NDTV Khabar

श्रीलंकाई टीम हमले के 8 साल बाद करेगी पाक का दौरा, क्रिकेट बोर्ड ने दी मंजूरी 

श्रीलंका क्रिकेट प्रमुख तिलंगा सुमतिपाला ने सुरक्षा आकलन के बाद कहा कि टीम को तीन टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने के लिए हरी झंडी दी गई है. इसमें से कम से कम एक मैच लाहौर में खेला जाएगा, जहां 2009 में टीम पर आतंकी हमला हुआ था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
श्रीलंकाई टीम हमले के 8 साल बाद करेगी पाक का दौरा, क्रिकेट बोर्ड ने दी मंजूरी 

2009 में पाकिस्तान में श्रीलंकाई टीम पर हुआ था हमला. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. श्रीलंकाई टीम की बस पर 2009 में पाकिस्तान में हुआ था हमला
  2. हमले में 6 सुरक्षाकर्मी और 2 आम लोगों की हो गई थी मौत
  3. हमले के बाद से शीर्ष टीमों ने नहीं किया है पाक का दौरा
कोलंबो:

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने पाकिस्तान में अपनी टीम पर हुए आतंकी हमले के 8 साल बाद पाक का क्रिकेट दौरा करने को मंजूरी दे दी है. इस हमले के बाद शीर्ष टीमों ने पाकिस्तान का दौरा बंद कर दिया था. श्रीलंका बोर्ड के अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी. श्रीलंका क्रिकेट प्रमुख तिलंगा सुमतिपाला ने सुरक्षा आकलन के बाद कहा कि टीम को तीन टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने के लिए हरी झंडी दी गई है. इसमें से कम से कम एक मैच लाहौर में खेला जाएगा, जहां 2009 में टीम पर आतंकी हमला हुआ था. हमले में 8 लोगों की मौत हो गई थी. 

यह भी पढ़ें : 2009 में श्रीलंका क्रिकेट टीम पर हमले की साजिश रचने वाला पाकिस्‍तानी आतंकी मारा गया

सरकार की मंजूरी जरूरी
टीम को किसी भी विदेशी दौरे पर भेजने से पहले सरकार की मंजूरी की जरूरत होगी.  सुमतिपाला ने कहा, हमने अपने सुरक्षा विशेषज्ञों को दौरा करने के लिए भेजा और आकलन कराया. उन्हें चीजें सकारात्मक दिखीं और पूरे देश में चीजों में सुधार हो रहा है. विशेषकर लाहौर में. इसके लिए हरी झंडी दे दी गई है. 


यह भी पढ़ें  आतंकियों की गोलियां खाने वाला अंपायर मैदान में उतरने को तैयार

VIDEO: श्रीलंका के खिलाफ टीम इंडिया ने जीती टेस्‍ट सीरीज, जडेजा चमके 

टिप्पणियां

6 खिलाड़ी हुए थे घायल
श्रीलंका की टीम इससे पहले 2009 में पाकिस्तान दौरे पर गई थी. वहां लाहौर में मेहमान टीम को लेकर जा रही एक बस पर आतंकवादियों ने हमला कर दिया था. हमले में श्रीलंका के 6 खिलाड़ी घायल हो गए थे. इसके अलावा 6 सुरक्षाकर्मियों और 2 नागरिकों की मौत हो गई थी.  

इनपुट : भाषा



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement