NDTV Khabar

कोलंबो टेस्ट : श्रीलंका ने रिकॉर्ड लक्ष्य का पीछा करते हुए जिंबाब्वे को हराया

गुणारत्ने (नाबाद 80) और डिकवेला (81) के बीच छठे विकेट की 121 रन की साझेदारी की बदौलत श्रीलंका ने अपना सबसे बड़ा लक्ष्य हासिल किया.

162 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कोलंबो टेस्ट : श्रीलंका ने रिकॉर्ड लक्ष्य का पीछा करते हुए जिंबाब्वे को हराया

श्रीलंका ने एकमात्र टेस्ट के पांचवें और अंतिम दिन जिंबाब्वे को चार विकेट से हरा दिया

कोलंबो: निरोशन डिकवेला और असेला गुणारत्ने की शानदार पारियों की बदौलत श्रीलंका ने 388 रन के रिकॉर्ड लक्ष्य का पीछा करते हुए मंगलवार को एकमात्र टेस्ट के पांचवें और अंतिम दिन जिंबाब्वे को चार विकेट से हरा दिया.

गुणारत्ने (नाबाद 80) और डिकवेला (81) के बीच छठे विकेट की 121 रन की साझेदारी की बदौलत श्रीलंका ने अपना सबसे बड़ा लक्ष्य हासिल किया. इससे पहले श्रीलंका का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2006 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ था, जब उसने 352 रन का लक्ष्य हासिल किया था. यह एशिया में हासिल किया गया सबसे बड़ा लक्ष्य और टेस्ट मैचों में पांचवां सबसे बड़ा लक्ष्य है.

वनडे सीरीज की हार का लिया बदला
डिकवेला के आउट होने के बाद मैन ऑफ द मैच गुणारत्ने ने दिलरुवान परेरा (नाबाद 29) के साथ 67 रन की अटूट साझेदारी करके टीम को जीत दिलाई. नए कप्तान दिनेश चांदीमल की अगुआई में इस तरह श्रीलंका की टीम वनडे सीरीज में इसी टीम के खिलाफ 2-3 की हार से भी उबरने में सफल रही. जिंबाब्वे के कप्तान ग्रीम केमर ने दूसरी पारी में 4 और मैच में कुल 275 रन देकर 9 विकेट चटकाए.

यह भी पढ़ें
श्रीलंकाई क्रिकेट में मुरलीधरन के बाद एक और 'नगीना', कुंबले के रिकॉर्ड की बराबरी कर सबका ध्यान खींचा

गुणारत्ने ने 151 गेंद की अपनी पारी के दौरान छह चौके मारे. विकेटकीपर बल्लेबाज डिकवेला ने बायें हाथ के स्पिनर सीन विलियम्स की गेंद पर विकेट के पीछे कैच थमाने से पहले अपने भाग्य की बदौलत 81 रन बनाए. विकेटकीपर रेगिस चकाबवा ने सिकंदर रजा की गेंद पर 37 रन के स्कोर पर उन्हें स्टंप करने का मौका गंवाया, जबकि 63 रन पर उनका कैच भी नहीं लपक पाए.

SLvsZIM : क्रेग इर्विन के नाबाद शतक से जिम्‍बाब्‍वे मजबूत, टेस्‍ट के पहले दिन बने यह रिकॉर्ड

स्टंपिंग चूकना जिंबाब्वे को काफी भरी पड़ा. इस फैसले को तीसरे अंपायर के पास भेजा गया, जिन्होंने बल्लेबाज को नॉटआउट करा दिया, जबकि रीप्ले में दिखा की पैर लाइन पर था और ऐसे मामले में बल्लेबाज को आउट दिया जा सकता था.

डिकवेला-गुणारत्ने ने पहुंचाया लक्ष्य के करीब
इससे पहले श्रीलंका ने दिन की शुरुआत तीन विकेट पर 170 रन से की. क्रीमर ने सोमवार के नाबाद बल्लेबाज कुसाल मेंडिस (66) को जल्द पैवेलियन भेजा और फिर एंजेलो मैथ्यूज (25) को अपनी ही गेंद पर लपका, जिसके बाद डिकवेला और गुणारत्ने मेजबान टीम को लक्ष्य के करीब ले गए. श्रीलंका अब दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम भारत की तीन टेस्ट, पांच एकदिवसीय और एक टी-20 मैच के लिए मेजबानी करेगा.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement