NDTV Khabar

ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व कप्‍तान स्‍टीव वॉ बोले, 'दक्षिण अफ्रीका में विराट कोहली कुछ ज्‍यादा ही आक्रामक थे'

विराट कोहली की कप्‍तानी में टीम इंडिया ने जबर्दस्‍त प्रदर्शन करते हुए वनडे और टी20 सीरीज अपने नाम की. टीम इंडिया ने पहली बार दक्षिण अफ्रीका में दो सीरीज अपने नाम की हैं.

86 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व कप्‍तान स्‍टीव वॉ बोले, 'दक्षिण अफ्रीका में विराट कोहली कुछ ज्‍यादा ही आक्रामक थे'

स्‍टीव वॉ ने कहा कि विराट कोहली को यह समझना होगा कि कुछ खिलाड़ी स्‍वभाव में उनसे अलग हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा- कप्‍तान के रूप में वे अभी सीखने की प्रक्रिया में हैं
  2. उन्‍हें भावनाओं को काबू करने के लिए समय चाहिए
  3. उन्‍हें समझना होगा, सभी खिलाड़ी इस तरह नहीं खेल सकते
विराट कोहली की कप्‍तानी में टीम इंडिया ने जबर्दस्‍त प्रदर्शन करते हुए वनडे और टी20 सीरीज अपने नाम की. टीम इंडिया ने पहली बार दक्षिण अफ्रीका में दो सीरीज अपने नाम की हैं. इस प्रदर्शन में 29 वर्षीय विराट कोहली की बल्‍लेबाजी का खास योगदान रहा. ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व कप्‍तान स्‍टीव वॉ ने कोहली के करिश्‍माई प्रदर्शन और टीम इंडिया को शीर्ष स्‍थान पर पहुंचाने के लिए उनके जुनून को जमकर सराहा. हालांकि स्‍टीव इस दौरान यह कहने से नहीं चूके कि दक्षिण अफ्रीका में अपनी भावनाओं का इजहार करने में विराट कुछ ज्‍यादा ही आक्रामक थे.लॉरेस विश्‍व खेल पुरस्‍कारों के इतर  PTI को दिए खास इंटरव्‍यू में स्‍टीव वॉ ने कहा, 'मैंने दक्षिण अफ्रीका में कोहली को देखा. मेरा मानना है कि वह कुछ ज्‍यादा ही आक्रामक थे. यह कप्‍तान के लिहाज से सीखने वाली बात है. ' वॉ ने कहा कि कप्‍तान के रूप में विराट अभी भी सीखने की प्रक्रिया में हैं. और अपने रोमांच और भावनाओं को काबू में रखने के लिए उसे कुछ समय चाहिए लेकिन वह इसी खेलता है. वॉ ने कहा, 'मुझे लगता है कि उसे सिर्फ इतना समझने की जरूरत है कि टीम में सभी लोग इस तरह नहीं खेल सकते.' उन्‍होंने कहा कि अजिंक्‍य रहाणे और चेतेश्‍वर पुजारा जैसे खिलाड़ी बेहद शांत हैं. ऐसे में उन्‍हें यह समझना होगा कि कुछ खिलाड़ी स्‍वभाव में उनसे अलग हैं. वैसे स्‍टीव यह कहने से नहीं चूके कि वे खिलाड़ी के रूप में विराट का बेहद सम्‍मान करते हैं. उन्‍होंने कहा, वह टीम का बहुत अच्‍छे से नेतृत्‍व कर रहा है. उसमें वह करिश्मा और एक्स फेक्टर है और इसलिए वह चाहता है कि बाकी टीम भी उसका अनुसरण करे. वह (विराट) चाहता है कि टीम हमेशा सकारात्मक होकर खेले और जितनी जल्दी हो सके, जीत दर्ज करे. स्‍टीव ने कहा, पिछले कुछ वर्षों में खेल के सभी प्रारूपों में उसका जीत का रिकॉर्ड काफी अच्छा रहा है. विराट की अपनी टीम के लिए बड़ी महत्वाकांक्षाएं हैं. वह सभी प्रारूपों में नंबर एक बनना चाहता है जो आज के समय में काफी मुश्किल है.
वीडियो: गावस्‍कर ने इस अंदाज में की विराट कोहली की तारीफ
कोहली और टीम इंडिया की निगाह अब आगामी इंग्‍लैड और ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर टिकी है. भारतीय टीम इंग्‍लैंड के खिलाफ पांच टेस्‍ट की सीरीज खेलेगी जबकि ऑस्‍ट्रेलिया में उसे चार टेस्‍ट की सीरीज खेलनी है. वॉ ने कहा कि ऑस्‍ट्रेलिया में ऑस्‍ट्रेलियाई टीम ही जीत की दावेदारी होगी क्‍योंकि उसका घर में बेहतरीन रिकॉर्ड है. ठीक उसी तरह जैसा भारतीय टीम का अपने घरेलू मैदान में है. विराट का प्रदर्शन ऑस्‍ट्रेलिया में भारतीय टीम के लिहाज से महत्‍वपूर्ण होगा. ऑस्‍ट्रेलिया में पिछली बार विराट ने जोरदार प्रदर्शन किया था. (इनपुट: PTI)

टिप्पणियां

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement