बनाने वाले एशिया का पहला बल्लेबाज बनने पर मलिक ने कहा कि उनके बैटिंग ऑर्डर को देखते हुए यह उपलब्धि आसान नहीं थी. पूर्व कप्तान बोले कि यह आसान यात्रा नहीं थी. वास्तव में, मिड्ल ऑर्डर बल्लेबाज के लिए ऐसे फॉर्मेट में दस हजार रन बनाना आसान नहीं है, जो निचले क्रम में बल्लेबाज को सीमित अवसर प्रदान करता है. मैंने कभी इस बारे में नहीं सोचा और यह मेरे लिए बड़ा सम्मान है. मैं यहीं नहीं रुकूंगा और मैं जिस भी टीम के लिए खेलूंगा, रन बनाना जारी रखूंगा. 
 

VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी. ​