दिग्गज बेदी ने 'कप्तान विराट' को लेकर दिया यह बड़ा बयान, बोले कि....

बेदी ने लिखा कि मैने ऑस्ट्रेलिया दौरे में रहाणे को टाइगर के बहुत ज्यादा नजदीक पाया. कप्तानी का एक बड़ा गुण अपने संसाधनों का उचित इस्तेमाल करना है. और यह वह पहलू रहा, जिसमें ऑस्ट्रेलिया दौरे में रहाणे ने मुझे उसका मुरीद बना दिया. तीन टेस्ट रहाणे के गेंदबाजी बदलाव और फील्डिंग सजाने की योग्यता को लेकर समझने के लिए काफी हैं.

दिग्गज बेदी ने 'कप्तान विराट' को लेकर दिया यह बड़ा बयान, बोले कि....

बिशन सिंह बेदी खरी-खरी बोलने के लिए जाने जाते हैं

नई दिल्ली:

खरी-खरी और साफ बोलने के लिए मशहूर भारत के दिग्गजों में से एक और पूर्व कप्तान बिशन सिंह बेदी (Bishan Singh Bedi) ने ऑस्ट्रेलियाई जमीन पर अपनी कप्तानी में भारत को 2-1 से जीत दिलाने वाले अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की कप्तानी की जमकर तारीफ की है. वैसे इस दौरे के बाद शायद ही कोई ऐसा छोर रहा हो, जहां से रहाणे के लिए तारीफ न आयी हो. हालात तो यहां तक पहुंच गए कि टेस्ट में रहाणे (Ajinkya Rahane) को भारत का कप्तान होना चाहिए. और बिंशन सिंह बेदी ने भी कुछ ऐसा ही सुर लगाया है.  साथ ही, बेदी ने "कप्तान विराट कोहली' को लेकर बड़ा बयान दिया है, जो पहले शायद ही कोई इतना खुलकर बोला हो. 

यह भी पढ़ें:  घर लौटने पर अजिंक्य रहाणे के दोस्तों-पड़ोसियों ने किया ऐसा जोरदार स्वागत, VIDEO

बेदी ने कहा कि निजी रूप से मैं कप्तानी की कप्तानी का कायल हो गया हूं, जिस तरह बिखरी और चोटिल टीम का रहाणे ने नेतृत्व किया और अपनी कप्तानी में जीत दिलायी, वह एक बेमिसाल  और अपने आप में एक शानदार उदाहरण है और रहाणे की कप्तानी ने मुझे दौरे में टाइगर पटौदी की याद दिला दी. बेदी ने एक अखबार के लिए लिखे कॉलम में कहा कि यह टाइगर पटौदी ही थे, जो हमारी क्रिकेट में 'भारतीयता' लेकर आए और हम सभी खिलाड़ियों को एकजुट किया. 

यह भी पढ़ें: लगी चोटों पर पुजारा दो साल की बेटी की मासूम प्रतिक्रिया से हुए भावुक, आप भी इमोशनल हो जाएंगे

बेदी ने लिखा कि मैने ऑस्ट्रेलिया दौरे में रहाणे को टाइगर के बहुत ज्यादा नजदीक पाया. कप्तानी का एक बड़ा गुण अपने संसाधनों का उचित इस्तेमाल करना है. और यह वह पहलू रहा, जिसमें ऑस्ट्रेलिया दौरे में रहाणे ने मुझे उसका मुरीद बना दिया. तीन टेस्ट रहाणे के गेंदबाजी बदलाव और फील्डिंग सजाने की योग्यता को लेकर समझने के लिए काफी हैं. मैंने बहुत ढूंढने की कोशिश की, लेकिन मेरे जैसा कड़ा आलोचक भी उनकी कप्तानी में कोई दोष नहीं ढूंढ सका.

यह भी पढ़ें: बीसीए ने क्रुणाल पंड्या संग विवाद में दीपक हुड्डा का पाया दोषी, दी यह सजा, लेकिन...


बेदी बोले कि अब भारत को महान विराट बल्लेबाज और साधारण कप्तान में से एक को चुनने की जरूरत है. यहां पर बात मेरे रहाणे का समर्थन करने की नहीं है, बल्कि मेरा उद्देश्य यह है कि विराट का बतौर बल्लेबाज करियर भारत के लिए लंबा चले. पूर्व कप्तान बोले एक बात और मेरे जहन में आती है कि वह भारत को महान विराट बल्लेबाज की ज्यादा जरूरत है या साधारण कप्तान की. यहां विकल्प भी हैं और इसके तहत रहाणे टेस्ट में कप्तानी कर सकते हैं, जबकि रोहित शर्मा सफेद गेंद के फॉर्मेट में, लेकिन मुझे नहीं लगता कि कोई भी सेलेक्टर यह जिम्मेदारी लेना चाहगेा. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ा ऐलान किया था.