NDTV Khabar

श्रीलंका टीम का अभ्‍यास मैच कल से, बोर्ड अध्‍यक्ष एकादश का मुकाबला करेगी

भारत में अपना पहला टेस्ट मैच जीतने की उम्मीद के साथ यहां पहुंची श्रीलंका की टीम इस कड़ी सीरीज की शुरुआत कल से यहां बोर्ड अध्यक्ष एकादश के खिलाफ दो दिवसीय अभ्यास मैच से करेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
श्रीलंका टीम का अभ्‍यास मैच कल से, बोर्ड अध्‍यक्ष एकादश का मुकाबला करेगी

श्रीलंका टीम इस अभ्‍यास मैच में जीत के साथ भारत दौरे की शुरुआत करना चाहेगी (AFP फोटो)

खास बातें

  1. भारत में अब तक कोई टेस्‍ट नहीं जीती है श्रीलंका टीम
  2. प्रैक्टिस मैच में जीत के साथ शुरुआत करना चाहेगी
  3. बोर्ड अध्‍यक्ष एकादश की कप्‍तानी संजू सैमसन करेंगे
कोलकाता: भारत में अपना पहला टेस्ट मैच जीतने की उम्मीद के साथ यहां पहुंची श्रीलंका की टीम इस कड़ी सीरीज की शुरुआत कल से यहां बोर्ड अध्यक्ष एकादश के खिलाफ दो दिवसीय अभ्यास मैच से करेगी. श्रीलंका 2009 के बाद भारत में पहला टेस्ट मैच खेलेगा. उसका भारतीय सरजमीं पर बहुत खराब रिकॉर्ड रहा है. उसने अब तक भारत में जो 17 टेस्ट मैच खेले हैं उनमें से दस में उसे हार मिली है और बाकी सात मैच ड्रॉ रहे हैं. कप्तान दिनेश चंदीमल के लिए यह बहुत मुश्किल काम होगा. वह भारतीय सरजमीं पर अपना पहला टेस्ट मैच भी खेलेंगे. वह एंजेलो मैथ्यूज और रंगना हेराथ के अनुभव का फायदा उठाने की कोशिश करेंगे जो सात साल पहले 0-2 से टेस्ट सीरीज हारने वाली टीम का हिस्सा थे.

यह भी पढ़ें: धोनी के समर्थन में कोच शास्‍त्री, कहा-कुछ ईर्ष्‍यालु चाहते हैं उनका करियर खत्‍म हो जाए अपनी सरजमीं पर भारत के हाथों तीनों प्रारूप में 0-9 से करारी शिकस्त झेलने वाली श्रीलंका की टीम उसके लगभग दो महीने के बाद यहां पहुंची है लेकिन इस बीच उसने पिछले महीने पाकिस्तान को यूएई में 2-0 से हराया जिससे निश्चित तौर पर उसका मनोबल बढ़ा होगा. श्रीलंका की टीम इस दौरे में तीन टेस्ट, तीन वनडे और इतने ही टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलेगी. दौरे का समापन 24 दिसंबर को मुंबई में होगा. चंदीमल और उनकी टीम को तीसरी श्रेणी के बोर्ड अध्यक्ष एकादश के खिलाफ अच्छी शुरुआत की उम्मीद होगी. संजू सैमसन इस मैच में बोर्ड अध्यक्ष एकादश की अगुवाई करेंगे. मैच जाधवपुर यूनिवर्सिटी मैदान पर खेला जाएगा जहां की पिच तेज गेंदबाजों की मददगार मानी जाती है.

बोर्ड ने रणजी ट्रॉफी को महत्व देते हुए इस मैच के लिए तीसरे दर्जे की टीम का चयन किया है. टीम में मुख्य रूप से हैदराबाद, केरल, मध्यप्रदेश और पंजाब के खिलाड़ी शामिल हैं जो घरेलू टूर्नामेंट के पांचवें चरण में नहीं खेल रहे हैं. ऐसी स्थिति में श्रीलंका को अच्छा मैच अभ्यास मिल पाएगा इसकी संभावना कम नजर आती है. श्रीलंका के खिलाड़ियों में निगाहें पूर्व कप्तान और आलराउंडर मैथ्यूज पर टिकी रहेंगी जो पाकिस्तान सीरीज से बाहर रहने के बाद वापसी कर रहे हैं. पिंडली की मांसपेशियों में खिंचाव से उबरने के बाद मैथ्यूज अब पूरी तरह से फिट है और ईडन गार्डन्स में 16 से 20 नवंबर के बीच होने वाले पहले टेस्ट मैच से पूर्व लय हासिल करना चाहेंगे. पाकिस्तान के खिलाफ 16 विकेट लेने वाले अनुभवी स्पिनर रंगना हेराथ यहां भी अपनी उसी फॉर्म को बरकरार रखने की कोशिश करेंगे. उनका साथ देने के लिए चाइनामैन लक्षण संदाकन हैं जिन्होंने भारत के खिलाफ पल्लेकल टेस्ट मैच में पांच विकेट लिए थे.

वीडियो: गावस्‍कर ने इस अंदाज में की विराट कोहली की प्रशंसा
बोर्ड अध्यक्ष की टीम की पंजाब के युवा बल्लेबाज अनमोलप्रीत सिंह भी शामिल हैं जिन्होंने छत्तीसगढ़ के खिलाफ रणजी मैच में 267 रन बनाए थे. पंजाब के सलामी बल्लेबाज जीवनजोत सिंह को भी इस टीम में जगह मिली है. बल्लेबाजी विभाग के अन्य सदस्यों में बी. संदीप, तन्मय अग्रवाल और रोहन प्रेम शामिल हैं. तेज गेंदबाजी विभाग का जिम्मा केरल के संदीप वारियर और मध्यप्रदेश के अवेश खान संभालेंगे. केरल की तरफ से खेल रहे मध्यप्रदेश के आलराउंडर जलज सक्सेना स्पिन विभाग की अगुवाई करेंगे जिसमें उन्हें हैदराबाद के बायें हाथ के स्पिनर आकाश भंडारी का सहयोग मिलेगा. पूर्व लेग स्पिनर नरेंद्र हिरवानी टीम के कोच होंगे.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement