NDTV Khabar

6 साल पहले : धोनी का वह छक्का... रवि शास्त्री की आवाज, कुछ ऐसे याद कर रहे वीरेंद्र सहवाग और अन्य धुरंधर...

191 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
6 साल पहले : धोनी का वह छक्का... रवि शास्त्री की आवाज, कुछ ऐसे याद कर रहे वीरेंद्र सहवाग और अन्य धुरंधर...

एमएस धोनी ने जैसे ही विजयी छक्का लगाया युवराज सिंह ने गले लगाने के लिए बाहें फैला दीं...

खास बातें

  1. भारत ने पहला वनडे वर्ल्ड कप कपिल देव की कप्तानी में जीता था
  2. 28 साल बाद 2011 में धोनी की कप्तानी में यह गौरव फिर हासिल हुआ
  3. धोनी ने आसमानी छक्के के साथ वर्ल्ड कप दिलाया था
नई दिल्ली: इसी साल की शुरुआत में एमएस धोनी ने टीम इंडिया की कमान पूरी तरह से विराट कोहली को सौंप दी थी. धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने कई कीर्तिमान रचे. पहला टी-20 वर्ल्ड कप जीता, टेस्ट में टीम को नंबर वन बनाया, आईसीसी चैंपियन्स ट्रॉफी जीती, लेकिन सबसे सुनहरा मौका तब आया जब भारत ने 28 साल बाद वनडे वर्ल्ड कप पर कब्जा किया. 1983 में कपिल देव की कप्तानी में वर्ल्ड चैंपियन बनने के बाद से टीम कई बार इस दहलीज तक पहुंची थी, लेकिन अहम मुकाबलों में हारकर इससे वंचित रह जाती थी, लेकिन धोनी ने टीम को यह माद्दा दिया कि खिताबी मुकाबलों को कैसे अपने पक्ष में किया जाता है. साल 2011 में वनडे वर्ल्ड कप का फाइनल भी आसान नहीं था, लेकिन धोनी ने आगे बढ़कर नेतृत्व करते हुए न केवल खुद को बैटिंग में प्रमोट किया बल्कि वर्ल्ड कप लेकर ही लौटे. वह भी अपनी चिरपरिचित 'विनिंग सिक्स' वाली स्टाइल के साथ... वास्तव में हम इसकी चर्चा इसलिए कर रहे हैं, क्योंकि उन्होंने यह कमाल आज ही के दिन (2 अप्रैल, 2011) किया था. धोनी का वह सिक्स और रवि शास्त्री की आवाज में उसका उद्घोष आज भी गूंज उठता है... तभी तो वीरेंद्र सहवाग जैसे कई क्रिकेटर इसे अपने-अपने अंदाज में शेयर कर रहे हैं...

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में श्रीलंका की ओर से रखे गए 275 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम इंडिया ने 114 रन पर तीन विकेट खो दिए थे. वीरेंद्र सहवाग, सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली जैसे बल्लेबाज लौट चुके थे. कोहली के आउट होने पर लग रहा था कि शानदार फॉर्म में चल रहे युवराज सिंह क्रीज पर आएंगे, लेकिन धोनी ने हमेशा की तरह सबको चौंकाते हुए क्रीज की ओर अपने कदम बढ़ा दिए... ऐसा लग रहा था कि जैसे उन्होंने तय कर लिया हो कि वह वर्ल्ड कप लेकर ही लौटेंगे और ऐसा ही किया... धोनी अपनी 91 रनों की पारी में 79 गेंदों का सामना किया और टीम को 6 विकेट से जीत दिलाई... जब मैच खत्म हुआ तो उनके साथ युवराज सिंह क्रीज पर थे...

वानखेड़े में जैसे ही धोनी ने नुवान कुलशेखरा की दूसरी गेंद को अविस्मरणीय छक्के के लिए उछाला, तो सबकी नजरें हवा में तैरती गेंद पर टिक गईं और रवि शास्त्री की आवाज गूंजने लगी... इतने में गेंद दर्शकों में समा गई... और जश्न शुरू हो गया... यह दृश्य आज भी भारतीय फैन्स और क्रिकेटरों के दिल में ताजा है. BCCI ने 6 साल पहले मिले वर्ल्ड कप और धोनी के विजयी छक्के के साथ ही रवि शास्त्री की आवाज का बखान करते हुए ट्वीट किया...

देखिए Video ...
वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट किया...
मोहम्मद कैफ ने लिखा...
आकाश चोपड़ा ने कहा... अन्य कई क्रिकेटरों और फैन्स ने इस दिन को याद करते हुए कप्तान धोनी के उस छक्के को अविस्मरणीय बताया है...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement