IND vs SA : इन पांच खिलाड़ियों को 'निशाने' पर रखेगी दक्षिण अफ्रीकी टीम...

द.अफ़्रीकी मीडिया के मुताबिक मेज़बान टीम को एक नहीं भारत के 'पांच सितारों' से सावधान रहने की ज़रूरत होगी.

IND vs SA : इन पांच खिलाड़ियों को 'निशाने' पर रखेगी दक्षिण अफ्रीकी टीम...

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच पहला टेस्ट मैच 5 जनवरी से केपटाउन में शुरू होगा.

नई दिल्ली:

सचिन तेंदुलकर ने एक अख़बार को दिए गए इंटरव्यू में कहा है कि भारतीय कामयाबी बहुत हद तक इस बात पर निर्भर करेगी कि टीम नई गेंद का कैसे सामना करती है. दक्षिण अफ़्रीकी मीडिया ने भी टीम-इंडिया पर पैनी नज़र बना रखी है. उनके मुताबिक टीम में विराट कोहली के अलावा भी कई खिलाड़ी हैं जो ख़तरनाक साबित हो सकते हैं. द.अफ़्रीकी मीडिया के मुताबिक मेज़बान टीम को एक नहीं भारत के 'पांच सितारों' से सावधान रहने की ज़रूरत होगी.

यह भी पढ़ें : IND vs SA: केपटाउन टेस्‍ट के पहले टीम इंडिया के लिए एक अच्‍छी और एक बुरी खबर

1. विराट कोहली : फ़ॉर्म में रहें तो बेहद ख़तरनाक
पहले टेस्ट से पहले विराट कोहली ने अपने फ़ैन्स के लिए केपटाउन से 'विरुष्का' की तस्वीरें पोस्ट की हैं, लेकिन दक्षिण अफ़्रीकी टीम इसे लेकर अपना ध्यान नहीं भटका रही. मेज़बान देश की मीडिया का मानना है कि कप्तानी करते हुए विराट कोहली स्टीवन स्मिथ की तरह ही बेहद ख़तरनाक साबित होते हैं. उनके मुताबिक ज़िम्मेदारी का दबाव बल्लेबाज़ विराट को और निखार देता है. विराट स्पिन और स्पीड दोनों का सामना उतनी ही बखूबी से करते हैं. उनमें इतिहास रचने का माद्दा है. अगर विराट अपने बेहतरीन फ़ॉर्म में हों तो किसी भी विपक्ष की नाक में दम कर सकते हैं. 

यह भी पढ़ें : AUS vs ENG: तूफानी बल्‍लेबाज ग्‍लेन मैक्‍सवेल को ऑस्‍ट्रेलिया की वनडे टीम से बाहर किया गया

2. अजिंक्य रहाणे : टीम के सबसे संयत बल्लेबाज़ 
टीम इंडिया की नई दीवार अजिंक्य रहाणे की तुलना वहां राहुल द्रविड़ से की जा रही है. दो साल पहले जब द.अफ़्रीकी टीम ने भारत का दौरा किया तो रहाणे ने टीम को सीरीज़ में जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी. पिछली बार 2013 में डरबन टेस्ट के दौरान दोनों पारियों में रहाणे ने 51 नाबाद और 96 रनों की पारी खेलकर अपना रुतबा ऊंचा कर लिया था. उन्हें भारत का सबसे ऑर्गेनाइज़्ड यानी संयत बल्लेबाज़ माना जा रहा है. रहाणे के लिए श्रीलंका के ख़िलाफ़ पिछली सीरीज़ अच्छी साबित नहीं हुई. वहां वो 5 पारियों में 17 रन ही बटोर सके. रहाणे के फ़ॉर्म में लौटने का वक्त है, द.अफ़्रीकी टीम उन्हें शुरुआत में ही बांधने की कोशिश करेगी. 

यह भी पढ़ें : IND vs SA: दक्षिण अफ्रीका टीम को झटका, पहले टेस्‍ट में नहीं खेल पाएगा यह प्रमुख गेंदबाज!

3. रोहित शर्मा: अलग क्लास, द.अफ़्रीका में बड़ा इम्तिहान 
द.अफ़्रीकी मीडिया रोहित शर्मा की कलाइयों के इस्तेमाल के कायल दिख रही है. उन्होंने उनकी तुलना मो. अज़हरुद्दीन और वीवीएस लक्ष्मण जैसे खिलाड़ियों से की है. उनके मुताबिक रोहित विदेशी पिचों पर और ख़तरनाक साबित हो सकते हैं. रोहित शर्मा के लिए खुद को को विदेश में और ख़ासकर साबित करने की ज़रूरत होगी. 2013 के द.अफ़्रीकी दौरे पर रोहित शर्मा ने चार पारियों में 14, 6, 0 और 25 रनों की पारियों खेलीं. 23 टेस्ट में रोहित ने 42.45 के औसत से 3 शतकों के सहारे 1401 रन बनाए हैं. विदेश में रोहित के नाम 14 टेस्ट में 26.33 के औसत से 632 रन हैं. रोहित के लिए वाकई ये बड़ा इम्तिहान है. 

यह भी पढ़ें : IND vs SA: 'घर का शेर' कहे जाने वाले चेतेश्‍वर पुजारा क्या विदेश में भी दहाड़ेंगे?

4. रविचंद्रन अश्विन : द.अफ़्रीका में अलग प्रदर्शन की उम्मीद
रविचंद्रन अश्विन दक्षिण अफ़्रीकी टीम को भारतीय दौरे पर धूल चटा चुके हैं. भारत में अश्विन ने जडेजा के साथ टीम की सीरीज़ जीत में अहम योगदान दिया था. अश्विन दक्षिण अफ़्रीका की उछाल भरी पिचों का पूरा फ़ायदा उठा सकते हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO :  बैंड, बाजा और बारात के बाद अब विराट की नजर दक्षिण अफ्रीकी दौरे पर

5. मो. शमी : हुनरमंद गेंदबाज़ से उम्मीद
मेज़बान देश की मीडिया भी मानती है कि भारत के मो. शमी जैसे पेसर्स अपने हुनर से नई गेंद से भी कमाल कर सकते हैं. मो. शमी की स्विंग करने की क्षमता उन्हें और भी ख़तरनाक बना देती है. वहां की मीडिया के मुताबिक दक्षिण अफ़्रीकी ग्राउंड्समैन को पेसर्स की मददगार पिच बनाने के निर्देश दिए गए हैं. मो. शमी, भुवनेश्वर, उमेश यादव और ईशांत शर्मा के लिए चमकने का मौक़ा तो है ही, जसप्रीत बुमराह ज़रूर इन पिचों पर हाथ आज़माने के मौक़े की तलाश में होंगे.