5 अलग-अलग प्रतिद्वंद्वी, 5 महादेश और चैंपियन एक...कोई शक?

5 अलग-अलग प्रतिद्वंद्वी, 5 महादेश और चैंपियन एक...कोई शक?

नई दिल्‍ली:

ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड के बीच खेला गया वर्ल्ड कप फ़ाइनल एकतरफा ही साबित हुआ। न्यूज़ीलैंड की टीम फ़ाइनल में उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाई। ऐसा लगा कि टीम सेमीफ़ाइनल के अपने प्रदर्शन के दौरान ही इतना निचुड़ गई कि फ़ाइनल मुक़ाबले के दबाव के सामने उठ नहीं पाई।

वहीं दूसरी ओर ऑस्ट्रेलिया ने उम्मीद के मुताबिक जोरदार प्रदर्शन करते हुए पांचवीं बार वर्ल्ड कप जीतने का करिश्मा कर दिखाया। दरअसल ऑस्ट्रेलिया के पांचों वर्ल्ड कप जीतने के कारनामे पर आप नजर डालेंगे तो आपको विश्व क्रिकेट में ऑस्ट्रेलियाई बादशाहत पर शक करने की कोई वजह नहीं मिलेगी।

दरअसल ऑस्ट्रेलिया ने अब तक जो पांचों वर्ल्ड कप जीते हैं, उसमें फ़ाइनल मुक़ाबले में उन्होंने अलग-अलग प्रतिद्वंदी टीमों को हराया है। इतना ही नहीं ऑस्ट्रेलिया ने पांचों बार वर्ल्ड कप जीतने का कारनामा अलग-अलग महादेश में किया है। यकीन नहीं हो तो ऑस्ट्रेलिया की कामयाबी पर एक नज़र डाल लेते हैं-

1. 1987 में पहली कामयाबी- ऑस्ट्रेलिया ने कोलकाता के ईडेन गार्डेन में खेले गए वर्ल्ड कप फ़ाइनल में इंग्लैंड को 7 रन से हराया। ये वर्ल्ड कप भारत में हुआ था, यानी ऑस्ट्रेलिया ने एशिया में वर्ल्ड कप जीता।
 

2. 1999 में दूसरी कामयाबी- ऑस्ट्रेलिया ने इस बार इंग्लैंड के लॉर्ड्स में खेले गए फ़ाइनल मुक़ाबले में पाकिस्तान को 8 विकेट से हराया। ऑस्ट्रेलिया ने यूरोप में क्रिकेट का वर्ल्ड कप जीता।

3. 2003 में तीसरी कामयाबी- ऑस्ट्रेलिया ने जोहानिसबर्ग में खेले गए फ़ाइनल मुक़ाबले में भारत को 125 रन से हराकर वर्ल्ड कप का खिताब जीता। ये वर्ल्ड कप दक्षिण अफ्रीका में आयोजित हुआ था, यानी ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट की बादशाहत अफ्रीकी महादेश में भी दिखी।

4. 2007 में चौथी कामयाबी- ऑस्ट्रेलिया ने इस बार वर्ल्ड कप फ़ाइनल में श्रीलंका को 53 रन से हराकर खिताब जीता। ये वर्ल्ड कप वेस्टइंडीज़ में आयोजित हुआ था, यानी अमरीकी महाद्वीप में भी ऑस्ट्रेलियाई टीम ने झंडे गाड़ दिए।

5. 2015 में पांचवीं कामयाबी- ऑस्ट्रेलिया ने इस बार घरेलू मैदान यानी ऑस्ट्रेलियाई महादेश में न्यूजीलैंड को 7 विकेट से हराकर वर्ल्ड कप का खिताब जीता।

बीते पांच वर्ल्ड कप में से चार जीतने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम की बादशाहत पर शक की कोई गुंजाइश नहीं बचती।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com